लहसुन के फायदे – क्या आप जानते हैं लहसुन के स्वास्थ्य लाभ

अपनी महक के कारण लहसुन खाने में हो सकता है आपकी पहली पसंद ना हो, लेकिन यह गुणों का भंडार है। सभी तरह के व्यंजनों में लहसुन का प्रयोग स्वाद बढ़ाने के लिए मुख्य तौर पर किया जाता है। लेकिन, आप कल्पना भी नहीं कर सकते कि लहसुन की एक कली हमारे अंदर पैदा होने वाले कई रोगों को नष्ट करने में सक्षम है। यह कई बिमारियों की रोकथाम तथा उपचार में लाभकारी है। लहसुन के फायदे में स्वास्थ्य लाभ के साथ-साथ इसका उपयोग सौंदर्य निखारने में भी होता है। लहसुन की एक छोटी सी कली को भी सदियों से शरीर के लिए गुणकारी माना गया है।

कीटाणुरोधी, जीवाणुरोधी, एंटीसेप्टिक और जंतुनाशक के रूप में कच्चे लहसुन के तेल का प्रयोग बड़े पैमाने पर किया जाता है। क्योकि लहसुन एक महत्वपूर्ण प्राकृतिक एंटीबायोटिक की तरह कार्य करता है। लहसुन के नित्य सेवन से शरीर के विषाक्त पदार्थ बाहर निकलते हैं और शरीर को ताकत भी प्रदान होती है। लहसुन में विटामिन- B1,B6,C,मैगनीज, कैल्शियम, कॉपर, एलीसीन, एजोइन, एलीन, सेलेनियम, सल्फर, आयरन आदि यौगिक तत्व पाए जाते हैं। सल्फर यौगिक की प्रचुर मात्रा के कारण इसका स्वाद तीखा कड़वा होता है। अपने इन्हीं गुणों के कारण आयुर्वेद में लहसुन को रसायन के रूप में बड़ा महत्व दिया गया है।

कई लोगों को लहसुन के नाम से ही एलर्जी होने लगती है। लेकिन इसका उपयोग दांत, मांस, नाखून, बाल, मोटापा, दमा, दिल के रोग, पेट के कीड़े, खांसी, कब्ज, जोड़ों के दर्द व आंखों के रोग आदि दूर करने में किया जाता है। लहसुन स्वास्थ्य के लिए चमत्कारों से भरपूर है। लहसुन से अत्यधिक लाभ पाने के लिए इसे कच्चा खाना चाहिए। बहुत ज्यादा देर तक पका देने से इसके कुछ मुख्य स्वास्थ्यवर्धक पौष्टिक तत्व नष्ट हो जाते हैं। सुबह खाली पेट लहसुन का सेवन अधिक प्रभावकारी होता है। लहसुन के फायदे की सूची कभी ख़त्म नही होने वाली है।

तो आइये, इस लेख में आज हम आपको बताने जा रहे हैं, लहसुन के फायदे के बारे में, जिसे बहुत कम लोग ही जानते होंगे-

