इस जगह का तापमान रहता है -71 डिग्री देखिये कैसे रहते हैं लोग

इस समय सर्दियां अपने चरम पर है और अगर आप यह सच सोच रहे हैं कि दिल्ली और कश्मीर में अत्यधिक सर्दी पड़ रही है तो शायद आप गलत है। आज हम आपको एक ऐसी जगह दिखाने वाले हैं जहां पर तापमान माइनस 71 डिग्री रहता है। लेकिन फिर भी यहां पर लोग रहते हैं तो चलिए इस जगह के बारे में विस्तारपूर्वक जानते हैं।

रूस का यह गांव जिसका नाम ओयमयकों है दुनिया का सबसे ठंडा गांव माना जाता है। इस गांव को आम भाषा में ‘Pole of Cold’ भी कहते हैं। यहां पर औसतन तापमान माइनस 50 डिग्री रहता है जो कि -71 डिग्री तक पहुच जाता है। यह एक बहुत ही छोटा गांव है जिसमें 500 लोग रहते हैं।

यहां इतनी ठंड रहती है कि कोई पौधा भी पनप नहीं सकता। यहां पर रहने वाले लोग हिरण और घोड़े का मांस खाते हैं लेकिन डॉक्टरों ने यहां पर जब भी सर्वे किया तो यह पाया कि यहां के लोग कुपोषित नहीं हैं। यह लोग एक अच्छी डाइट लेते हैं जिसकी वजह से उन्हें कोई बीमारी नहीं होती।

आपको बता दें कि यहां पर अगर किसी की मृत्यु हो जाती है तो शवों को दफनाने के लिए भी 3 दिन का समय लगता है क्योंकि जमीन तक पहुंच पाना बेहद ही मुश्किल है। पहले कोयले से जमीन के ऊपर की बर्फ को पिघलाया जाता है फिर गड्ढा खोद कर शवों को दफन किया जाता है।

हम आपको यहां की बेहद ही बर्फीली तस्वीरों के साथ छोड़े जा रहे हैं हम आशा करते हैं कि आप इसे अपने मित्रों के साथ अवश्य शेयर करेंगे।

“देखिये सर्दियों में कितना खूबसूरत हो जाता है इन जगहों का नजारा”
“एक ऐसा अनोखा शहर जो पूरा बर्फ से बना हुआ है”
“-50 डिग्री तापमान में भी यहां काम करते हैं वर्कर्स”
“कड़ाके की ठंड के बीच कुछ ऐसे रहते हैं हमारे देश के वीर जवान”

अगर आप किसी विषय के विशेषज्ञ हैं और उस विषय पर अच्छे से लिख सकते हैं तो जागरूक पर जरुर शेयर करें। आप अपने लिखे हुए लेख को info@jagruk.in पर भेज सकते हैं। आपके लेख को आपके नाम, विवरण और फोटो के साथ जागरूक पर प्रकाशित किया जाएगा।
शेयर करें

रोचक जानकारियों के लिए सब्सक्राइब करें

Add a comment