भारत एक कृषि प्रधान देश है और यहां पर कई प्रकार की खेती की जाती है लेकिन आज हम आपको एक ऐसे देश के बारे में बताने जा रहे हैं जहां पर पानी की खेती की जाती है। यह सुनने के बाद आप एक बार को इस बात को शायद समझ ना सके लेकिन इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आप पूरी तरह से इस बात को समझ जाएंगे कि पानी की खेती किस प्रकार की जाती है।

water-harvesting-in-morocco1

मोरक्को के एक बंजर इलाके में वैज्ञानिक ने एक अनोखी तरकीब से पानी की खेती करने का कारनामा करके दिखा दिया है। साल के 6 महीने इस जगह पर समुद्र से उठा हुआ कोहरा आता है इसको वैज्ञानिकों ने पानी में बदलने की तकनीक इजाद कर ली है।

water-harvesting-in-morocco2

बादलों को रोकने के लिए यहां पर एक विशेष किस्म का जाल लगाया गया है। इस जाल में पानी के कण इकट्ठे हो जाते हैं और नमी के कारण बाद में पानी के रूप में परिवर्तित हो जाते हैं। इन्हें कुछ इलाकों में लगाया जाता है और यह फोग कैचर के नाम से मशहूर हैं। इन फोग कैचर में जो नमी पानी में परिवर्तित होती है उसे ठंडे कुओं तक पहुंचाया जाता है। पानी को कूओं तक पहुंचाने के लिए पाइपों का इस्तेमाल किया जाता है।

water-harvesting-in-morocco3

इस सिस्टम के माध्यम से यहां के आसपास के लोगों की पानी की किल्लत पूर्ण रूप से खत्म हो गई है और लोगों को पानी के लिए जगह-जगह भटकना ही नहीं पड़ता क्योंकि यह पानी खुद पाइपों के माध्यम से उनके पास आ जाता है।

water-harvesting-in-morocco5

इस प्रोजेक्ट को यूएन के द्वारा “मोमेंटम फॉर चेंज” का अवार्ड भी दिया गया है जलवायु परिवर्तन से जुडी चुनौतियों का सामना करने के लिए इस प्रोजेक्ट को यह अवार्ड दिया गया। इस प्रोजेक्ट की वजह से अब बंजर जमीन में भी हरियाली छाने लगी है और यहां पर आसपास पेड़ पौधे भी लग गए हैं।

water-harvesting-in-morocco6

अब इस परियोजना का सेकंड फेज चलाया जाएगा जिसमें 6000 वर्ग मीटर का जाल लगाया जाएगा और इसके जरिए 8 और गांव में पानी की व्यवस्था की जाएगी। यह माना जा रहा है कि आने वाले समय में इस परियोजना के द्वारा बिजली का उत्पादन भी किया जाएगा। हम आशा करते हैं कि इस प्रकार की तकनीक का इस्तेमाल भारत में भी किया जाए ताकि प्रकृति द्वारा दी गई सुविधाओं का लाभ उठाया जा सके।

water-harvesting-in-morocco8

All Image Source

News Source