जीवन बीमा लेने से पहले इन बातों का ध्यान रखें

141

जीवन में बेहतर कल के लिए फाइनेंशियल प्लानिंग बेहद जरुरी है हम सभी अपनी आर्थिक स्थिति के अनुसार फाइनेंशियल प्लानिंग करते हैं और फाइनेंशियल प्लानिंग में सबसे अहम पॉलिसी जिसे माना जाता है वो होती है जीवन बीमा ! यूँ तो बाजार में कई कंपनियां हैं जो जीवन बीमा देती हैं और सभी के अपने अलग अलग प्लान होते हैं ! कोई बच्चों का प्लान तो कोई पेंशन प्लान जैसी स्कीमें देते हैं लेकिन ऐसे में व्यक्ति कंफ्यूज हो जाता है और उसे समझ नहीं आता की उसके लिए कौनसा प्लान सही होगा जबकि एजेंट अपना टारगेट पूरा करने के लिए हमे कोई भी प्लान फायदेमंद बता कर दे जाता है और हम समझ की कमी की वजह से ले लेते हैं ! लेकिन अगर हम पहले से थोड़ी जानकारी और समझदारी रखें तो हम अपने लिए एक बेहतर जीवन बिमा चुन सकते हैं ! तो आइये जानते हैं जीवन बीमा पॉलिसी लेने से पहले हमे किन किन बातों का ख़ास ध्यान रखना चाहिए !

पहले जानें आपके लिए कितने का जीवन बीमा होना चाहिए
जीवन बीमा लेने से पहले ये जानना बेहद जरुरी है की उस पॉलिसी की Sum Assured राशि कितनी है यानी बीमा होल्डर की मृत्यु हो जाने पर परिवार वालों को कितनी राशि मिलेगी ! विशेषज्ञों के अनुसार Sum Assured राशि सालाना कमाई की 10-12 गुना होना ही चाहिए ताकि मृत्यु के बाद परिवार वालों को एक बड़ी राशि मिल सके और वो उस राशि के उपयोग से अपने आगे का जीवन व्यतीत कर सकें !

जितनी कम उम्र में जीवन बिमा लेंगे उतना फायदा होगा
उम्र बढ़ने के साथ साथ जीवन बीमा की किश्तें भी ज्यादा होती जाती हैं इसलिए जितनी कम उम्र में जीवन बीमा ले लिया जाये उतना ही फायदेमंद होता है ! अगर शुरू में आपकी कमाई कम है तो कम राशि के साथ जीवन बीमा करें और जैसे जैसे कमाई बढ़ती जाये जीवन बीमा पॉलिसी की राशि बढ़ा दें और जीवन बीमा कवर राशि बढ़ा लें !

अपनी जरुरत के मुताबिक चुनें जीवन बीमा पॉलिसी
कंपनियां कई तरह के प्लान दिखाकर हमे कंफ्यूज कर देती है और ऐसे में हम कई बार ऐसे प्लान ले लेते हैं जो हमारी असली जरूरतों को पूरा नहीं करते ! ऐसे में पहले अपनी जरूरतों को समझें और उसी के मुताबिक जीवन बीमा लें जैसे अगर आपकी सोच ये है की आपको रिटायरमेंट के लिए पूँजी जमा करनी है तो आप रिटायरमेंट प्लान लें, अगर आपको अपने बच्चों की पढाई और उनके भविष्य में पूँजी की जरुरत पूरी करनी है तो आप चाइल्ड प्लान लें ! इसके अलावा आपको वर्तमान में टैक्स बचाना है तो इसकी भी टैक्स सेविंग पॉलिसी होती हैं आप वो ले सकते हैं ! अगर आप अपनी जरूरतों को पहचानकर पॉलिसी लेंगे तो आपका उद्देश्य भी पूरा होगा और आपको लाभ भी मिलेगा !

