सेहत की सच्ची गवाही देते हैं नाखून

69

साफ, स्वस्थ और सुंदर नाखून सुंदरता में चार चाँद लगा देते है. इतना ही नहीं ये सेहत का हाल भी बयां करते हैं. लेकिन अधिकांश लोग नाखूनों की सेहत पर ध्यान ही नहीं दे पाते. नाखून सुंदरता का ही नहीं बल्कि त्वचा का ही एक हिस्सा हैं. नाखूनों का निर्माण मृत कोशिकाओं से होता हैं. नई कोशिका के बनने से मृत कोशिका हटती जाती है और नाखून बढ़ते जाते हैं. अगर नाखूनों से संबंधित कोई विकार या आकार में कोई असामान्यता दिखाई दे तो सेहत के प्रति सचेत हो जाना चाहिए. इनमें अगर कोई भी परिवर्तन आता है तो यह शरीर की बीमारियों के तरफ इशारा करते हैं. इसलिए अपने नाखूनों का विशेष ख्याल रखे. क्योंकि स्वस्थ नाखून तो स्वस्थ शरीर और आप स्वस्थ तो नाखून भी सेहतमंद.

कई अध्ययनों से यह साबित हुआ है कि नाखूनों की रंगत और आकार के आधार पर सेहत के बारे में बहुत कुछ पता लगाया जा सकता हैं. आइये जानें नाखून समस्याओं को दर्शाने में अपनी क्या महत्वपूर्ण भूमिका निभाता हैं. जानें नाखून और सेहत का अटूट संबंध.

1. नाखून और त्वचा का संबंध – नाखून उंगलियों के जिस छोर पर जाकर खत्म होता हैं उस हिस्से को क्यूटिकल्स कहते है. पानी में अधिक रहने से क्यूटिकल्स सूज जाता है जिससे क्यूटिकल्स के आस-पास की त्वचा निकालने लगती है. लेकिन इस त्वचा को हाथ से ना खीचें. अगर नाखूनों के पास की त्वचा कटी-फटी हो तो यह त्वचा की शुष्कता की ओर संकेत करता है. नाखूनों के आस-पास की त्वचा लाल हो तो यह संक्रमण के कारण भी संभव हैं. कटे-फटे नाखून सोरायसिस या एक्जिमा, फेफडों का कैंसर, दिल की बीमारी व थायरॉइड की ओर इशारा करते हैं.

2. आधा चाँद क्या कहता है – चाँद जैसी आकृति नाखूनों के निचले हिस्से में बनी होती हैं. इस चाँद जैसे सफेद निशान को लैटिन में लुनला कहते हैं. अगर यह सफेद निशान बहुत बड़ा दिख रहा है तो शरीर में खून की कमी का संकेत हो सकता हैं. यह आयरन की कमी के साथ-साथ थायरॉइड और विटामिन बी-12 की कमी का भी इशारा देते हैं.

3. नाखूनों का रंग भी इशारा करते हैं – नाखूनों का जरूरत से ज्यादा सफेद दिखने का मतलब खून की कमी, आयरन की कमी, लीवर से संबंधित, हृदय संबंधी समस्या, हेपेटाइटिस आदि समस्या की तरफ इशारा हैं. पीले नाखून फंगल इंफेक्शन, पीलिया की ओर संकेत देते हैं. नाखूनों में पर्याप्त रक्त ना पहुँचने से थायराइड की समस्या हो सकती है. नाखूनों पर काली रेखा या धब्बे नजर आने पर मेलेनोमा हो सकता है. अगर नाखूनों में हल्का नीलापन दिखाई दे तो इसका मतलब शरीर को पर्याप्त ऑक्सीजन नहीं मिलने का संकेत है. इस संकेत से फेफड़ों की समस्या हो सकती है. नाखूनों पर एक से अधिक सफेद रंग की धारियाँ किडनी की समस्या और पोष्टिकता की कमी का संकेत देती है. नाखूनों का रंग सेहत के बारे में बहुत कुछ बयान करते है. इस संकेत को समझकर सेहत को स्वस्थ रखिए.

4. मोटे व मुरझाए नाखून क्या इशारा करते है – इस तरह के नाखूनों में कई बार एक लाइन सी नजर आती है जो किसी पुरानी बीमारी या रक्त में प्रोटीन की कमी की ओर इशारा करती है. जिस कारण नाखूनों का बढ़ना रुक जाता है. ऐसे में नाखून मोटे होने के साथ कड़े भी हो जाते है. नाखूनों की ऐसी स्थिति फंगल इंफेक्शन, मधुमेह, लीवर की समस्या, सांस संबंधी समस्या, आर्थ्राराइटिस, एग्जिमा, तनाव आदि बीमारी की तरफ संकेत देती है.

इस तरह से रखे नाखूनों को स्वस्थ –

* दाल और सब्जियों में विटामिन बी-7 का भंडार होता है जिससे नाखूनों की कमजोरी दूर होती हैं.
* नाखूनों की नियमित सफाई करे और जैतून के तेल से हल्की मसाज करे.
* रेड मीट, मछली और डेयरी फूड में प्रचुर मात्रा में पोटेशियम, फॉस्फोरस और विटामिन-ए होता है.
* कच्ची सब्जियाँ, फलियाँ, अंडे, सलाद के सेवन से जिंक की कमी पूरी होती है और नाखून मजबूत होते हैं.
* हल्के गर्म पानी में नींबू व ग्लिशरीन डाले और हाथों को कुछ देर इसमें रखे.
* समय-समय पर मैनीक्योर, ट्रिमिंग और शेपिंग करते रहे.

नाखूनों में होने वाले छोटे-मोटे बदलावों पर ध्यान दे. क्योंकि यह बदलाव सेहत की सच्ची गवाही देने में सक्षम है. अगर नाखून बहुत ही नाज़ुक है या नेल क्लबिंग या नाखूनों पर गहरे रंग की पट्टी नजर आ रही है या उपरोक्त किसी समस्या के लक्षण नजर आए और आप कोई भ्रमित धारणा बनाए उससे पहले अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लें. उचित सलाह से नाखूनों की देखभाल भी अच्छी होगी. सावधानी बरतने से गंभीर समस्या से बचा जा सकता है. नेल पोलिश में केमिकल्स होता है इसलिए इसका इस्तेमाल कम से कम करे.

किसी भी परिस्थिति में डॉक्टर से अच्छा कोई मार्गदर्शक नहीं होता. क्योंकि आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है. हमने यह लेख प्रैक्टिकल अनुभव व जानकारी के आधार पर आपसे साझा किया है. अपनी सूझ-बुझ का इस्तेमाल सदैव करे. आपको यह लेख कैसा लगा. अगर इस लेख से आपको कोई भी मदद मिलती है तो हमें बहुत खुशी होगी. अपनी प्रतिक्रिया जरूर दे. हमारी शुभकामनाएँ आपके साथ है. हमेशा स्वस्थ रहे और खुश रहे.

“ज़्यादा नमक है सेहत के लिए ख़तरनाक”
“सेहत के लिए बादाम है बेहद फायदेमंद”
“किशमिश में छिपे है सेहत के राज”

Add a comment