स्वच्छता सर्वेक्षण में भारत के 10 सबसे गंदे शहर

स्वच्छ भारत अभियान पूरे देश में जोर शोर से छेड़ा गया और लोगों को स्वच्छता के प्रति जागरूक बनाया गया और अभी भी प्रयास जारी है। इस अभियान के चलते लोगों में भी जागरूकता आई है और देश में स्वच्छता देखने को मिली है। हाल ही में केंद्र सरकार द्वारा देश के 434 शहरों और नगरों में एक स्वच्छता सर्वेक्षण कराया गया जिसमे भारत के सबसे स्वच्छ और सबसे गंदे शहरों की लिस्ट जारी की गई। आपको बता दें की सबसे स्वच्छ शहर चुना गया मध्यप्रदेश का इंदौर शहर जबकि स्वच्छता की दृष्टि से जो शहर सबसे निचले स्थान पर रहा और सबसे गन्दा शहर चुना गया वो है उत्तर प्रदेश का गोंडा शहर। आइये आज आपको बताते हैं सरकार द्वारा किये गए स्वच्छता सर्वेक्षण में भारत के वो कौनसे 10 शहर हैं जो सबसे गंदे शहर चुने गए।

1. गोंडा (उत्तर प्रदेश) – देश के 434 शहरों में किये गए स्वच्छता सर्वेक्षण में उत्तर प्रदेश का गोंडा शहर सबसे निचले पायदान पर रहा और ऐसे में ये देश का सबसे गन्दा शहर चुना गया।

2. भुसावल (महाराष्ट्र) – महाराष्ट्र का भुसावल जिला 433वें पायेदान के साथ देश का दूसरा सबसे गन्दा शहर चुना गया।

3. बगहा (बिहार) – स्वच्छता सर्वेक्षण में देश के 434 शहरों की लिस्ट में 432वें पायदान के साथ बिहार का बगहा देश का तीसरा सबसे गन्दा शहर माना गया।

4. हरदोई (उत्तराखंड) – 431वें पायदान के साथ उत्तराखंड का हरदोई देश का चौथा सबसे गन्दा शहर चुना गया।

5. कटिहार (बिहार) – बिहार का एक और शहर कटिहार भी इस लिस्ट में शामिल है। 430वें पायदान के साथ कटिहार देश का पांचवा सबसे गन्दा शहर है।

6. बहराइच (उत्तर प्रदेश) – उत्तर प्रदेश का दूसरा शहर बहराइच भी देश के सबसे गंदे शहरों की सूचि में 429वें पायदान के साथ देश का छठा सबसे गन्दा शहर रहा।

7. मुक्तसर (पंजाब) – स्वच्छता सर्वेक्षण में देश के 434 शहरों की लिस्ट में 428वें पायदान के साथ पंजाब का मुक्तसर देश का सातवां सबसे गन्दा शहर माना गया।

8. अबोहर (पंजाब) – इस लिस्ट में आठवें पायदान पर भी पंजाब का ही दूसरा शहर अबोहर रहा जो स्वच्छता सर्वेक्षण में देश के 434 शहरों की लिस्ट में 427वें नंबर पर रहा।

9. शाहजहांपुर (उत्तर प्रदेश) – उत्तर प्रदेश का एक और शहर शाहजहांपुर भी देश के सबसे गंदे शहरों की सूचि में 426वें पायदान के साथ देश का 9वां सबसे गन्दा शहर रहा।

10. खुर्जा (उत्तर प्रदेश) – उत्तर प्रदेश का एक और शहर खुर्जा देश के सबसे गंदे शहरों की लिस्ट में दसवें पायदान पर रहा जो स्वच्छता सर्वेक्षण में देश के 434 शहरों की लिस्ट में 426वें नंबर पर रहा।

स्वच्छता के प्रति हम सभी नागरिकों को भी सजग होना होगा क्योंकि ये सिर्फ सरकार की ही नहीं हम सभी देशवासियो की भी जिम्मेदारी बनती है की हम अपने घर, मोहल्ले, शहर और देश को साफ़ रखें ताकि बिमारियों की सम्भावना कम हो और विदेशी सैलानियों पर भी एक बेहतर प्रभाव हो।

आपको यह लेख कैसा लगा? अगर इस लेख से आपको कोई भी मदद मिलती है तो हमें बहुत खुशी होगी। अपनी प्रतिक्रिया जरूर दे। हमारी शुभकामनाएँ आपके साथ है, हमेशा स्वस्थ रहे और खुश रहे।

“रहने के लिहाज से बेस्ट हैं ये भारत के 10 शहर”