एशिया महाद्वीप का सबसे बड़ा देश

नवम्बर 30, 2018

आकार और जनसंख्या की दृष्टि से विश्व का सबसे बड़ा महाद्वीप एशिया या जम्बुद्वीप है और क्षेत्रफल के अनुसार एशिया महाद्वीप का सबसे बड़ा देश रूस है जो विश्व का भी सबसे बड़ा देश है। इसका क्षेत्रफल 17,098,246 वर्ग किलोमीटर है जो प्लूटो के सम्पूर्ण पृष्ठीय क्षेत्रफल से भी ज्यादा है। इतना अधिक क्षेत्रफल होने के बावजूद जनसँख्या की दृष्टि से रूस विश्व में सातवें स्थान पर है। रूस की राजधानी मॉस्को है और यहाँ की राजभाषा रुसी है।

रुसी साम्राज्य के काल में रूस का स्थान विश्व में एक बड़ी शक्ति के रूप में जाना जाता था। प्रथम विश्वयुद्ध के बाद सोवियत संघ विश्व का सबसे बड़ा साम्यवादी देश बना। संयुक्त राज्य अमेरिका के साथ वर्षों तक इसकी प्रतिस्पर्धा चलती रही जिसके बाद 1980 के दशक में ये आर्थिक रूप से कमजोर होता गया और 1991 में इसका विघटन हो गया और सोवियत संघ का सबसे बड़ा राज्य रूस बना।

रूस के साथ इन देशों की सीमायें मिलती हैं – नार्वे, फिनलैंड, एस्टोनिया, लातविया, लिथुआनिया, पोलैंड, बेलारूस, यूक्रेन, जॉर्जिया, अजरबैजान, कजाकिस्तान, चीन, मंगोलिया और उत्तर कोरिया।

इतना बड़ा देश होने के कारण रूस को कई विभागों में बांटा गया है। रूस में गणराज्य, स्वायत्त प्रदेश, केंद्रीय नगर और स्वायत जिले जैसे विभाग हैं। इन्हें मिलाकर कहा जा सकता है कि रूस में कुल 83 प्रदेश हैं जिनमें 46 प्रान्त, 21 आंशिक रूप से स्वायत्त गणराज्य, 9 स्वायत्त रियासत, 4 स्वायत्त जिले, 1 स्वायत्त प्रान्त और 2 केंद्रशासित नगर – मास्को और सेंट पीटर्सबर्ग शामिल हैं।

रूस ऐसा देश हैं जहाँ पुरुषों की तुलना में महिलाओं की संख्या कहीं ज्यादा हैं।

अंतरिक्ष में सबसे पहले उपग्रह भेजने वाला देश भी रूस है।

रूस के पास किसी भी अन्य देश की तुलना में सबसे ज्यादा परमाणु हथियार मौजूद हैं।

विश्व के ऑयल प्रोड्यूसर देशों में रूस का दूसरा स्थान है।

रूस में अलकोहल की खपत बहुत ज्यादा होती है। हर रशियन एक साल में लगभग 18 लीटर अलकोहल का सेवन कर लेता है और यही कारण है कि रूस की 25% आबादी 55 साल की उम्र से पहले ही दम तोड़ देती है।

“आँख का वजन कितना होता है?”

अगर आप हिन्दी भाषा से प्रेम करते हैं और ये जानकारी आपको ज्ञानवर्धक लगी तो जरूर शेयर करें।
शेयर करें