कैसे करें दूसरों की गलतियों को माफ़

248

मिर्ज़ा ग़ालिब ने कहा है – “कुछ इस तरह मैंने ज़िन्दगी को आसां कर लिया, किसी से माफी मांग ली, किसी को माफ कर दिया” ज़िन्दगी में कभी न कभी हम सभी से ग़लतियाँ होती हैं और उनका अहसास होने पर हम माफी चाहते भी है, लेकिन किसी और की ग़लती को माफ कर पाना आसान क्यों नहीं होता ? क्योंकि उससे जुड़ी तकलीफें आपको ऐसा करने से रोकती हैं। ये सही भी है कि हर बार ग़लतियों को अनदेखा करके किसी भी व्यक्ति को बढ़ावा नहीं दिया जा सकता लेकिन जब आप किसी को माफ नहीं कर रहे होते हैं, उस समय आपकी मनः स्थिति बेचैनी, तकलीफ और दर्द से जुड़ी होती है । ऐसे में आपको कुछ ऐसा करने की जरुरत होती है जिससे दूसरों के किये की सजा आप खुद को ना दें। माफी देकर आप अपने मन के बोझ को हल्का कर सकते हैं और सामने वाले को एक अवसर भी दे सकते हैं कि वो चाहे तो आपके साथ रिश्ते को फिर से सुधारने की कोशिश कर ले। ये करना बहुत कठिन लगता है लेकिन अगर आप ये जान लेंगे कि माफ़ कर देने से आपके जीवन में बेहतर बदलाव आ सकते हैं और आप अपने नकारात्मकता से बोझिल हो रहे मन को हल्का कर सकते हैं तो आपके लिए ऐसा करना बेहद आसान भी हो जाएगा। तो चलिए, आज आपको बताते हैं कि किसी को माफ करने से आपके जीवन में कौनसे बेहतरीन बदलाव आ सकते हैं और कैसे माफ किया जाए-

माफ कर देने से अतीत से जुड़ी तकलीफें समाप्त हो जाती हैं –
अतीत आपके जीवन का ऐसा भाग होता है जिसकी अच्छी यादें आपको खुश करती हैं और बुरे अनुभव निराशा से भर देते हैं। ऐसी ही एक निराशा पनपती है किसी से अतीत में मिले धोखे, अपमान, दुर्व्यवहार जैसे अनुभवों से, जो आपको जीवन में आगे बढ़ने से रोकती हैं और आप नए लोगों से मिलने और नए रिश्ते बनाने से भी डरने लगते हैं। लेकिन आप ये भी तो जानते हैं कि जीवन चलने का नाम है, तो फिर आप अपने अतीत के कड़वे अनुभवों को अपने साथ रखकर इस जीवन को बोझिल क्यों बनाये रखना चाहते हैं। अगर आप सच में लाइफ में आगे बढ़ना चाहते है, तो सबसे पहले आपको उन लोगों को माफ करना होगा जिन्होंने आपको ठेस पहुँचायी है। ये आपके लिए आसान नहीं होगा लेकिन ऐसा करके आप अपने जीवन को बेहतर बना लेने की शुरुआत कर लेंगे क्योंकि माफी देने से आपके ज़ेहन में अतीत की यादें तो शेष रहेंगी लेकिन उनमें इतना सामर्थ्य नहीं होगा कि आपको नियंत्रित कर सके और जब आप अपने बुरे अनुभवों से स्वतंत्र हो जाएंगे तो सोचिये जीवन कितना खुशनुमा हो जाएगा।

