फेसबुक हमारे जीवन में डाल रहा है ये बुरे प्रभाव, जरूर जानें

आजकल सोशल मीडिया का जमाना है और सोशल मीडिया में फेसबुक इस्तेमाल करने वाले यूजर्स की संख्या काफी ज्यादा है। इस बात का अंदाजा इसी बात से लगा सकते हैं कि जिन लोगों को पूरी तरह से इंटरनेट इस्तेमाल करना नहीं आता वो भी फेसबुक अकाउंट आराम से बना लेते हैं और उसे रोज इस्तेमाल भी करते हैं। फेसबुक यूज़र्स दिन में अपना ज्यादातर समय फेसबुक पर ही बिताते हैं लेकिन हम लोग इस बात से अनजान हैं की फेसबुक हमारे लिए कितना घातक हो सकता है। फेसबुक हमारे जीवन में बहुत बुरे प्रभाव डाल रहा है। आइए जानते हैं फेसबुक किस तरह से हमारे जीवन को प्रभावित कर रहा है और इससे होने वाले नुक्सान क्या हैं और इससे हम कैसे निजात पा सकते हैं।

समय बर्बाद करता है फेसबुक – अति हर चीज की बुरी होती है और यह कहावत फेसबुक पर सटीक बैठती है। आजकल यूज़र्स फेसबुक पर अपना कीमती समय बर्बाद करते हैं जिस कारण हमारे दूसरे आवश्यक कार्य अधूरे रह जाते हैं। खासकर विद्यार्थियों के लिए तो फेसबुक बहुत ज्यादा नुकसान दायक है क्योंकि उनका ज्यादातर समय पढ़ाई में कम और फेसबुक पर ज्यादा बीतता है जिससे वह पढ़ाई में ध्यान नहीं लगा पाते और फेसबुक की हर अपडेट को चेक करने में लगे रहते हैं।

डिप्रेशन का शिकार होते हैं – फेसबुक हमारे जीवन में तनाव भी लाता है और हमें डिप्रेस करता है क्योंकि फेसबुक पर लोग लगातार अपनी सफलता, मनोरंजन, शॉपिंग, ट्रिप इत्यादि की फोटो है शेयर करते रहते हैं। ऐसे में हमें लगता है की दूसरे सभी दोस्तों का जीवन हमसे ज्यादा बेहतर और खुशनुमा है और हम खुद की दूसरों से तुलना करने लगते हैं जिससे हम डिप्रेस होने लगते हैं।

फेसबुक पर धोखाधड़ी – फेसबुक के जरिए आए दिन लोगों के साथ धोखाधड़ी के कई मामले सामने आते रहते हैं और वह इसलिए क्योंकि फेसबुक पर किसी की असली पहचान करना बेहद मुश्किल है। कुछ लोग अपनी पहचान बदलकर दूसरे लोगों से फेसबुक के द्वारा जुड़कर उनके साथ कई तरह की धोखाधड़ी कर देते हैं और लोग उनके झांसे में आ जाते हैं।

छात्रों के परीक्षा परिणाम हो रहे प्रभावित – एक रिसर्च में पाया गया है कि जो स्टूडेंट्स फेसबुक का इस्तेमाल ज्यादा करते हैं उनका रिजल्ट बाकी बच्चों की तुलना में खराब रहता है और वह इसलिए क्योंकि उनमें फेसबुक पर चिपके रहने की आदत हो जाती है। वह हर मिनट फेसबुक पर अपने नोटिफिकेशन, मैसेज और चैट को चेक करते रहते हैं जिस कारण उनका पढ़ाई में ध्यान नहीं लग पाता और उनका रिजल्ट खराब हो जाता है।

स्वास्थ्य हो रहा है खराब – जो लोग फेसबुक पर अपना बहुत ज्यादा समय व्यतीत करते हैं वह आलसी बन जाते हैं और उनकी शारीरिक एक्टिविटीज कम हो जाती है जिस कारण वह कई तरह की बीमारियों की चपेट में आ जाते हैं।

फेसबुक यूजर को मौत का भी है खतरा – लोग घूमने जाते हैं तो कुछ खतरनाक जगहों की फोटोज फेसबुक पर शेयर करते हैं। इन खतरनाक जगहों पर लोग अपनी सेल्फी लेकर अपने दोस्तों के साथ फेसबुक पर शेयर करते हैं ये उनके लिए जानलेवा हो सकता है क्योंकि पहले भी ऐसे कई मामले सामने आए हैं जब खतरनाक जगह पर सेल्फी लेने के चक्कर में लोगों की जान गई है।

