दुनिया के सात सबसे बड़े डॉक्टर से क्या आप परिचित है?

दोस्तों, आज हम आपसे दुनिया के सात सबसे बड़े डॉक्टर के बारे में चर्चा करेंगे। यह सात डॉक्टर सिर्फ बड़े ही नही बल्कि बेस्ट भी है। ये डॉक्टर हमारे लिए बहुत ही विश्वसनीय है जो सबको सहज उबलब्ध भी है। अगर हम इन डॉक्टर के संपर्क में बराबर रहेंगे तो हम स्वंय के अलावा अपने परिवार के सदस्यों को भी स्वस्थ रख पाएंगे। तो चलिए दुनिया के सात सबसे बड़े डॉक्टर से आपका भी परिचय करवा दिया जायें।

1. सूरज की किरणें – दुनिया के सबसे बड़े डॉक्टरों की श्रेणी में पहला स्थान सूरज का है। जैसा कि आप जानते ही है सूरज की किरणों से हमें तरह-तरह के विटामिन प्राप्त होते है, जिसमें विटामिन डी प्रमुख है, जो हमारे शरीर को मुख्य तौर पर सूरज से ही मिलता है। आपको यह पढ़कर आश्चर्य होगा कि हमारे देश में ज्यादातर लोगो में विटामिन डी की कमी मुख्यता देखी जाती है, जिसके परिणाम स्वरूप शरीर की हड्डियां दिन पर दिन कमजोर होती जाती है और शरीर कई बीमारियों का घर बन जाता है।

आपने देखा होगा विदेशी मौका मिलते ही सूरज की किरणों का संपूर्ण लाभ उठाते है। अगर हम इसके महत्व को समय रहते ना समझ पायें तो आने वाला कल हमारे लिए सहज नही होगा। व्यस्तता का बहाना छोड़े और कुछ समय निकालकर सूरज की किरणों का फायदा उठाएं, जो की सहज ही उपलब्ध है। जहां तक हो सके उगते सूरज कि किरणों में बीस मिनट रहने का नियमित प्रयास करे। इस प्रयास से आप भविष्य में कई बड़ी बीमारियों से बच जाएंगे। हमारे लिए सूरज की किरणें एक बहुत बड़े डॉक्टर के रूप में काम करती है।

2. 6-8 घंटे आराम की नींद – दुनिया के दूसरे बड़े डॉक्टर के रूप में 6-8 घंटे की नींद हमारे जीवन में बहुत बड़ी भूमिका निभाती है। हमारे लिए यह अति आवश्यक है की हम अपने शरीर को पर्याप्त आराम दे। क्योंकि नींद के दौरान हमारे शरीर के सभी अंगो को पूर्ण आराम मिलता है। अतः 6 से 8 घंटे की नींद रोजाना अनिवार्य है। नींद के बाद मोबाइल चार्जिंग की तरह हमारा शरीर फिर से शत प्रतिशत चार्ज हो जाता है। एक अच्छी नींद के बाद हम पूरे दिन उर्जावान बने रहते है। बस एक बात का ख्याल रखे जहां तक हो सके सोने और उठने का समय निश्चित रखे।

3. शुद्ध शाकाहारी भोजन – दुनिया के तीसरे बड़े डॉक्टर के रूप में शुद्ध शाकाहारी भोजन है। वर्तमान समय चाहे जैसा भी हो हमें हर हाल में शुद्ध भोजन ही ग्रहण करना चाहिए। आज कि जीवनशैली को देखते हुए हर हाल में अशुद्ध भोजन का हमें त्याग करना चाहिए।

शुद्ध के साथ-साथ हमें शाकाहारी भोजन ही ग्रहण करना चाहिए। शाकाहारी भोजन से हमें पर्याप्त शक्ति मिलती है। अशुद्ध भोजन से हमारे शरीर के अंग धीरे-धीरे कमजोर हो जाते है और अंगों की कार्यप्रणाली भी बंद होने लग जाती है। भोजन खाते व बनाते वक्त सफाई का विशेष ध्यान रखें। कई बार अनदिखे कीटाणु हमारे शरीर में जाकर हमें गंभीर रूप से बीमार करने की क्षमता रखते है। इसलिए हर हाल में हमें शुद्ध शाकाहारी व स्वच्छ भोजन को ही ग्रहण करना चाहिए। जीवन के हर सुखों में पहला सुख है निरोगी काया।

4. प्रतिदिन नियमित व्यायाम – दुनिया के चौथे सबसे बड़े डॉक्टर के रूप में हर रोज व्यायाम है। हमें नियमित रूप से व्यायाम को अपने जीवन में शामिल करना चाहिए। नियमित व्यायाम की आदत से हमारा शरीर चुस्त और तरोताजा रहता है, जिससे बीमारियां भी हमसे दूर रहेगी। जो लोग बीमारियों से पीड़ित है उन्हें अपने शरीर की क्षमता के अनुरूप डॉक्टर की सलाह अनुसार ही उचित व्यायाम करना चाहिए। बच्चों में शुरू से ही व्यायाम की आदत डाल देनी चाहिए। सुबह खाली पेट व्यायाम करना उचित है। इस शारीरिक श्रम से हमारे अंग शरीर के लिए प्रतिकूल बन जाते है।