माफ़ करने से आपके लिए जीवन में आगे बढ़ना आसान हो जाता है –
अगर आप अपने जीवन के रुक जाने का दोष किसी की ग़लतियों को दे रहे हैं तो ऐसा मत कीजिये। आपका जीवन और उससे जुड़े सभी निर्णय आपके अपने हाथ में हैं। खुद से ये कहना बंद कर दीजिये कि किसी व्यक्ति की वजह से आपका जीवन ख़राब हो गया है या किसी के धोखे के कारण आप आगे नहीं बढ़ पाए, जीवन के अपने लक्ष्य हासिल नहीं कर पाए हैं। अपने जीवन की जिम्मेदारी स्वयं लीजिये और अपनी लाइफ को बिलकुल वैसे ही आगे बढ़ाइए जैसे आपने सोचा था। ऐसा कर पाने के लिए ये बेहद ज़रूरी है कि आप पॉजिटिव और पावरफुल महसूस कर पाए और ये तभी हो सकता है जब आप बदला लेने या खुद के साथ हुए धोखे से जुड़े नकारात्मक विचारों को खुद से दूर कर लें और इसके लिए माफ करना सबसे ज़रूरी है।

माफ करने के लिए अपनाइये ये तरीके –

स्टेप 1
उन सभी लोगों की एक सूची बनाएं जिनके लिए आपको लगता है कि उन्होंने आपके साथ ग़लत किया। इसके बाद नीचे लिखें कि प्रत्येक व्यक्ति ने क्या किया और यह सही क्यों नहीं है।

स्टेप 2
इस बात को दिल से स्वीकार कर लें कि ऐसी ग़लती हुई और उन्होंने आपको ठेस पहुँचायी।

स्टेप 3
अपने आप से वादा कीजिये कि आप वो सारे काम करेंगे जिनसे आपको बेहतर महसूस हो।

स्टेप 4
इस बात को समझिये कि आपको तकलीफ इस बात से नहीं हो रही है कि क्या ग़लत हुआ, बल्कि उस घटना से जुड़े आपके विचारों से हो रही है जो लगातार आपके दिमाग में चल रहे हैं। ये भी सोचिये कि आपके विचार आपके नियंत्रण में है।

स्टेप 5
जो कुछ हुआ, उसके कारण जब भी आप अपने आप को निराश होता हुआ पाए, उस समय तनाव को कम करने की तकनीक का अभ्यास करिये।

स्टेप 6
पुराने अनुभवों से परेशान होने की स्थिति में आप एक काम और कर सकते हैं, खुद से ये पूछिए – “मैं किसके लिए आभारी हूँ?” और ये स्वयं से बार-बार पूछिए जब तक आपको बेहतर महसूस न होने लगे।

स्टेप 7
आपके अंदर मौजूद ऊर्जा को सही दिशा में लगाइये। अपने लक्ष्यों के निर्धारण और उनकी प्राप्ति के लिए, न कि ख़राब अनुभवों को लगातार सोचकर व्यर्थ गंवाने में।

स्टेप 8
किसी की ग़लतियों का बदला लेने का सबसे बेहतरीन तरीका है अपनी ज़िन्दगी को बेहतर तरीके से जीना और माफ कर देने का मतलब है किसी की ग़लतियों के कारण व्यर्थ हो रही अपनी ऊर्जा को वापिस अपने पास ले लेना।

स्टेप 9
किसी को माफ़ करके अपनी लाइफ में आगे बढ़ जाइये क्योंकि माफ़ नहीं करना खुद को कैद में रखने जैसा होता है।

लाइफ में ऐसे बहुत से अवसर आते हैं जो आपको आज़माते हैं। चाहे वो आपकी खुद की ग़लतियों के रूप में आये या फिर अपनों की भूलों के लिए माफ़ी देने के रूप में। आप हर बार अपने आप को विजेता साबित कर सकते हैं। इसके लिए आप अपनी ग़लतियों के प्रति सजग रहिये, पुरानी ग़लतियों को दोहराइये मत और नयी ग़लतियाँ करने से पहले उनके परिणामों को सोच लीजिये और किसी और से हुई ग़लतियों का बोझ उठाने की बजाए क्षमा करके खुद को स्वतंत्र कर लीजिये।

“आपकी एक गलती से आपको होते हैं ये 5 बड़े फायदे”
“हर मुकाम पर सफल होंगे अगर जान ली ये बातें”
“रिश्तों को मज़बूत बनाने के लिए अपनाइये ये जरुरी टिप्स”

Add a comment