चैटबोट क्या है?

ये नाम शायद आपने पहले ना सुना हो लेकिन इसके बारे में जानकर आपको हैरानी के साथ-साथ मजा भी बहुत आएगा क्योंकि इसके ज़रिये आपको रोबोट से बात करने का मौका जो मिल सकता है क्योंकि देश और दुनिया के बैंकिंग सेक्टर के कॉल सेंटर में रुपये, पैसे और निवेश से जुड़े सवालों के जवाब देने वाले रोबोट का नाम चैटबोट है। असल में चैटबोट एक सॉफ्टवेयर एप्लीकेशन है जो चैट इंटरफेस की तरह काम करता है और अपने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की मदद से ग्राहकों के सवालों के जवाब देता है।

देश के कुछ बैंकों ने चैटबोट की सेवा शुरू की है जैसे HDFC बैंक, जिसके पास 2 चैटबोट्स है। पहला फेसबुक मैसेंजर पर और दूसरा उसकी वेबसाइट पर। HDFC के इस चैटबोट का नाम ‘आस्क इवा’ है और इसमें इंसान की कहीं कोई भूमिका नहीं है। HDFC बैंक के अलावा Yes Bank ने भी अपने ग्राहकों के लिए चैटबोट्स लांच किये हैं जिनका इस्तेमाल ग्राहक ट्रांजेक्शन और कस्टमर सर्विस के लिए कर सकते हैं।

ऐसा नहीं है कि चैटबोट का इस्तेमाल केवल बैंक ही कर रहे हैं बल्कि नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनियां भी चैटबोट्स का इस्तेमाल कर रही हैं जैसे फुलरटोन इंडिया ने कुछ समय पहले ही फेसबुक मैसेंजर पर चैटबोट लांच किया है।

देश के कई बैंक, इंश्योरेंस कम्पनियाँ और फाइनेंशियल इंस्टिट्यूट्स चैटबोट्स के लिए फिनटेक कंपनियों से जुड़े हुए हैं जैसे HDFC बैंक चैटबोट सोल्यूशंस के लिए Niki.ai और Senseforth Technologies के संपर्क में है। इसी तरह Yes Bank ने फिनटेक कंपनी Payjo के साथ पार्टनरशिप की है।

दोस्तों, ये जानकर आपको हैरानी तो जरूर हुयी होगी कि अब ग्राहक रोबोट से अपने सवालों के जवाब ले सकेंगे। ये काफी रोमांचक भी है लेकिन इस बारे में बैंकिंग सेक्टर के विशेषज्ञों का मानना ये है कि चैटबोट्स का चलन बढ़ते रहने से धीरे-धीरे मौजूदा कॉल सेंटर्स के लिए ख़तरा पैदा हो जाएगा।

आपको यह लेख कैसा लगा? अपनी प्रतिक्रिया जरूर दे। हमारी शुभकामनाएँ आपके साथ है, हमेशा स्वस्थ रहे और खुश रहे।

“व्हाट्सऐप बिजनेस ऐप क्या है?”

अगर ये जानकारी आपको अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।