जानिए योग क्या है और कैसे हुई इसकी उत्पत्ति ?

281

योग आज देश विदेश में प्रचलित हो रहा है और पूरी दुनिया इसके महत्त्व को मान रही है ! देखा जाये तो योग एक पूरी चिकित्सा पद्धति है ! योग शब्द संस्कृति शब्द युज से निकला है ! योग शास्त्रों के अनुसार योग का हमारे मस्तिष्क और शरीर से सीधा सम्बन्ध होता है ! योग दुनिया का सबसे प्राचीन विज्ञान माना गया है जिसकी उत्पत्ति भारत में ही हुई है ! योग का प्रमुख मकसद है आत्मज्ञान और हर प्रकार की शारीरिक समस्याओं से निजात पाना ! किसी भी तरह की शारीरिक या मानसिक परेशानियों से निजात पाने का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है योग इसके अलावा आध्यामिक विकास में भी योग बेहद सहायक है !

योग शास्त्रों के अनुसार योग पौराणिक काल से ही चला आ रहा है और योग के सबसे पहले योग गुरु के तौर पर भगवान शिव को मना जाता है ! कहा जाता है योग हिन्दू घाटी सभ्यता की अमर देन है जिसकी शुरुआत लगभग 2700 बी.सी. साल पूर्व हुई थी !
ऐसे कई प्रमाण पाए गए हैं जिसमे हिंदू घाटी सभ्यता द्वारा योग साधना और उसकी मौजूदगी दिखाई दी है और इस आधार पर ये कहना गलत नहीं होगा की प्राचीन भारत में भी योग का महत्वपूर्ण स्थान हुआ करता था ! उस काल की कई मूर्तियां और चिन्ह मिले हैं जो योग तंत्र को साफ़ तौर पर दर्शाते हैं !

लोक संस्कृति, हिंदू घाटी सभ्यताकाल, वैदिक और उपनिषद् धरोहरों, बौद्ध, जैन के रीति-रिवाजों और रामायण-महाभात काव्यों में भी योग की चर्चा की गई है ! सूर्य नमस्कार भी योग का रूप माना गया है ! दक्षिण एशिया के आध्यामिक परंपराओं के समय योग गुरू योग के प्रसार और इसकी महत्वता की शिक्षा दिया करते थे और उस समय भी योग को एक ख़ास दर्जा प्राप्त था ! उस समय में योग सिर्फ योग ना होकर उपासना और साधना का एक महत्वपूर्ण हिस्सा माना जाता था !

देखा जाये तो योग का सबसे ज्यादा विकास शास्त्रीय युग (v500 बी.सी. से 800 ए.डी तक) में ही हुआ है ! ये दौर महावीर और बुद्ध का दौर रहा था और इसी युग में व्यास की कथा और भगवदगीता बनी थी ! योग 8 अंगों में विभाजित है – (1) यम (2) नियम (3) आसन (4) प्राणायाम (5) प्रत्याहार (6) धारणा (7) ध्यान (8) समाधि !

योग हमे शरीर और मन का रूपांतरण करना सिखाता है जो ना सिर्फ हमारे स्वास्थ्य के लिए बल्कि हमारे जीवन में भी कई सकारात्मक बदलाव लाता है ! अगर आपको लगे की आप अपनी किसी आदत को नहीं छोड़ पा रहे तो योग अपनाएं निश्चित तौर पर आपको खुद में बदलाव महसूस होगा और आप के अंदर एक सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होगा !

“विद्यार्थियों में योग शिक्षा का महत्व”
“योग का जीवन में महत्व और लाभ”
“जानिए थायराइड क्या होता है और योग के जरिये कैसे करें इसका इलाज”

Add a comment