आइये जानते हैं बाजरा के फायदे और औषधीय गुण। सर्दियों में खाया जाने वाला मोटा अनाज बाजरा अपने आप में ढ़ेरों औषधीय गुण रखता है। बाजरे की रोटी का स्वाद तो आपकी ज़ुबान को भी याद होगा और उसे खाने के लिए आप भी अगली सर्दियाँ आने की राह देख रहे होंगे।

ऐसे में पोषण से भरपूर बाजरे से सेहत को होने वाले फायदों के बारे में आपको भी जरुर जानना चाहिए। तो चलिए, आज आपको बताते हैं बाजरा के फायदे और इसके औषधीय गुण।

बाजरा के फायदे और इसके औषधीय गुण

कोलेस्ट्रॉल को कम करने में – वर्तमान लाइफस्टाइल ने कोलेस्ट्रॉल की समस्या को बहुत आम बना दिया है लेकिन ये हार्ट के लिए कितनी घातक होती है, ये आप भी जानते हैं।

ऐसे में बाजरा में मौजूद फाइबर इस समस्या को दूर कर सकता है क्योंकि फाइबर की ज्यादा मात्रा हार्ट से ख़राब कोलेस्ट्रॉल (LDL) को बहुत कम कर देती है और अच्छे कोलेस्ट्रॉल (HDL) का प्रभाव बढ़ा देती है।

दिल को सुरक्षित रखने में – बाजरा मैग्नीशियम और पोटैशियम का अच्छा स्रोत होता है इसलिए इसका सेवन करने से ब्लड प्रेशर नॉर्मल रहता है और ब्लड सर्कुलेटरी सिस्टम सही तरीके से काम करने लगता है। बाजरा खाने से दिल का दौरा पड़ने का ख़तरा भी बहुत कम हो जाता है।

पाचन तंत्र को स्वस्थ बनाने में – पेट की समस्या हर रोग को जन्म देती है। ऐसे में बाजरा खाने से कब्ज, गैस, अपच, पेट फूलना जैसी पेट से जुड़ी समस्याएं दूर हो जाती है और पाचन तंत्र स्वस्थ बनता है।

डायबिटीज में राहत दिलाने में – बाजरा में पाया जाने वाला मैग्नीशियम टाइप-2 डायबिटीज को कम करने में मदद करता है क्योंकि मैग्नीशियम शरीर में इन्सुलिन और ग्लूकोज रिसेप्टर्स की क्षमता को बढ़ाने में सहायक होता है।

शरीर को डिटॉक्स करने में – बाजरा में क्वेरसेटिन, करक्यूमिन और कैटिंस जैसे एंटी-ऑक्सीडेंट्स मौजूद होते हैं जो शरीर से विषैले पदार्थों को बाहर निकालकर बॉडी को डिटॉक्स करते हैं। एंटी-ऑक्सिडेंट्स कैंसर पैदा करने वाले फ्री-रेडिकल्स के प्रभाव को भी समाप्त करते हैं।

अच्छी नींद के लिए – बाजरा में ट्रिप्टोफेन पाया जाता है जो शरीर में सेरेटोनिन के स्तर को बढ़ाता है। सेरेटोनिन तनाव को कम करता है और तनाव रहित नींद कितनी बेहतर होती है, इसका अंदाज़ा आपको भी जरूर होगा।

दमकती त्वचा के लिए – बाजरा में पाए जाने वाले एमिनो एसिड्स शरीर में कोलेजन निर्माण में सहायक होते हैं। कोलेजन स्तर मजबूत होने से त्वचा पर लचीलापन बढ़ता है, चमक आती है और झुर्रियाँ कम हो जाती है।

बाजरा में पाए जाने वाले एंटी-ऑक्सिडेंट्स भी बढ़ती उम्र के प्रभाव को कम करने में सहायक होते हैं। बाजरा में मौजूद विटामिन-सी, विटामिन-ई और सेलेनियम भी त्वचा की देखभाल करते हैं।

बालों की मजबूती के लिए – बाजरा प्रोटीन समृद्ध होता है और बालों को मजबूती के लिए प्रोटीन की जरुरत पड़ती है इसलिए बाजरे का सेवन करने से बालों को प्रोटीन की पर्याप्त मात्रा मिल जाती है जिससे बाल मजबूत होते हैं और उनका झड़ना कम हो जाता है।

वजन कम करने के लिए – बाजरा में फाइबर ज्यादा होता है इसलिए बाजरे की कम मात्रा खाने पर ही पेट भरा हुआ महसूस होने लगता है। ऐसे में ज्यादा खाने की समस्या और उससे वजन बढ़ने की मुश्किल से निजात मिल जाती है।

बाजरा में पाया जाने वाला ट्रिप्टोफैन एमिनो एसिड भी भूख को कम करता है इसलिए बाजरा खाकर वजन को आसानी से कम किया जा सकता है।

ब्रेस्ट कैंसर से बचाव के लिए – महिलाओं में होने वाले ब्रेस्ट कैंसर को रोकने का सबसे आसान और प्रभावी तरीका बाजरे का सेवन करना है इसलिए महिलाओं को अपने आहार में बाजरे को शामिल जरूर करना चाहिए।

हड्डियों की मजबूती के लिए – बाजरे में कैल्शियम पाया जाता है जो हड्डियों को मजबूत करने के लिए बहुत जरुरी पोषक तत्व होता है।

एनीमिया को दूर करने के लिए – बाजरे में आयरन की भी पर्याप्त मात्रा पायी जाती है इसलिए बाजरा खाने से खून की कमी यानी एनीमिया को दूर करने में मदद मिलती है।

दोस्तों, अब आप बाजरा के औषधीय गुणों और फायदों के बारे में अच्छे से जान गए हैं इसलिए आगे से बाजरे को रोटी या खिचड़ी के रूप में खाते समय स्वाद के साथ अच्छी सेहत का आनंद भी उठाइयेगा।

उम्मीद है बाजरा के फायदे और औषधीय गुण कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद भी साबित होगी।

“सबसे ज्यादा प्रोटीन किसमें होता है?”

जागरूक यूट्यूब चैनल