बीच में जिम छोड़ने के नुकसान – बीच में जिम छोड़ने से हो सकती है ये गंभीर समस्‍या

793

जीवन इतनी रफ्तार से आगे बढ़ रहा है की लोगों के पास समय तक नहीं है स्वयं के लिए. लेकिन फिर भी फिट रहना हर किसी की चाह होती है और होनी भी चाहिए. सेहत के लिहाज से फिटनेस बहुत जरूरी भी है. स्वयं को फिट रखने की दौड़ में बिजनैसमैन से लेकर सैलिब्रिटीज भी जिम जाते है. कुछ लोगों के लिए जिम जाना एक ट्रैंड है तो कुछ के लिए प्रोफैशन में फिटनेस बहुत आवश्यक है. कई लोग फिटनेस के लिए व्यायाम, योगा, डाइट, एरोबिक्स, डांस, जुम्बा आदि का भी सहारा लेते है. तेजी से बढ़ती टेक्नोलॉजी की दुनिया में फिटनेस को बनाए रखना एक बहुत बड़ा प्रश्न है.

गाँवों में लोगों के पास शारीरिक श्रम के लिए बहुत कुछ होता है लेकिन शहरी लाइफस्टाइल इसके बिल्कुल विपरीत है. इसीलिए शहरों में जिम का ट्रैंड अधिक है. परफेक्ट दिखने के लिए और वजन कंट्रोल करने के लिए जिम ज्वांइन करना बेस्ट ऑप्शन है. कई लोग तो फिट दिखने के लिए प्रोटीन और सप्लीमेंट का भी सहारा लेते है. खुद को कैसे फिट रखना है यह सबका अपना निजी फैसला है. शुरुआत में तो जिम का बहुत क्रेज रहता है लेकिन कुछ समय बाद नियमित रूप से जिम जाना पॉसिबल नहीं होता. लेकिन क्या आप जानते है अगर आप बीच में जिम जाना छोड़ते है तो यह आपकी सेहत के साथ खिलवाड़ करना होगा. आप अनजाने में कई बीमारियों की चपेट में आ सकते है. यह बात कई अध्‍ययनों के बाद सामने आई है.

हेल्थ एक्सपर्ट भी यही सलाह देते है आप जिस टारगेट से जिम जाते है वो टारगेट पूरा होने के बाद और ट्रेनर की सलाह के बाद ही जिम को छोड़ने का फैसला ले. अचानक से बीच में जिम ना छोड़े. अगर आप भी बीच में जिम छोड़ने की सोच रहे है तो इससे होने वाले शारीरिक नुकसान के बारे में भी आपको जानकारी होनी चाहिए.

आइये जानें, बीच में जिम छोड़ने के क्या-क्या नुकसान है –

1. दुर्बल मांसपेशियाँ – जिम छोड़ने के कुछ अंतराल बाद ही यह महसूस होने लगता है की मांसपेशियाँ की क्षमता में कमी आ रही है कोई भारी काम करने में मुश्किले आती है. जिसका कारण है मांसपेशियों में ढीलापन आना और खून का प्रवाह ठीक से ना होना. मांसपेशियों में कमजोरी का अहसास होने लगता है. कभी-कभी तो दर्द की शिकायत भी आ जाती है जिसे लोग समझ नहीं पाते की ऐसा क्यों हो रहा है.

2. रोग प्रतिरोधक क्षमता – अचानक से जिम छोड़ने के फैसले से इम्यून सिस्टम पर अच्छा खासा असर पड़ता है. जिम करते दौरान आपको एक संतुलित आहार की सूची दी जाती है और बहुत सी चीजों को बंद भी कर दिया जाता है, जिसका पालन आपको करना ही पड़ता है. लेकिन जिम छोड़ते ही आप खान-पान के प्रति उतने सचेत नहीं रह पाते और कभी भी कुछ भी खाने-पीने लग जाते है. इस लापरवाही का असर सीधे तौर पर इम्यून सिस्टम पर पड़ता है. जिस कारण बहुत सी तकलीफ शरीर को घेर लेती है.