  1. कैंसर – कैंसर जैसी भयंकर बिमारी की रोकथाम करने में आपके शरीर की प्रतिरोधक शक्ति को बढ़ाता है। लहसुन की कच्ची कली के सेवन से प्रोस्टेट कैंसर में लाभ होता है। यह ब्रेस्ट कैंसर कि भी रोकथाम करता है।
  2. त्वचा के संक्रमण – अगर आपकी त्वचा पर कोई संक्रमण हुआ है, तो लहसुन का पेस्ट संक्रमित जगह पर कुछ देर लगाकर रखें और बाद में पानी से धो लें।
  3. दाँत दर्द – दाँतों के दर्द में लहसुन का सेवन काफी फायदेमंद है। प्रभावित दाँत में लहसुन का तेल लगाने से या कीड़ा लगे दाँतों के दर्द में आप लहसुन के टुकड़ों को गरम करके दर्द वाले दांत पर कुछ देर तक दबाएं रखे। इस उपाय से दर्द भी ठीक होता है और इससे इंफेक्शन का खतरा भी कम हो जाता है।
  4. बदन दर्द – 100 ग्राम सरसों का तेल, 2 ग्राम अजवाइन के दाने और 9-10 लहसुन की कली डालकर मंद आंच पर पकाएं। लहसुन और अजवाइन का रंग काला हो जाने पर तेल उतारकर ठंडा करके छान लें और बोतल में भरकर रख दें। बदन दर्द की समस्या होने पर इस तेल को गुनगुना करके इसकी मालिश करने से हर प्रकार का बदन का दर्द दूर हो जाता है।
  5. मोटापा – 5-6 लहसुन की कलियां भिगो दें और सुबह पीस लें। फिर लहसुन के इस पेस्ट में भुनी हिंग, अजवाइन, सौंफ, सोंठ, सेंधा नमक व पुदीना मिलाकर चूर्ण बना लें। 5 ग्राम चूर्ण रोज फांकने से अतिरिक्त चर्बी कम होती जाती है।
  6. सर्दी – लहसुन के रस की कुछ बूंदे रुई में भिगोकर सूंघने से सर्दी में जल्द आराम आता है।
  7. दमा – 10 बूँद लहसुन का तेल और 2 चम्मच शहद को एक ग्लास पानी में मिलाकर प्रतिदिन पीने से दमा रोग में बहुत फायदा मिलता है। लहसुन के रस को हमेशा खाना खाने के बाद ही पीना चाहिए।
  8. मुँह के छाले – मुँह के छाले को ठीक करने के लिए ताजा लहसुन की कली को सीधे छालों पर रख दें। इससे छाले ठीक हो जायेंगे।
  9. उच्च-रक्तचाप – प्रतिदिन सुबह लहसुन की 2 कली छीलकर पानी के साथ निगलने पर उच्च-रक्तचाप में आराम आता है।
  10. अस्थमा – अदरक की गरम चाय के साथ दो पिसी हुई लहसुन कि कली लेने से अस्थमा की बिमारी से राहत मिलती है।
  11. मुँहासे – लहसुन की दो कलियों का पेस्ट और एक छोटा चम्मच हल्दी पाउडर मिला कर मिश्रण बना लें। इस मिश्रण को सिर्फ मुँहासों पर लगाएं। मुँहासे जल्द गायब हो जाएंगे।
  12. दिल के रोग – लहसुन की दो कलियों के पेस्ट को एक गिलास दूध में उबाल लें और ठंडा करके सुबह-शाम कुछ दिन पीनें से दिल से संबंधित बिमारियों में आराम आता है।
  13. बालों की समस्या – लहसुन की 5 कलियों को थोड़े पानी से पीस लें और उसमें 10 ग्राम शहद मिलाकर सुबह-शाम सेवन करने से सफेद बाल काले हो जाते हैं। बाल झड़ने की समस्या में लहसुन का रस बालों की जड़ों में लगाकर तुरंत ढंक दें। थोड़ी देर बाद बाल धो ल। इस उपाय को कई हफ्तों तक आजमायें। इस उपाय से जूँ और रूसी की परेशानी भी ख़त्म हो जाती है।
  14. खाँसी – एक ग्लास अनार के ज्यूस में बीस बूँद लहसुन के रस को मिलाकर पीने से पुरानी से पुरानी खांसी भी पूरी तरह से ठीक हो जाती है।
  15. फोड़े-फुंसी – लहसुन पूर्ण रूप से एंटीबायोटिक है। इसलिए फोड़े होने पर लहसुन का पेस्ट बनाकर उसकी पट्टी बांधने से फोड़े मिट जाते हैं।

सर्दियों में लहसुन के नित्य सेवन से ठंड नही लगती है। लहसुन खाने की आदत से ट्यूमर को 70% तक कम किया जा सकता है। फ्लू, टीबी, गठिया, गले का दर्द, कोलेस्ट्रॉल पे नियंत्रण, एलर्जी, तनाव, कान का संक्रमण, पाचन तंत्र, भूख की समस्या, दस्त, फेफड़ों की समस्या, मधुमेह आदि कई तकलीफों में लहसुन हमारे लिए प्रकृति कि ओर से तौहफा है। लहसुन खून को साफ और पतला रखकर शरीर में खून के प्रवाह को सुचारू रूप से बनाए रखता है। इसको प्रतिदिन अपने आहार में लेने से शरीर को लेड तथा मर्करी जैसे घातक तत्वों से छुटकारा मिलता है और शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता का विकास होता है। लहसुन के तेल में एंटी बैक्‍टीरियल और एंटी सेप्‍टिक गुणों का भंडार है जो कि दांत दर्द, कान दर्द आदि में आराम दिलाता है।

अधिक मात्रा में लहसुन का सेवन ना करें, जिससे आपके कोई परेशानी उत्पन हो। अगर आपको किसी भी तरह की महक या लहसुन से एलर्जी है, तो लहसुन के सेवन से पहले अपने आहार चिकित्सक से राय ज़रूर लें। हमारा उद्देश्य आपका सामान्य ज्ञान बढ़ाना है। लहसुन के संपूर्ण फायदे के लिए आप अपने आहार चिकित्सक से परामर्श ज़रूर करें।

“सुबह उठकर पानी पीने से होते हैं ये जबरदस्त स्वास्थ्य लाभ”

अगर ये जानकारी आपको अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।

अगर आप किसी विषय के विशेषज्ञ हैं और उस विषय पर अच्छे से लिख सकते हैं तो जागरूक पर जरुर शेयर करें। आप अपने लिखे हुए लेख को info@jagruk.in पर भेज सकते हैं। आपके लेख को आपके नाम, विवरण और फोटो के साथ जागरूक पर प्रकाशित किया जाएगा।
शेयर करें

रोचक जानकारियों के लिए सब्सक्राइब करें

Add a comment