कभी जल्दबाजी ना करें वरना भुगतने पड़ेंगे ये नुकसान

192

हर एक काम को समय पर और पूरी कुशलता से निपटाना एक गुण होता है जबकि जल्दबाज़ी में काम खत्म करना हमेशा नुकसान ही पहुंचाता है। जल्दबाज़ी चाहे घर से दफ़्तर के लिए निकलने की हो या फिर किसी मिशन को पूरा कर लेने की, वो कभी भी फायदेमंद नहीं हो सकती। आपने वो कहावत शायद सुनी हो- जल्दबाज़ी में अक्सर देरी ही होती है। यानि जल्दी जल्दी काम ख़त्म करने की कोशिश में हम उस काम को बिगाड़ देते है और उसे फिर से ठीक करने में हमें पहले से कहीं अधिक श्रम करना पड़ता है। आपने शायद कभी गौर न किया हो कि जल्दबाज़ी आपको किस तरह नुकसान पंहुचा सकती है। तो आइये, आज आपको बताते है जल्दबाज़ी करने से होने वाले नुकसान –

अस्थिर मन –
हर काम को जल्दी जल्दी निपटाने की चाहत कब आदत का रूप ले लेती है, ये आपको पता भी नहीं चलता और इसके चलते आपके दिमाग में ढेरों विचार चलते रहते हैं जो मन को अस्थिर करते है और आपके मन में बेचैनी जैसी स्थिति हमेशा बनी रहती है।

काम में निपुणता की कमी –
आप चाहते तो है कि अपने हर काम को पूरी निपुणता के साथ पूरा करे लेकिन जल्दबाज़ी करने की आपकी आदत काम को फटाफट निपटा देने के लिए प्रेरित करती है जिसके फलस्वरूप न चाहकर भी आपके काम में अस्पष्टता बनी रहती है जो आपकी कुशलता को बाधित करती है।

तनाव की स्थिति –
किसी भी काम को संयम से किया जाए तो वो समय पर पूरा होने के साथ साथ बेहतरीन रूप से भी हो जाता है लेकिन जल्दबाज़ी करने से वो काम तो बिगड़ता है ही साथ ही दिमाग में तनाव की स्थिति लगातार बनी रहती है जो आपके शरीर और मन दोनों को हानि पहुँचाती है।

सही निर्णय लेने में असमर्थता –
कोई भी कार्य सही ढंग से करने के लिए उससे जुड़े निर्णयों का सही होना जरुरी होता है और सही निर्णय लेने के लिए शांत दिमाग और तर्कशीलता की आवश्यकता पड़ती है लेकिन जल्दबाज़ी करने की आदत आपको सही निर्णय के बारे में सोचने का समय ही नहीं देती और आप हर काम को बिना सोचे समझे ही अंजाम दे देते है।

अच्छे श्रोता नहीं बन पाना –
अगर आप सफल होना चाहते है तो आपका एक अच्छा श्रोता बनना बेहद जरुरी है जो दूसरों की बातों को सुने और उनका सही अर्थ समझकर उसके अनुसार व्यवहार करे लेकिन जल्दबाज़ी की आदत के चलते आप सामने वाले की बात को न तो पूरा सुन पाते है न ही उसका सही अर्थ समझ पाते है। ऐसी स्थिति में कई बार आप अपेक्षा के विपरीत कार्य भी कर देते है जिसका हर्ज़ाना आपको भुगतना पड़ता है।

सुनहरे अवसर हाथ से निकल जाना –
आपके जल्दबाज़ी करने का अहम कारण होता है कम समय में ज्यादा से ज्यादा काम कर के लाभ कमाना लेकिन यही जल्दबाज़ी आपको भारी क्षति पहुंचाती है। अपने काम में दक्ष होने और निपुणता से काम करने वालों को ही सुनहरे अवसरों का लाभ मिल पाता है और आपकी जल्दबाज़ी की आदत के कारण आपके काम में न निपुणता रहती है, न ही दक्षता और ऐसे सुनहरे अवसरों से आप हाथ धो बैठते है।

सेहत पर प्रभाव –
जल्दी जल्दी करने की आदत आपकी सेहत को भी प्रभावित करने लगती है। जल्दबाज़ी के चलते आप अपने दिन भर के भोजन को फुर्सत से ग्रहण नहीं करते और न ही अच्छी नींद ले पाते है साथ ही चीज़ो को भूलने की आदत भी आपको लग जाती है जिसकी वजह से आपको कई मुश्किलों का सामना करना पड़ता है।

हर एक काम को समय पर निपटाने के लिए थोड़ी जल्दी करना ठीक है लेकिन जल्दबाज़ी को अपनी आदत बनाकर हर काम को बिगाड़ देना सही बात नहीं है। हो सकता है कि अब तक आपने इस बारे में न सोचा हो, लेकिन अब आप जान गए है कि जल्दबाज़ी करने की ये आदत आपको कितना नुकसान पंहुचा सकती है।

तो बस! देर किस बात की, इन सारे पहलूओं के बारे में सोचिये और अपने हर काम को तसल्ली और दक्षता के साथ करना शुरू कर दीजिये।

“जानिए दिन में सोना क्यों होता है नुकसानदायक”
“बच्चों को डे-केयर में भेजने से पहले फायदे और नुकसान को जानें”
“बीच में जिम छोड़ने के नुकसान”

Add a comment