अंतरिक्ष से जुड़े कुछ बेहद दिलचस्प तथ्य

879

जब आप अपनी छत से ऊपर आसमान की तरफ रात में देखते हैं तो लाखों तारे टिमटिमाते हुए नज़र आते हैं। इसी असीम अनंत विस्तार को ही अंतरिक्ष नाम दिया गया है जिसमें लाखों तारे, उल्कापिंड और आकाशगंगा मौजूद हैं। कई इंसानों के मन में यह सवाल उठता है कि जिस जगह पर ये तारे टिमटिमाते हैं वहां जाने पर कैसा महसूस होता होगा या वहां धरती की तरह रोशनी और पानी मौजूद है या नहीं। अंतरिक्ष शुरुवात से ही एक रहस्यमय विषय रहा है जिसके बारे में हर कोई जानना चाहता है। इस आर्टिकल में हम आपको अंतरिक्ष से जुड़े कुछ बेहद दिलचस्प तथ्य बताने जा रहे हैं जो शायद आपने कहीं ना पढ़ी हों।

1. ‘अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन’ वो जगह है जहां पर वैज्ञानिक रहकर अंतरिक्ष से जुड़े विषयों पर शोध करते हैं। आकंड़ो के अनुसार इन अंतरिक्ष स्टेशन को बनाने में लगभग 150 बिलियन डॉलर का खर्च आता है।

2. आमतौर पर एक इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन का आकार लगभग एक फ़ुटबाल के मैदान के क्षेत्रफल के बराबर होता है।

3. सिर्फ स्पेस स्टेशन ही इतने मंहगे नहीं होते हैं बल्कि वहां जाने के लिए वैज्ञानिक जिस स्पेस सूट को पहनते हैं उस सूट की कीमत भी लगभग 12 मिलियन डॉलर होती है।

4. अंतरिक्ष में गुरुत्वाकर्षण बल बिल्कुल भी काम नहीं करता है। इसी वजह से स्पेस स्टेशन के अंदर वैज्ञानिक हमेशा तैरते रहते हैं।

5. जब हम धरती से आसमान की तरफ देखते हैं तो हमें वो आसमान नीला दिखाई पड़ता है लेकिन जब अंतरिक्ष यात्री अपने स्पेस स्टेशन से आसमान की तरफ देखते हैं तो उन्हें वो काले रंग का दिखाई पड़ता है।

6. अंतरिक्ष में सबसे ज्यादा देर तक चलने का रिकॉर्ड भारतीय मूल की वैज्ञानिक सुनीता विलियम्स के नाम है। इस स्पेस वाक का उन्होंने वीडियो शूट भी किया है जो लगभग 8 मिनट का है।

7. अंतरिक्ष में आप कुछ भी बोलेंगे तो सामने खड़े इंसान को भी सुनाई नहीं देगा क्योंकि आवाज को वहां तक पहुंचाने के लिए कोई भी माध्यम मौजूद नहीं है। इसीलिए वहां बोलने और सुनने के लिए अलग से उपकरण इस्तेमाल किये जाते हैं।

8. अंतरिक्ष स्टेशन में सोना सबसे मुश्किल भरा काम होता है क्योंकि गुरुत्वाकर्षण बल ना होने से आप हमेशा तैरते रहते हैं। इसलिए वहां पर स्लीपिंग सेंटर होते हैं जिसमें स्लीपिंग बैग मौजूद होते हैं। वैज्ञानिक उसमें घुसकर अंदर सोते हैं।

9. साल 1963 में एक प्रयोग के दौरान अमेरिका ने अंतरिक्ष में एक हाइड्रोजन बम फेंका था जो कि बहुत शक्तिशाली था।

10. अंतरिक्ष में पानी की नामौजूदगी के कारण ही वहां वैज्ञानिकों के मूत्र को एक ख़ास ट्रीटमेंट की मदद से प्यूरीफाई किया जाता है और फिर इसी पानी को पीने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

11. अंतरिक्ष में हमेशा एक अजीब तरह की बदबू आती रहती है और कई यात्रियों ने बताया कि यह काफी हद तक वेल्डिंग से निकलने वाले धुएं जैसी महक होती है।

12. अंतरिक्ष में मेटल से बनी हुई दो चीजों को अगर आप आपस में टच करायेंगे तो वे हमेशा के लिए एक दूसरे से जुड़ जाती हैं।

13. अंतरिक्ष में दूरी प्रकाशवर्ष में नापी जाती है। एक प्रकाशवर्ष मतलब प्रकाश द्वारा 3 लाख किलोमीटर प्रति सेकंड की गति से एक साल में तय की गयी दूरी होती है।

“खून के बारे में कुछ बेहद रोचक तथ्य”
“चाणक्य के बारे में कुछ रोचक तथ्य”
“आँखों के बारे में कुछ बेहद रोचक तथ्य”

Add a comment