पिता के शहीद होने के बावजूद एग्जाम देने पहुंची यह बेटी इन्हें हमारा सलाम

272

अभी कुछ दिनों पहले जम्मू कश्मीर के उरी सेक्टर में हुए आतंकी हमले में शहीद सुनील कुमार विद्यार्थी की बेटी ने पूरे भारत के सामने एक मिसाल पेश की है। पिता के शहीद होने के बावजूद इस बच्ची ने अपनी पढ़ाई को भी महत्व दिया और घर के गमगीन माहौल के बावजूद एग्जाम देने पहुंच गई।

she-go-for-exam-despite-fathers-martyr1

इस घटना से स्कूल के प्रिंसिपल भी हैरान हो गए DAV स्कूल में पढ़ रही सुनील की तीनों बेटियां आरती, अंशु और अंशिका एग्जाम देने पहुंच गई स्कूल मैनेजमेंट भी इन बच्चियों के इस हौसले की तारीफ करते नहीं थक रहा।

she-go-for-exam-despite-fathers-martyr3
she-go-for-exam-despite-fathers-martyr4

उन्होंने यह कहा है कि इन बच्चियों को एग्जाम में गैरहाजिर होने की भी छूट दे दी गई है और इनके पेपर बाद में कंडक्ट कराए जाएंगे। आपको बता दें कि सुनील बोकनारी के रहने वाले थे जहां पर अभी भी मातम पसरा हुआ है उन्होंने 1998 में आर्मी में ज्वाइन कि थी .

she-go-for-exam-despite-fathers-martyr2

उरी हमले में भारत के 18 जवान शहीद हुए थे यह बताया जाता है कि पाकिस्तान से आए जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों ने ब्रिगेड हेडक्वार्टर पर हमला किया था जिसके बाद इस हमले में पाकिस्तान के जुड़े होने की पुष्टि हो गई थी। न्यूज़ एजेंसीयों के मुताबिक हमले के दौरान आतंकियों के पास मिले सभी हत्यार पाकिस्तान द्वारा प्रायोजित किए हुए थे।

she-go-for-exam-despite-fathers-martyr5
she-go-for-exam-despite-fathers-martyr6

हम सलाम करते हैं देश के उन वीर जवानों को और उनके परिवारों को जो हर कठिनाई के बावजूद अपने हौसले को बुलंद रखते हैं।

उरी में शहीद हुए वीर जवानों को एक श्रधान्जली
जानिए क्या होता है सर्जिकल स्ट्राइक ?

Source

Add a comment