आखिर कैसे अमेरिका पहुंच गया भगवान शिव का ज्योतिर्लिंग

भारत में ही नहीं पूरे विश्व में भगवान शिव कई लोगों के आराध्य देव माने जाते हैं . हिंदू धर्म में कई देवताओं ने इस धरती पर जन्म लिया था और यह धरती उनकी कर्मभूमि है इस बात का सबूत मिलता रहता है .

लेकिन आज हम आपको भगवान का एक नया चमत्कार बताने जा रहे हैं हमारे देश से कई हजार किलोमीटर दूर बसा एक देश अमेरिका भी भगवान के चमत्कार से वंचित नहीं रहा है . यहां भी 1 ज्योतिर्लिंग पाया गया है जो श्री महाकालेश्वर के नाम से चर्चित है . आप इंटरनेट पर अगर कैलिफ़ोर्निया में घूमने लायक चीजों के बारे में सर्च करेंगे तो आप पाएंगे कि उस लिस्ट में सांता क्लारा में स्थित यह मंदिर भी लिस्टेड है . आपको बता दें कि यह मंदिर श्री महाकालेश्वर मंदिर अमेरिका में पहला ज्योतिर्लिंग मंदिर है और कमाल की बात यह है कि यह मंदिर भगवान शिव के रूद्र अवतार को दर्शाता है .

इस मंदिर में पूजा किए जाने वाला यह शिवलिंग 2 टन ग्रेनाइट से बनाया गया है और इस शिवलिंग पर 1008 छोटे-छोटे शिवलिंग भी बनाए गए हैं जिन्हें सहस्त्रलिंगम कहा जाता है . यह मान्यता है कि इस वजह से इस शिवलिंग की शक्ति हजारों गुना बढ़ गई है . अगर आप यह सोच रहे हैं कि इस मंदिर का भारत से कोई कनेक्शन नहीं है तो आपको बता दें कि इसका मूल स्वरूप वाला मंदिर महाकालेश्वर महादेव मध्य प्रदेश उज्जैन में स्थित है यह देश के 12 मुख्य ज्योतिर्लिंग में से एक है .

आपको बता दें कि इस मंदिर के लिए भी कई कहानियां प्रचलित हैं जिसमें यह बताया जाता है कि यूनाइटेड स्टेट्स ऑफ अमेरिका दक्षिण में है जो कि मृत्यु और विनाश का प्रतीक है . इसीलिए ऐसा माना जाता है कि शिव भगवान के रूद्र रूपी प्रकार का प्रतीक यह मंदिर है और शिव के तांडव से बचने के लिए सभी जीवो को बचाने के लिए दक्षिण हिस्से में भी उनकी आराधना का केंद्र होना जरूरी है . इसी बात को ध्यान में रखते हुए इस मंदिर की स्थापना की गई है .

यह मंदिर स्वामी सदाशिवम फाउंडेशन द्वारा बनाया गया है इस मंदिर का उद्घाटन 2010 में किया गया था . इस मंदिर के पुजारी संबा मूर्ति चेन्नई कालीकंबल मंदिर के प्रधान पुजारी थे और अब वह इस मंदिर में पूजा अर्चना करते हैं . हम आशा करते हैं जानकारी आप को रोचक लगी होगी और आप इसे अपने मित्रों के साथ अवश्य शेयर करेंगे .

“अमेरिका से जुड़े बेहद दिलचस्प तथ्य”
“भारत के गुटको से परेशान है अमेरिका”
“अमेरिका के सबसे धनी भारतीय”

अगर आप किसी विषय के विशेषज्ञ हैं और उस विषय पर अच्छे से लिख सकते हैं तो जागरूक पर जरुर शेयर करें। आप अपने लिखे हुए लेख को info@jagruk.in पर भेज सकते हैं। आपके लेख को आपके नाम, विवरण और फोटो के साथ जागरूक पर प्रकाशित किया जाएगा।
शेयर करें

रोचक जानकारियों के लिए सब्सक्राइब करें

Add a comment