त्रिफला के हैरान कर देने वाले फायदे

220

आयुर्वेद हमारी सेहत के लिए किसी वरदान से कम नहीं है, ज़रूरत है तो सिर्फ इसे जानने और अपनाने की। आयुर्वेद की ही देन है त्रिफला, जिससे हमारे शरीर को अनेक फायदे मिलते हैं। त्रिफला का शाब्दिक अर्थ है -तीन फल और ये तीन फल है आंवला, हरड़ और बहेड़ा। एक भाग हरड़, दो भाग बहेड़ा और एक चौथाई भाग आंवले का मिश्रण त्रिफला होता है। इसमें खट्टा, मीठा, नमकीन, कड़वा और तीखा सभी रस मौजूद होते हैं। रोग होने पर तो त्रिफला लाभप्रद होता ही है, साथ ही स्वस्थ होने पर भी इसका सेवन किया जा सकता है। चरक संहिता के अनुसार – एक व्यक्ति बिना किसी बीमारी के दैनिक रूप से एक वर्ष से अधिक समय तक त्रिफला का सेवन कर सकता है। इसका सेवन पानी या दूध के साथ किया जा सकता है और इसकी आधे ग्राम से पंद्रह ग्राम तक मात्रा ली जा सकती है।

आइये अब आपको बताते है त्रिफला से आपकी सेहत को मिलने वाले फायदे –

आँखों के लिए गुणकारी –
अगर आपकी आँखों की रोशनी कम हो गयी है या फिर आप आँखों में होने वाली जलन और आँखे लाल हो जाने जैसी समस्याओं को दूर करना चाहते हैं तो त्रिफला चूर्ण आपके लिए वरदान साबित हो सकता है। इसके लिए मिट्टी या ताम्बे के बर्तन में पानी डालकर 2 चम्मच त्रिफला चूर्ण रात को भिगो दे। सुबह इसे कपड़े से छानकर आँखे धोएं। इसके अलावा आप एक गिलास पानी में 1 चम्मच त्रिफला चूर्ण डालकर, इसे 10-15 मिनट तक उबालकर काढ़ा बना ले और अच्छी तरह छानकर, ठंडा करके इससे आँखे धोये। आँखों को स्वस्थ बनाने के लिए त्रिफला बेहद फायदेमंद है।

कब्ज़ को दूर करता है –
कब्ज़ जैसी समस्या के लिए त्रिफला चूर्ण बहुत फायदेमंद साबित होता है। इसके लिए रात को सोने से पहले 5 ग्राम त्रिफला चूर्ण को गुनगुने पानी या दूध के साथ लीजिये। ऐसा करने से आपको कब्ज में राहत मिलने लगेगी।

दांतों को बनाये मज़बूत –
त्रिफला चूर्ण आपके दांतों की सेहत का भी खयाल रखता है। इसके लिए आप त्रिफला चूर्ण को रात भर पानी में भिगोकर रखिये और सुबह ब्रश करने के बाद कुछ देर इस पानी को मुँह में भरकर रखिये। ऐसा करने से आपके दांत और मसूड़े लम्बे समय तक स्वस्थ बने रहेंगे और मुँह की दुर्गन्ध और छालों की समस्या से भी निजात मिलेगी।

बालों को मज़बूती देता है –
त्रिफला में विटामिन-सी पाया जाता है, साथ ही रक्त को साफ करने का गुण भी, जिनके कारण त्रिफला बालों की सेहत भी सुधारता है। इसके लिए आप उपयोग में ली हुयी त्रिफला की लुगदी बालों में लगाकर, आधे घंटे बाद धो लीजिये। आपके बाल काले और मज़बूत होने लगेंगे।

वज़न कम करने में सहायक –
त्रिफला शरीर के मेटाबॉलिज़्म को बेहतर बनाता है और शरीर में मौजूद अनावश्यक वसा को कम करने में मदद करता है। त्रिफला को चाय या काढ़े के रूप में पीया जा सकता है और काढ़े में शहद मिलाकर पीने से वज़न कम किया जा सकता है।

पाचन तंत्र को मज़बूत बनाये –
कमज़ोर पाचन तंत्र बहुत सी बीमारियों को बुलावा देता है। ऐसे में त्रिफला का सेवन करके पाचन की क्रिया को सुचारु रूप से चलाया जा सकता है। त्रिफला आँतों की सफाई करता है और शरीर से गन्दगी को बाहर निकालता है।

इतना ही नहीं, त्रिफला का सेवन करने से शरीर में वात,पित्त और कफ़ को संतुलित रखा जा सकता है। दाद, खाज, खुजली जैसे त्वचा सम्बन्धी रोगों को मिटाया जा सकता है और त्रिफला डायबिटीज और हृदय सम्बन्धी रोगों में भी राहत पहुंचाता है और अल्सर को दूर करने के अलावा बुरे कोलेस्ट्रॉल को भी कम करता है।

त्रिफला का सेवन करने का तरीका –
त्रिफला का सेवन शुरू करने से पहले आप ये भी जान लें कि सुबह के समय त्रिफला लेने से शरीर में कैल्शियम, आयरन और विटामिन जैसे तत्वों की कमी दूर होती है और शरीर को पोषण मिलता है। इस समय आप त्रिफला का सेवन गुड़ के साथ भी कर सकते हैं जबकि रात में त्रिफला लेने से कब्ज़ जैसी पेट सम्बन्धी समस्याओं में राहत मिलती है। रात में इसका सेवन दूध के साथ करना चाहिए।

त्रिफला लेते समय ये सावधानियाँ रखें –

  • 6 साल से कम उम्र के बच्चों को त्रिफला न दें।
  • कुछ लोगों को त्रिफला के सेवन से ज़्यादा नींद आती है।
  • त्रिफला सेहत के लिए वरदान है लेकिन प्रेग्नेंसी और स्तनपान के दौरान इसका सेवन न करें।
  • रात में त्रिफला के सेवन से कुछ लोगों में ज़्यादा मूत्र आने की समस्या भी पायी जाती है इसलिए ऐसी शिकायत होने पर रात्रि में इसका सेवन न करें।
  • अगर आप लम्बे समय तक इसका सेवन करते हैं तो इसकी मात्रा कम लें और छोटी अवधि के लिए त्रिफला का सेवन करें तो त्रिफला अधिक मात्रा में ले सकते हैं।

त्रिफला के रक्तवर्धक, आयुवर्धक, दृष्टिवर्धक और स्वास्थवर्धक गुणों से आप अब परिचित हो चुके हैं। इस भूरे रंग के मिश्रण को आप घर पर भी बना सकते हैं या बाज़ार से लाकर भी इसका सेवन कर सकते हैं। अब त्रिफला के गुण, इसे लेने का तरीका और इसके सेवन से जुड़ी सावधानियाँ जान लेने के बाद आप भी इसे अपनी दिनचर्या में शामिल कर लीजिये और अपने शरीर को स्वस्थ बने रहने का एक उपहार दे ही दीजिये, त्रिफला के रूप में।

“कच्चा केला खाने से होते हैं ये फायदे”
“जानिए दूध पीने के नियम और इसके फायदे”
“आंखें फटी रह जाएंगी तुलसी के पत्तों के यह फायदे जानकर”

Add a comment