इस ट्री हाउस में एक भी कील या स्क्रू का इस्तेमाल नहीं किया गया है

जब भी बात किसी ट्री हाउस की आती है तो हमारे दिमाग में जो तस्वीर उभरती है वह किसी बांस से बनाए गए घर की होती है जिसमें किलों का इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन आज हम जिस ट्री हाउस के बारे में आपको बताने जा रहे हैं उसके अंदर कीलों का इस्तेमाल नहीं किया गया है।

पेंडा नामक यह ट्री हाउस बीजिंग में है और इसके अंदर कोई भी कील या रस्सी या किसी भी सरिये का इस्तेमाल नहीं किया गया है। इस ट्री हाउस के डिजाइन ने अभी हाल ही में हुए आर्किटेक्चरल डिजाइन कॉन्सर्ट में सबसे बेहतरीन डिज़ाइन के लिए अवार्ड भी जीता है। यह ट्री हाउस अभी पूर्ण रुप से बना नहीं है लेकिन इसका जो प्रोटोटाइप बना लिया गया है।

यह माना जा रहा है कि यह ट्री हाउस करीबन 2023 तक पूरी तरह से बनकर तैयार हो जाएगा इस ट्री हाउस में करीबन 20000 लोग आसानी से रह सकते हैं। इस प्रकार की आकृति को राइजिंग केन के नाम से जाना जाता है। जिस में बांस को एक दूसरे में फंसा कर इस तरीके से आकृति को बनाया जाता है कि किलो रस्सियों या सरियों की जरुरत ही ना पड़े। तो चलिए इस ट्री हाउस के बारे में विस्तार से जानते हैं।

इस ट्री हाउस के निर्माण के लिए रीसाइकल्ड बांस का इस्तेमाल किया जा रहा है जिससे प्राकृतिक संपदा को भी कोई नुकसान ना हो।

इस ट्री हाउस में बांस को आपस में फसाया जाएगा जिसके कारण किलों की जरूरत नहीं पड़ेगी आठ बांसों को इस तरीके से आपस में फसाया जाएगा कि अपने आप एक गांठ लग जाए और इन्हीं की एक सीरीज के द्वारा दीवारों का निर्माण किया जाएगा। नीचे दिए गए स्ट्रक्चर में जो आकृति है उस से आपको पूर्ण रुप से अंदाज़ा लग जायेगा।

इसी आकृति को आधार मानकर पूरे स्ट्रक्चर का निर्माण किया जाएगा और यह धीरे धीरे विशाल रूप लेता चला जाएगा। इस ट्री हाउस को आप एक छोटी रेजिडेंशियल कॉलोनी भी मान सकते हैं जिसमें हर फ्लोर की ऊंचाई करीबन 13 फीट होगी।

कंस्ट्रक्शन के बीच में आप पौधे भी उगा सकते हैं। जिससे यह और भी आकर्षक दिखेगा इस में रहने से आपको प्रकृति के और नजदीक पहुंचने का मौका मिलेगा। इस ट्री हाउस को बनाने वाली कंपनी का यह दावा है कि अभी आने वाले हफ्तों में 20 परिवारों को इस ट्री हाउस में रहने का मौका मिलेगा और 2023 तक तकरीबन सभी लोग इस ट्री हाउस में रह सकेंगे। यह करीब ढाई सौ एकड़ का कॉन्प्लेक्स होगा।

Source

अगर आप किसी विषय के विशेषज्ञ हैं और उस विषय पर अच्छे से लिख सकते हैं तो जागरूक पर जरुर शेयर करें। आप अपने लिखे हुए लेख को info@jagruk.in पर भेज सकते हैं। आपके लेख को आपके नाम, विवरण और फोटो के साथ जागरूक पर प्रकाशित किया जाएगा।
शेयर करें

रोचक जानकारियों के लिए सब्सक्राइब करें

Add a comment