ए आर रहमान के जीवन से जुड़े यह तथ्य आप नहीं जानते होंगे

531

भारत में शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति हो जो ए आर रहमान को नहीं जानता हो लेकिन आज हम आपको ए आर रहमान के जीवन से जुड़े कुछ ऐसे तथ्य बताएंगे जो शायद आप नहीं जानते तो चलिए में विस्तारपूर्वक जानते हैं।

A R रहमान का असली नाम दिलीप कुमार है यह बात बहुत कम लोग जानते हैं।

A R रहमान एक कंपोजर, म्यूजिक प्रोड्यूसर, सिंगर, सॉन्ग राइटर म्यूजीशियन सब कुछ है।

1980 में ए आर रहमान ने अपना टीवी डेब्यू दूरदर्शन के एक बच्चों के प्रोग्राम वंडर बैलून से किया था। वह इस शो से काफी पॉपुलर हो गए थे क्योंकि इस शो में उन्होंने 4 कीबोर्ड से धुनें बजाई थी और उस समय उनकी उम्र मात्र 13 वर्ष थी।

ए आर रहमान ने अपना स्कूल 15 वर्ष की उम्र में छोड़ दिया था क्योंकि उनकी अटेंडेंस पूरी नहीं थी और उन्होंने अपनी स्कूलिंग भी कंप्लीट नहीं की है।

आपको यह बात जानकर हैरत होगी लेकिन ए आर रहमान एक कंप्यूटर इंजीनियर बनना चाहते थे।

ए आर रहमान और उनके बेटे का जन्मदिन एक ही दिन आता है।

ओंटारियो कनाडा में एक सड़क का नाम अल्लाह रक्खा रहमान रखा गया है।

रहमान ने विदेशों में भी म्यूजिक दिया है उन्होंने कई हॉलीवुड फिल्म्स में भी अपना म्यूजिक दिया है .इसमें से कई चर्चित फिल्म जैसे 127 आवर्स, स्लमडॉग मिलेनियर, लॉर्ड ऑफ वॉर, मिलियन डॉलर आर्म इत्यादि है।

2007 में रहमान को लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड के द्वारा “इंडियन ऑफ द ईयर फोर कंट्रीब्यूशन टू पॉपुलर म्यूजिक” का अवार्ड दिया गया था।

लोगों का सपना होता है कि वह फिल्म फेयर अवार्ड जीते लेकिन ए आर रहमान के पास 15 फिल्म फेयर अवार्ड है।

आज तक ए आर रहमान 138 अवार्ड नॉमिनेशन में गए हैं जिनमें से 125 उन्होंने जीते हैं।

वह पहले एशियन है जो ऑस्कर अवॉर्ड जीत चुके हैं।

Airtel द्वारा बनाई गई सिग्नेचर ट्यून को ए आर रहमान ने ही कंपोज किया था इस सिग्नेचर ट्यून के डेढ़ सो मिलियन डाउनलोड हुए थे।

2005 में ए आर रहमान का गाना टाइम्स के 10 बेस्ट साउंड ट्रेक्स में शामिल किया गया था यह फिल्म थी रोजा। इसके बाद 2009 में टाइम्स मैगजीन द्वारा वर्ल्ड मोस्ट Influential पीपल में ए आर रहमान को शामिल किया गया था।

ए आर रहमान को 5 बार डॉक्टरेट की उपाधि से नवाजा गया है ए आर रहमान को पद्मश्री पद्म भूषण अवार्ड भी भारतीय सरकार द्वारा दिए जा चुके हैं।

Add a comment