Unit Linked Insurance Plans (ULIP) भी है एक बेहतर विकल्प
अगर आप एक पॉलिसी से टैक्स की बचत,जीवन बीमा कवर और बेहतर रिटर्न पाना चाहते हैं और आप लम्बे समय तक (न्यूनतम 5 साल) के लिए निवेश कर सकते हैं तो Unit Linked Insurance Plans भी एक बेहतर विकल्प हो सकता है ! लेकिन इस पॉलिसी को लेने से पहले कुछ जानकारी होना जरुरी है, दरअसल ये पालिसी शेयर बाजार से जुडी होती हैं और इनमे एक साथ मोटी राशि लगाने से घाटा भी हो सकता है ! इसलिए इस प्लान में हमेशा महीने की किश्तों के हिसाब से निवेश करें इससे घाटा होने की सम्भावना काफी कम होती है और अगर पालिसी अवधि में शेयर बाजार सामान्य भी रहा तो इससे 15% से 20% तक का रिटर्न मिलने की उम्मीद की जा सकती है ! ULIP में आप अपने मुताबिक Funds चुन सकते हैं इसके लिए किसी जानकारी व्यक्ति से सलाह लें और सही Funds का चुनाव करें !

दूसरे प्लान्स से तुलना करें
कोई भी पॉलिसी लेने से पहले कंपनी के झांसे में ना आएं बल्कि खुद ऑनलाइन दूसरी कंपनियों के प्लान्स से तुलना करें और सही प्लान का चुनाव करें ! इसके लिए आप अपने किसी जानकार विशेषज्ञ की सलाह भी लें !

बीमा कंपनी को सही जानकारी दें
कई बार हम बीमा पॉलिसी का ज्यादा फायदा उठाने के लिए कई जानकारियां बीमा कंपनी से छुपाते हैं जिसका हमे भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है जैसे अगर व्यक्ति को डायबिटीज है और पॉलिसी लेते समय उसने बीमा कंपनी से ये बात छुपाई और फॉर्म में इसकी जानकारी नहीं दी और अगर आगे चलकर उसकी मौत का कारण डायबिटीज हुई तो उसके परिवार वालों को बीमा पॉलिसी का फायदा नहीं मिलेगा और परिवार को बीमा राशि से हाथ धोना पड़ेगा ! इसलिए हमेशा कोई भी पालिसी लेते समय अपनी सही जानकारी दें !

लुभावने वादों पर ना जाएं
अगर कोई कंपनी आपको ये बोलकर अपने प्लान देने की कोशिश करे की आपकी राशि 3 साल में दुगनी हो जाएगी तो ऐसे झांसों में ना आएं क्योंकि IRDA के नियम के अनुसार कोई भी जीवन बीमा कंपनी 10% से अधिक रिटर्न नहीं दे सकती ! तो अगर कोई आपको ऐसा लालच दे तो ऐसे झांसों में ना आएं !

Rider ज़रूर लगवाएं
अगर आप कोई पॉलिसी ले रहे हैं तो आपको सलाह है की उसके साथ कोई अतिरिक्त कवरेज या राइडर्स जरूर लगवाएं जैसे की Accident Death Benefit (ADB), Critical Illness (CI) Rider ! Rider लगवाने में अतिरिक्त खर्च भी बहुत कम आता है उदहारण के तौर पर 1 लाख का ADB Rider मात्र 100 रुपये अतिरिक्त देकर ले सकते हैं ! इसका फायदा ये होगा की किसी दुर्घटना में मृत्यु हो जाने की स्थिति में नोमिनी को दुगना फायदा होगा और उसे बीमा राशि कि दुगुना राशि प्राप्त होगी ! साधारणतः कंपनियां इनके बारे में नहीं बताते लेकिन अगर आपको इसकी जानकारी है तो आप इसका फायदा उठा सकेंगे !

“योग का जीवन में महत्व और लाभ”
“फेसबुक हमारे जीवन में डाल रहा है ये बुरे प्रभाव, जरूर जानें”
“अपने बच्चों को जरूर सिखानी चाहिए ये 8 अच्छी आदतें”

Add a comment