3. मोटापा बढ़ना – वर्कआउट से शरीर का मेटाबॉलिज्म बढ़ता है और कैलोरी बर्न होती है. जिससे वजन भी कंट्रोल में रहता है. लेकिन अचानक से जिम छोड़ने से शरीर में गया भोजन पच नहीं पाता और कैलोरी भी बर्न नहीं होती, नतीजा चर्बी का बढ़ना. इस तरह धीरे-धीरे शरीर का वजन कब बढ़ने लग जाता है और आप कब मोटापे के शिकार हो जाते है पता ही नहीं चलता. अगर आप जिम छोड़ भी रहे है तो कम से कम डाइट प्लान को जरूर फॉलो करे.

4. दिल की समस्या – वर्कआउट से दिल को प्रयाप्त मात्रा में ऑक्सिजन मिलता है जिससे ब्लड सर्कुलेशन भी सही रहता है. लेकिन बीच में जिम छोड़ने से दिल के साथ बहुत बड़ा खिलवाड़ होता है. इससे हृदय कई बीमारी से ग्रसित हो जाता है. लंबी चली बीमारी से जान का खतरा भी बना रहता है.

5. तंदुरुस्ती में कमी – एकदम से जिम छोड़ने से आपके फिटनेस में कमी आने लगती है. अधिकांश समय आप खुद में थकान महसूस करेंगे. जिम छोड़ने के 3 से 4 महीने के अंदर आपके फिटनेस लेवल में आपको भारी कमी महसूस होगी. जिस फिटनेस को आपने पसीना बहाकर हासिल की थी वो फिटनेस जिम छोड़ते ही धीरे-धीरे चली जाती है. फिटनेस की जरूरत को देखते हुए बीच में जिम छोड़ने का फैसला ना लें.

जिम को बीच में छोड़ने से शारीरिक और मानसिक दोनों तकलीफों से गुजरना पड़ता है. फिट रहने के और भी कई साधन है. आप घर पर ही व्यायाम कर सकते है, टहलने जा सकते है, योगा कर सकते है, खान-पान पर कंट्रोल कर सकते है, तैराकी कर सकते है, मेडीटेशन कर सकते है, जॉगिंग कर सकते है. इसके अलावा भी आप कुछ हल्की-फुल्की कसरत या कोई भी वर्कआउट जो आप आसानी से कर सके और नियमित भी रख सके.

दोस्तों, जिम बीच में छोड़ने के परिणाम से तो आप वाकिफ हो गये. यह रिसर्च के आधार पर दिए गये परिणाम है. इसलिए सब पर यह परिणाम लागू हो यह जरूरी भी नहीं. लेकिन कुछ नुकसान से नकारा भी नहीं जा सकता. फिर भी आप जिम जाने के शौकीन है तो ध्यान रखे बीच में अचानक से वर्कआउट करना बंद ना करे.

विशेषज्ञ की सलाह के बाद उसी हिसाब से फैसला लें, कि आपके लिए क्या उचित है जिससे आपके स्वास्थ्य पर किसी भी तरह का कोई विपरीत असर ना पड़े. हमने जानकारी के आधार पर यह लेख लिखा है. हमने आपसे सिर्फ ज्ञानवर्धक जानकारी साझा की है. अपनी सूझ-बुझ का इस्तेमाल हमेशा करे. सदैव खुश रहे और स्वस्थ रहे.

“एक ही दिन में पना, छाछ और कोकम के शरबत का सेवन हो सकता है नुकसानदायक, जानिए कैसे”
“पानी को बार-बार नहीं उबालना चाहिए हो सकते हैं यह नुकसान”
“ये छोटी छोटी आदतें हमारे दिमाग के लिए हैं बेहद नुकसानदायक”

Add a comment