जानिए क्या है बाबा रामदेव का डाइट प्लान

2105

शायद ही भारत में कोई ऐसा व्यक्ति होगा जो बाबा रामदेव को नहीं जानता होगा। पूरे विश्व में योग गुरु के रुप में प्रचलित बाबा रामदेव ने योगा को एक अलग ही आयाम तक पहुंचाया है। लेकिन क्या कभी आपने सोचा है कि बाबा रामदेव ऐसा क्या खाते हैं जो इतने फिट रह पाते हैं ?

कई मीडिया रिपोर्ट्स में यह भी बताया गया है कि बाबा रामदेव ने 18 साल तक रोटी चावल नहीं खाए और जून 2015 में उन्होंने अनाज खाना शुरू किया है। यह भी बताया जाता है कि बाबा रामदेव 1-2 गिलास गर्म पानी पीने के बाद आंवला और एलोवेरा का जूस पीते हैं और इसी से उनके दिन की शुरुआत होती है। तो चलिए आज हम आपको बाबा रामदेव का डाइट प्लान बताते हैं।

बाबा रामदेव की दिन की शुरुआत दो गिलास गर्म पानी के बाद आंवला और एलोवेरा जूस पीकर होती है। इसके बाद वह दैनिक कार्यों से निवृत होकर नहाते ही आधा लिटर गाय का दूध पीते हैं। बाबा रामदेव कभी भी नाश्ता नहीं करते क्योंकि वह मानते हैं कि नाश्ते में समय बर्बाद क्यों करें जब दो बार खाना खाने से ही पेट भर जाता है।

बाबा राम देव लंच सुबह 11:00 बजे के आसपास कर लेते हैं और डिनर वह सायं 7:00 से 8:00 बजे के बीच में करते हैं।

लंच में बाबा रामदेव एक मौसमी सब्जी, दो रोटी और एक कटोरी चावल खाते हैं और डिनर में वह सिर्फ सब्जी और दो रोटी खाते हैं।

डिनर में वह अपने खाने में चावल को शामिल नहीं करते।

बाबा रामदेव दोनों टाइम पोस्टिक आहार खाते हैं व क्रीम से बनी हुई चीजों को अपने लंच और डिनर में शामिल नहीं करते।

बाबा रामदेव पूर्ण रूप से उबली हुई सब्जियों को ज्यादा खाते हैं वह ज्यादातर लोकी, तोरई, टिंडे जैसी हरी सब्जियां खाना पसंद करते हैं और मुख्य तौर पर गाय का दूध भी पीते हैं। एक मीडिया इंटरव्यू में बाबा रामदेव ने यह भी बताया था कि वह 6 महीने तक गुरुकुल में खाना खाए बगैर भी गुजार देते थे।

बाबा रामदेव मुख्य तौर पर केसरिया रंग के कपड़े ही पहनते हैं। आपको बता दें कि बाबा रामदेव ने यह संकल्प लिया है कि वह केवल हाथ से बने ही कपड़े पहनेंगे जिससे भारत में बुनकरों को रोजगार मिले।

बाबा रामदेव मूल रूप से हरियाणा के रहने वाले हैं और उनकी सुरक्षा में हमेशा पर्सनल कमांडो तैनात रहते हैं इसके अलावा उन्हें केंद्र सरकार की तरफ से जेड प्लस सिक्योरिटी भी मिली हुई है।

बाबा रामदेव के साथ हमेशा उनका P.A. रहता है जो उनके हर आदेश को नोट करता जाता है। अगर आपको बाबा रामदेव से मिलना है तो पहले नाम नंबर और मिलने का कारण बताना जरूरी है। बाबा रामदेव सुबह उठते ही योगा सिखाते हैं और वह दिन में पतंजलि के ऑफिस में बिजनेस मीटिंग भी करते हैं। बाबा रामदेव का जागना खाना सोना सब पहले से ही निर्धारित रहता है वह कही भी जाए लेकिन योगा करना और सिखाना नहीं भूलते।

“रात में दही खाना हो सकता है नुकसानदायक, जानिए क्या है कारण”
“जानिए क्या है बिजली गिरने की असली वजह और इससे बचने के तरीके”
“जानिए क्या है समय का इतिहास”

Add a comment