इंटरनेट से दूर कर रहा है फेसबुक – आजकल लोग इंटरनेट पूरी तरह से इस्तेमाल करना जाने या ना जाने लेकिन फेसबुक इस्तेमाल करना अच्छी तरह से जानते हैं। फेसबुक के अलावा भी इंटरनेट पर कई दूसरी एक्टिविटी होती है लेकिन Facebook पर लोग इतना ज्यादा समय व्यतीत करते हैं कि वो इंटरनेट के दूसरे फायदों और इस्तेमाल से अनजान रहते हैं।

हमारी भावनाओं पर पड़ रहा बुरा प्रभाव – दरअसल एक रिसर्च में पाया गया कि फेसबुक पर जिस तरह की पोस्ट ज्यादा होती है लोगों का मूड भी वैसा ही बन जाता है। इसीलिए आजकल नेताओं ने भी अपने प्रचार के लिए फेसबुक जैसे सोशल मीडिया साइट्स को अपना अहम जरिया बना लिया है। इतना ही नहीं फेसबुक के जरिये कुछ असामाजिक तत्व भी सांप्रदायिकता और जातिवाद जैसे मुद्दों पर लोगों को भड़काने का काम करते हैं और जो लोग फेसबुक पर ज्यादा समय व्यतीत करते हैं उन लोगों पर भी नकारात्मक बातों का असर होने लगता है और उनकी मानसिकता बदलने लगती है।

निरर्थक एक्टिविटीज – आपने देखा होगा कुछ खास मौकों पर जैसे समाज में फैली कुरीतियों या किसी घटना के समर्थन या विरोध में लोग अपनी फेसबुक प्रोफाइल पिक्चर बदलते हैं और इसके पीछे लोगों का मानना है कि इससे समाज में बदलाव आएगा। लेकिन ऐसा कुछ नहीं होता इन सब से सिर्फ समय की बर्बादी होती है और लोग असामाजिक तत्वों के प्रोपोगेंडा का शिकार हो जाते हैं।

कर्मचारियों की कार्यकुशलता घटा रहा फेसबुक – आजकल लोगों में फेसबुक की ऐसी लत लग गई है कि वह फेसबुक चेक किए बिना 1 मिनट भी नहीं रह सकते फिर चाहे वह घर पर हो या अपने दफ्तर में। इसी कारण फेसबुक कि यह लत ऑफिस में काम करने वाले कर्मचारियों की कार्यकुशलता को घटा रहा है क्योंकि लोग अपनी जॉब का मूल्यवान समय फेसबुक को देते हैं जिससे उनका काम में पूरी तरह से मन नहीं लग पाता और वह अपनी पूरी कार्यकुशलता से काम नहीं कर पाते जिससे उन्हें काफी नुकसान उठाना पड़ता है।

हमने यह लेख प्रैक्टिकल अनुभव व जानकारी के आधार पर आपसे साझा किया है। अपनी सूझ-बुझ का इस्तेमाल करे। आपको यह लेख कैसा लगा? अगर इस लेख से आपको कोई भी मदद मिलती है तो हमें बहुत खुशी होगी। अपनी प्रतिक्रिया जरूर दे। हमारी शुभकामनाएँ आपके साथ है, हमेशा स्वस्थ रहे और खुश रहे।

“यूट्यूब से जुड़े हैरान कर देने वाले रोचक तथ्य”
“Google से जुडी कुछ बेहद रोचक जानकारियां”
“सोशल मीडिया से जुड़े अजब गजब रोचक तथ्य”

अगर ये जानकारी आपको अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।

अगर आप किसी विषय के विशेषज्ञ हैं और उस विषय पर अच्छे से लिख सकते हैं तो जागरूक पर जरुर शेयर करें। आप अपने लिखे हुए लेख को info@jagruk.in पर भेज सकते हैं। आपके लेख को आपके नाम, विवरण और फोटो के साथ जागरूक पर प्रकाशित किया जाएगा।
शेयर करें

रोचक जानकारियों के लिए सब्सक्राइब करें

Add a comment