भारत का सबसे बड़ा जिला कौनसा है?

क्षेत्रफल की दृष्टि से गुजरात राज्य का कच्छ जिला भारत का सबसे बड़ा जिला है। गुजरात भ्रमण कच्छ की सैर के बिना अधूरा ही माना जाता है क्योंकि यहाँ देखने को इतना कुछ है कि पर्यटक भी आनंदित हो जाते हैं। ऐसे में गुजरात के इस प्रसिद्ध जिले के बारे में आपको भी जरूर जानना चाहिए। तो चलिए, आज बात करते हैं भारत का सबसे बड़ा जिला कच्छ के बारे में।

भारत के इस सबसे बड़े जिले का क्षेत्रफल 45,612 वर्ग किमी है। इस जिले का बहुत बड़ा हिस्सा रेतीला और दलदली है और यहाँ के मुख्य बंदरगाह जखाऊ, कांडला और मुंद्रा हैं।

कच्छ एक द्वीप है क्योंकि ये पश्चिम में अरब सागर, दक्षिण और दक्षिण पूर्व में कच्छ की खाड़ी, उत्तर और उत्तर पूर्व में कच्छ के रण से घिरा हुआ है।

ऐसा माना जाता है कि इस जिले की आकृति कछुएं जैसी है इसलिए इसका नाम कच्छ पड़ा है। इस जिले में प्राचीन महानगर धौलावीरा भी स्थित है जहाँ सिंधु संस्कृति विकसित हुयी थी। इस जिले का मुख्यालय भुज में है जो कच्छ के केंद्र में है।

कच्छ में कच्छी बोली और गुजराती भाषा ज्यादा बोली जाती हैं। हर साल इस जिले में आयोजित होने वाला कच्छ महोत्सव पर्यटकों में बहुत लोकप्रिय है।

अवशेषों के आधार पर कच्छ को प्राचीन सिंधु संस्कृति का हिस्सा माना जाता है। सन 1270 में कच्छ एक स्वतंत्र प्रदेश था लेकिन 1815 में ये ब्रिटिश साम्राज्य के अधीन हो गया। 1947 में भारत के आजाद होने के बाद कच्छ उस समय के महागुजरात राज्य का जिला बना और 1950 में कच्छ भारत का एक राज्य बना। उसके बाद 1956 में मुंबई राज्य का हिस्सा बनने वाले कच्छ को 1960 में गुजरात का एक हिस्सा बनाया गया।

कच्छ में सफेद रण, मांडवी समुद्र तट जैसे पर्यटन स्थल हैं और भुज में कच्छ के महाराजा का आइना महल, प्राग महल, शरद बाग पैलेस और हमीरसर तालाब जैसे दर्शनीय स्थल मौजूद हैं। इनके अलावा भद्रेश्वर जैन तीर्थ, कोटेश्वर में महादेव मंदिर और नारायण सरोवर जैसे पवित्र सरोवर भी स्थित हैं।

ऐसे में आप भी गुजरात भ्रमण के दौरान कच्छ की सैर जरुर करें। उम्मीद है कि भारत के सबसे बड़े जिले कच्छ से जुड़ी ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद भी साबित होगी।

“पीने के पानी का टीडीएस कितना होना चाहिए?”