आइये जानते हैं गर्म करने पर दूध क्यों उफनता है। रोज सुबह अगर आप भी दूध उफन जाने से परेशान हो गए हैं और ये सोचते हैं कि ऐसा क्यों होता है जबकि पानी को गर्म करने पर वो उफनता नहीं है।

तो आज आपको बताते हैं कि गर्म करने पर दूध उफन क्यों जाता है और पानी क्यों नहीं उफनता है। दूध और पानी भले ही तरल पदार्थ हैं लेकिन दूध पानी की तरह सरल लिक्विड नहीं है बल्कि ये एक कोलाइडल है जिसमें कई पदार्थ निलंबित होते हैं जैसे प्रोटीन, शर्करा, वसा, विटामिन और खनिज।

दूध का रंग सफ़ेद क्योँ होता है

गर्म करने पर दूध क्यों उफनता है?

जब आप दूध को गर्म करते हैं तब उसमें से प्रोटीन और वसा अलग हो जाते हैं और हल्के होने की वजह से ये दोनों दूध की सतह पर इकट्ठा होकर एक परत बना लेते हैं। दूध में पानी की भी काफी मात्रा मौजूद होती है जो भांप बनकर ऊपर उठती है लेकिन दूध की सतह पर बनी परत से बाहर नहीं निकल पाती।

अगर इस स्थिति में भी दूध गर्म होता रहे तो भांप तेजी से ऊपर उठती है और बुलबुलों के रूप में झाग बनाती है और ऐसा होने पर दूध उफन कर बाहर आ जाता है।

दूध को उफनने से रोकने के लिए क्या करना चाहिए– अगर आप चाहते हैं कि दूध उफने नहीं, तो इसके लिए दूध के बर्तन में एक लम्बा चम्मच रख दीजिये। ऐसा करने से दूध की सतह पर जमा हुयी मलाई की परत के नीचे वाष्प जमा नहीं हो पायेगी और उसे बाहर निकलने का रास्ता मिल जाएगा।

दूध को उफनने से रोकने का एक और उपाय है– इसके लिए दूध पर वसा और प्रोटीन की परत बनने ही मत दीजिये जो बाहर निकलने वाली वाष्प का रास्ता रोक सके। इसके लिए आपको दूध को हिलाते रहना होगा ताकि दूध की सतह पर परत भी ना बने और वाष्प को बाहर निकलने का रास्ता भी मिल जाये।

उम्मीद है जागरूक पर गर्म करने पर दूध क्यों उफनता है कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद भी साबित होगी।

दिमाग में नकारात्मक विचार क्यों आते हैं?

जागरूक यूट्यूब चैनल