5. खुद पर विश्वास – दुनिया के पाँचवे बड़े डॉक्टर कि श्रेणी में अपने आप पर अटूट विश्वास करना है। अगर हम खुद पर विश्वास नही करते तो हम किसी पर भी विश्वास नही कर सकते। खुद में विश्वास कि कमी होने से हमें हर पल तरह-तरह की कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है जो हमारे मनोबल को चोट पहुँचाता है और हम अपने आप को असहाय, कमजोर व अकेला महसूस करने लग जाते है। परिस्थिति चाहे अनुकूल हो या प्रतिकूल हमें खुद पर विश्वास करके उसका सामना करना है।

सदगुरु संत कबीर ने कहा है ………..
“कस्तूरी कुंडल बसे मृग ढूढे बन माहि|
ऐसे घट-घट राम है दुनिया जानत नाही||”

इसका मतलब है हमारे अंदर तरह-तरह कि कई शक्तियाँ छुपी है जिसे हम जानते नही है। हमें स्वयं की शक्तियों को पहचानना चाहिए और स्वयं पर पूर्ण भरोसा रखना चाहिए। आपने पढ़ा होगा जब जामवंत जी ने हनुमान जी को उनकी शक्तियों के बारे में याद दिलाया तो हनुमान जी ने अति कठिन कार्य को भी पूरा कर दिखाया। सफलता के लिए जरूरी है हम हर हाल में स्वयं पर पूरा भरोसा रखे। स्वयं पर भरोसा रखने से हम तनाव मुक्त भी रहते है। विवेकानंद जी ने कहा है – ”जब तक आप खुद पर विश्वास नहीं करते, तब तक आप भगवान पर विश्वास नहीं कर सकते”

6. पर्याप्‍त मात्रा में जल का सेवन – पर्याप्त मात्रा में पानी पीना दुनिया का छठा सबसे बड़ा डॉक्टर है। हमें पर्याप्त मात्रा में शुद्ध पानी का सेवन करना चाहिए। आपको इस बात की जानकारी होगी कि हमारे शरीर में 70% पानी होता है। इसलिए पर्याप्त मात्रा में जल का सेवन ना करने से शरीर में पानी की कमी होने लग जाती है और शरीर की कार्यप्रणाली सुस्त हो जाती है। पर्याप्त मात्रा में पानी के सेवन से हम काफी बीमारियों से बच सकते है। कम पानी पीने की आदत से किडनी तक की बीमारी भी हो सकती है। सुबह उठते ही बासी मुंह चार गिलास पानी पीने की आदत अवश्य डालें। पूरे दिन में 6-7 लीटर पानी अवश्य पिएं। अगर आप अस्वस्थ है तो अपने डॉक्टर से पानी की मात्रा के बारे में सलाह जरूर लें।

7. अच्छे और सच्चे दोस्त – दुनिया के सातवे बड़े डॉक्टर के रूप में अच्छे और सच्चे मित्र होते है, हमें उनका महत्व समझना चाहिए। अच्छे दोस्त हमारे साथ हर कठिन परिस्थिति में चट्टान की तरह हमारे साथ होते है और हमारा सही मार्गदर्शन करते है। जीवन की सफलता में हमारे सच्चे दोस्तों का बहुत बड़ा योगदान होता है। इसलिए अपने जीवन में दोस्त चाहें कम रखो लेकिन सच्चे और अच्छे रखो, क्योंकि एक सच्चा दोस्त पूरे पुस्तकालय के बराबर होता है। दोस्ती हो तो कृष्ण-सुदामा जैसी जिसमे सदैव एक दूसरे का साथ देने की चाह थी। एक अच्छे मित्र के संपर्क में रहकर हम अपने आपको मानसिक तौर पर हल्का महसूस करते है।

दुनिया के यह सबसे बड़े डॉक्टर ईश्वर का दिया हमारे लिए एक अनमोल तोहफा है। यह सभी डॉक्टर हमसे कोई चार्ज नही लेते। बस जरूरत है तो खुद के प्रति थोड़ा सतर्क होने की। इन सभी डॉक्टर की मदद से जब हमारा तन-मन स्वस्थ होगा तभी हम एक खुशहाल जीवन की कल्पना कर सकते है। आज से ही स्वंय को बदलने का प्रयास करे और दूसरों को भी प्रोत्साहित करें।

आपको यह लेख कैसा लगा? जरूर बताए। आशा करते है हमारा यह लेख आपकी मदद करने में सहायक होगा। आपकी प्रतिक्रिया हमारा उत्साह बढ़ाती है, हमें और भी बेहतर होने में मदद व प्रेरणा देती है, जिससे हम आगामी लेख और भी अच्छा लिख पाएं।

“हमेशा स्वस्थ रहना चाहते हैं तो अपनाएं ये अच्छी आदतें”
“बीड़ी सिगरेट और तम्बाकू स्वस्थ सम्पदा के है ये डाकू, जरूर पढ़ें”
“स्वस्थ जीवन के लिए सुबह उठते ही ना करें ये गलतियां, ध्यान रखें ये ख़ास बातें”

अगर ये जानकारी आपको अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।

अगर आप किसी विषय के विशेषज्ञ हैं और उस विषय पर अच्छे से लिख सकते हैं तो जागरूक पर जरुर शेयर करें। आप अपने लिखे हुए लेख को info@jagruk.in पर भेज सकते हैं। आपके लेख को आपके नाम, विवरण और फोटो के साथ जागरूक पर प्रकाशित किया जाएगा।
शेयर करें

रोचक जानकारियों के लिए सब्सक्राइब करें

Add a comment