इन अजीबोगरीब जगहों पर भी लोग रहते हैं

वैसे तो दुनिया में लोग पता नहीं कहां कहां पर अपना बसेरा बनाए हुए हैं। लेकिन आज हम आपको कुछ ऐसी जगह दिखाने जा रहे हैं जहां पर मानव का रहना बेहद मुश्किल है। इन जगहों के बारे में जानकर आप भी इस बात पर विश्वास करने लगेंगे कि वाकई में इस जगह पर रहना आसान नहीं है। तो चलिए इन जगहों के बारे में विस्तारपूर्वक जानते हैं।

पोन्टे वेकियो, इटली

यह जगह इटली के यादगार पुलों में से एक है यह ब्रिज आर्नो नदी पर बना है इसका निर्माण 1345 ईस्वी में किया गया था। इस पुल का कुछ हिस्सा नष्ट हो जाने के बाद लोगों ने पुल पर मकान और दुकाने बना लिए जो समय के साथ बढ़ते चले गए अब यह देखने में कुछ इस प्रकार लगते हैं।

हैंगिंग मॉनेस्ट्री, चीन

यह जगह चीन के शांझी प्रांत में स्थित है इसलिए इसको हैंगिंग मॉनेस्ट्री कहा जाता है। यह पहाड़ के एक हवा में झूलते हुए हिस्से में मौजूद हैं इसकी ऊंचाई जमीन से बहुत ऊपर है और इसे ऐसा इसलिए बनाया गया था कि ताकि बाढ़ से कोई भी नुकसान ना हो सके यह जगह पर्यटकों की पसंदीदा जगह में से एक है।

अल हजराह, यमन

यह जगह यमन की सबसे ऊंची पहाड़ी पर स्थित है। इसका निर्माण 12 वीं सदी में कराया गया था। यहां पर दिखने वाले सभी मकान ऊंची दीवार जैसे प्रतीत होते हैं जो कि दूर से देखने में काफी सुंदर लगते हैं।

कप्पदोकिया, तुर्की

यह जगह तुर्की के प्राचीन अनातोलिया प्रांत में मौजूद हैं। इसे इंसान के सबसे पुराने ठिकानों में से एक माना जाता है। यहां पर मानव सभ्यता के बारे में काफी कुछ देखने को मिलता है यूनेस्को ने इसे विश्व धरोहर में शामिल भी किया हुआ है।

सीलैंड

यह जगह समुद्र के बीच में स्थित है इसे एक देश का अधिकार भी प्राप्त है। सुनने में काफी अजीब लगता है लेकिन कई लोगों ने इसे अलग राज्य का दर्जा भी दे रखा है। यह जगह ग्रेट ब्रिटेन आयरलैंड से करीबन 13 किलोमीटर दूर समुद्र के बीचों बीच स्थित है शुरुआती दिनों में इस जगह पर अलग पासपोर्ट और अलग मुद्रा का चलन था।

रॉसानोऊ मॉनेस्ट्री, ग्रीस

यह जगह ग्रीस के खंबे नुमा पहाड़ पर बनी हुई है। यह खड़ी पहाड़ी है 1545 में इसका दुबारा निर्माण कराया गया था। इस जगह पर चर्च गेस्ट क्वार्टर रिसेप्शन हॉल डिस्प्ले हॉल समेत रहने की कई व्यवस्थाएं कही गई है। 18 साल में एक लकड़ी के पुल के बाद यहां पर पहुंचना आसान हो गया 1988 में नैनों के एक छोटे समूह ने यहां अपना ठिकाना बना लिया।

मतमाता, टयूनीशिया

यह जगह दक्षिणी ट्यूनीशिया से करीबन 335 किलोमीटर दूर है। यहां पर अफ्रीका की खानाबदोश जनजातियों का ठिकाना हुआ करता था। यहां पर बने सभी मकान जमीन में गड्ढा खोद कर बनाए गए हैं जो कि देखने में मानव निर्मित गुफाओं जैसे लगते हैं। 2004 के आंकड़ों के अनुसार अभी भी यहां पर 2116 लोग रहते हैं।

कासा दो पेनेड़ो, पुर्तगाल

पुर्तगाल की पहाड़ियों में बनाया गया यह घर बेहद अनोखा है। इसका निर्माण करीबन 1974 में कराया गया था। इस जगह को स्टोन हाउस के नाम से भी जाना जाता है। इस जगह को 4 बोल्डरों से मिलकर बनाया गया है। अगर दरवाजे खिड़कियों को छोड़ दिया जाए तो यह घर पत्थरों से बनाया गया है।

सेटेनिल डी लास बोदेगास, स्पेन

स्पेन के एन्डालूसिया प्रांत में स्थित यह जगह काफी मशहूर है। यहां की आबादी करीबन 3000 है। इस जगह को देखने में यकीन नहीं होता लेकिन यह पूरी जगह पहाड़ के नीचे बसी हुई है। यह जगह कैंडिस प्रांत उत्तर पूर्व में करीबन 157 किलोमीटर दूर स्थित है।

अगर आप किसी विषय के विशेषज्ञ हैं और उस विषय पर अच्छे से लिख सकते हैं तो जागरूक पर जरुर शेयर करें। आप अपने लिखे हुए लेख को info@jagruk.in पर भेज सकते हैं। आपके लेख को आपके नाम, विवरण और फोटो के साथ जागरूक पर प्रकाशित किया जाएगा।
शेयर करें

रोचक जानकारियों के लिए सब्सक्राइब करें

Add a comment