चोट से बहता खून रोक सकती है कॉफी, जानिए ऐसे ही कुछ कारगर टिप्स

चोट लग जाये या जल जाए तो अपनाएं कुछ ऐसे कारगर टिप्स जिनसे आपको होगा फायदा। जानिए कैसे घर में रोज काम आने वाले उत्पादों से भी कर सकते हैं अपना इलाज़।

फिटकरी
फिटकरी खून में मौजूद प्रोटीन को जमा देती है जिससे खून का थक्का बनने लगता है। इसलिए चोट वाली जगह पर फिटकरी लगाने से खून बहना बंद हो जाता है।

जला हुआ कॉटन
कटे हुए स्थान पर रुई जलाकर भर देने से खून का बहाव रुक जाता है। जलाने से रुई डिसइंफेक्टेड हो जाती है, इसके रेशे खून सोख लेते हैं।

डिओड्रेंट
ज्यादातर डिओड्रेंट में एल्युमिनियम क्लोराइड जैसे तत्व होते हैं जो खून का बहाव रोकने में मददगार होते हैं।

आटा
खून बहने वाले स्थान पर थोड़ा सा आटा छिड़क देने से बहता खून रुक जाता है। आटा घाव को बंद कर देता है और खून सोख लेता है।

शहद
चोट लगने पर उस जगह शहद लगाएं, शहद की एंटीबैक्टीरियल प्रॉपर्टी इन्फेक्शन से बचाती है और ब्लड नर्व्स को सिकोड़ कर खून का बहाव रोक देती है।

बर्फ
बर्फ लगाने से ब्लड नर्व्स सिकुड़ जाती है जिससे खून का थक्का बनने लगता है। इसलिए बर्फ लगाने से खून का बहाव कम हो जाता है या रुक जाता है।

पेट्रोलियम जैली
कटे, जले स्थान पर पेट्रोलियम जैली लगाने से खून का बहाव रुक जाता है।

टी बैग
टी बैग को चोट की जगह पर दबाने से खून का बहाव रुक जाता है। चाय की पट्टी कपडे में लपेटकर भी इस्तेमाल की जा सकती है।

कॉफी पाउडर
कॉफी में एस्ट्रिंजेंट जैसा गुण होता है। कटे हुए स्थान पर थोड़ा सा कॉफी पाउडर लगाने से खून रुक जाता है।

टूथपेस्ट
टूथपेस्ट एस्ट्रिंजेंट की तरह काम करता है। मामूली काटने पर ये ब्लड नर्व्स को सिकोड़ कर खून का बहाव रोक देता है।

हल्दी
हल्दी एंटीसेप्टिक का काम करती है और इन्फेक्शन से बचाती है। हल्दी पाउडर को लगाने से खून का बहाव बंद हो जाता है।

“अगर आपको भी सुबह उठकर थकावट लगती है तो ये टिप्स अपनाएं”
“पुराने सामानों को नए जैसा बनाने की शानदार टिप्स”
“घर साफ करने की आसान टिप्स”