अचार खाने से होने वाले गंभीर नुकसान

आपके पसंदीदा अचार का नाम सुनते ही आपके मुँह में भी पानी आ जाता होगा ना! अचार इतना स्वादिष्ट और ज़ायकेदार होता है कि खाने का ज़ायका कई गुना बढ़ा देता है और भारतीय व्यंजनों का तो अभिन्न अंग है अचार जो ज़्यादा तेल, मसाले में बनाया जाता है और कैरी, नींबू, गाजर जैसे अनेक स्वादों में बड़ी आसानी से मिल जाता है। लेकिन अचार को अगर नियमित रूप से भोजन के साथ खाया जाए तो ये सेहत को काफी नुकसान पंहुचा सकता है। ऐसे में इन ज़ायकेदार अचारों के साइड-इफेक्ट्स को भी देखा जाना चाहिए। तो चलिए, आज जानते है अचार खाने के नुकसान के बारे में-

डायबिटीज में ज़्यादा नुकसानदेह हो सकता है – अचार खाना डायबिटीज के रोगियों को ज़्यादा नुकसान पहुंचा सकता है क्योंकि कई अचार बनाते समय संरक्षक के रूप में चीनी का इस्तेमाल किया जाता है। ऐसे में डायबिटीज के मरीजों को चीनी युक्त अचार के सेवन से बचना चाहिए।

पाचन तंत्र प्रभावित होता है – ज़्यादा अचार खाने से पेट फूलना और पेट में दर्द रहने जैसी समस्याएं रहने लगती हैं। एक स्टडी से पता चला है कि ज़्यादा अचार खाने की स्थिति में गैस्ट्रिक कैंसर होने की संभावनाएं बढ़ सकती हैं।

आँतों में अल्सर हो सकता है – अचार में मसालें और तेल बहुत अधिक मात्रा में डाले जाते हैं और इसके ज्यादा सेवन से आँतों में अल्सर होने का खतरा बढ़ जाता है।

हाई ब्लड प्रेशर – अचार में नमक की मात्रा बहुत ज्यादा होती है और ज्यादा नमक खाने से ब्लड प्रेशर बढ़ने लगता है और अगर परिवार में हाई ब्लड प्रेशर की समस्या चली आ रही हो, तो ये समस्या और भी अधिक बढ़ सकती है इसलिए बेहतर यही होगा कि हाई ब्लड प्रेशर रहने की स्थिति में अचार से दूर ही रहें।

शरीर में सूजन आ सकती है – अचार को लम्बे समय तक सुरक्षित रखने के लिए उसमें संरक्षक के रूप में नमक की बहुत अधिक मात्रा मिलायी जाती है जिससे सोडियम की मात्रा काफी ज़्यादा बढ़ जाती है। सोडियम के कारण शरीर पानी की ज़्यादा मात्रा को बनाये रखने के प्रति क्रिया करता है जो शरीर के ओसमैटिक बैलेंस के लिए ज़रूरी होता है और ऐसा होने पर शरीर पर सूजन आने लगती है। ये सूजन अगर ज़्यादा बढ़ जाए तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

ट्राइग्लिसराइड का उच्च स्तर – अचार में मिलाये गए प्रेज़रवेटिव्ज़ अचार के लिए भले ही अच्छे रहते हों लेकिन हमारे स्वास्थ्य के लिए काफी नुकसानदेह साबित होते हैं। संरक्षक में तेल की मात्रा बहुत ज़्यादा होती है जिसके कारण शरीर में ट्राईग्लिसराइड का लेवल बढ़ जाता है।

अचार भले ही आपके स्वाद में बढ़ोतरी करता आया हो लेकिन अगर आपको स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्याएं हैं तो इसे छोड़ना ही बेहतर होगा और अगर आप स्वस्थ हैं तो हमेशा स्वस्थ बने रहने के लिए अचार को नियमित खाना बंद कर दीजिये और घर पर बना अचार थोड़ी मात्रा में खाने की आदत डालकर, आप अपने स्वास्थ्य का ख्याल भी रख सकेंगे और कभी-कभी खाने के साथ मिला थोड़ा सा अचार आपके स्वाद में चटकारे भी ले आएगा।

हमने यह लेख प्रैक्टिकल अनुभव व जानकारी के आधार पर आपसे साझा किया है। अपनी सूझ-बुझ का इस्तेमाल करे। आपको यह लेख कैसा लगा? अगर इस लेख से आपको कोई भी मदद मिलती है तो हमें बहुत खुशी होगी। अपनी प्रतिक्रिया जरूर दे। हमारी शुभकामनाएँ आपके साथ है, हमेशा स्वस्थ रहे और खुश रहे।

“बुखार क्यों आता है हमें”

अगर ये जानकारी आपको अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।