डेंगू क्या है?

डेंगू का नाम सुनते ही आजकल लोगों में डर फैलने लगा है क्योंकि सामान्य सा लगने वाला ये बुखार कई मामलों में जानलेवा भी साबित होता है। ऐसे में आपको भी डेंगू से जुड़ी जानकारी जरूर लेनी चाहिए। तो चलिए, आज आपको बताते हैं डेंगू क्या है।

मादा एडीज इजिप्टी मच्छर के काटने से डेंगू बुखार होता है। ये मच्छर दिन में काटते हैं, खासकर सुबह के समय। बारिश के मौसम और उसके बाद आने वाले महीनों में इस बुखार का ख़तरा सबसे ज्यादा बढ़ जाता है क्योंकि इन महीनों में इन मच्छरों के बढ़ने के लिए अनुकूल परिस्थितियां बन जाती हैं।

डेंगू तीन तरह का होता है-

  • साधारण या क्लासिकल डेंगू बुखार
  • डेंगू हैमरेजिक बुखार
  • डेंगू शॉक सिंड्रोम

मच्छर के काटने के 3-5 दिनों के बाद मरीज में डेंगू के लक्षण दिखाई देने लगते हैं। डेंगू के इन प्रकारों में से दूसरा और तीसरा प्रकार जानलेवा हो सकता है इसलिए समय रहते सही इलाज जरुरी होता है।

डेंगू के लक्षण-

  • ठण्ड लगकर तेज बुखार आना
  • सिर में दर्द होना
  • मांसपेशियों और जोड़ों में दर्द होना
  • आँख के पिछले हिस्से में दर्द होना
  • जी मितलाना
  • भूख ना लगना
  • कमजोरी महसूस होना
  • चेहरे, गर्दन और छाती पर लाल गुलाबी रंग के चकत्ते पड़ना

डेंगू में प्लेटलेट्स कम होने लगती हैं। हमारे ब्लड में पायी जाने वाली प्लेटलेट्स ब्लीडिंग रोकने का काम करती है। इनकी संख्या डेढ़ से दो लाख तक होती है लेकिन अगर प्लेटलेट्स एक लाख से कम हो जाए तो इसकी वजह डेंगू भी हो सकता है।

डेंगू से बचाव कैसे करें-

  • शरीर को स्वस्थ और मजबूत बनाये रखें
  • हेल्दी डाइट लें
  • नाक के अंदर सरसों का तेल लगाने से बैक्टीरिया नाक में नहीं पंहुच पाएंगे
  • अपने आहार में हल्दी का इस्तेमाल थोड़ा ज्यादा करें
  • तुलसी के पत्तो का रस शहद के साथ मिलाकर लें
  • इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने के लिए विटामिन-सी युक्त फलों का ज्यादा सेवन करें

“आँख का वजन कितना होता है?”