भारत की पहली ई-कचरा मशीन, प्लास्टिक का कचरा डालो बदले में मिलेंगे पैसे

1462

प्लास्टिक कचरा हमारे भारत की एक बड़ी समस्या बनता जा रहा है। प्लास्टिक कचरे से ना सिर्फ हमारे पर्यावरण को नुकसान हो रहा है बल्कि जानवरों को भी इसे खाने से काफी नुकसान हो रहा है। लेकिन अब प्लास्टिक कचरे से निपटने के लिए भारत ने एक नया कदम बढ़ाया है और इसके लिए दिल्ली में अब एक ऐसी ई-कचरा वेंडिंग मशीन लगाई जा रही है जिसमें प्लास्टिक कचरा डालने के बदले पैसे मिलेंगे। यह कदम शहर को स्वच्छ बनाने की ओर एक बेहतर प्रयास है।

लोग अक्सर पानी, कोल्ड ड्रिंक इत्यादि की प्लास्टिक बोतल आदत अनुसार या कचरा पात्र ना मिलने की वजह से यहां वहां डाल देते हैं। लेकिन अब ई-कचरा वेंडिंग मशीन की तरफ लोग आकर्षित होंगे क्योंकि इसमें कचरा डालने के बदले ATM मशीन की तरह पैसे भी मिलेंगे। फिलहाल दिल्ली में कनॉट प्लेस के आठवें ब्लॉक और इंडिया गेट पर यह मशीनें लगाई गई हैं लेकिन धीरे-धीरे इन मशीनों का विस्तार किया जाएगा ताकि लोग जागरुक बनें और हर तरफ सफाई रहे।

यह मशीन दूसरे तरह का कचरा डालने के लिए नहीं है इस मशीन में सिर्फ प्लास्टिक कचरा ही डाला जा सकता है जिसके बदले कचरा डालने पर लोगों को पैसे मिलेंगे। अपने इस खास फीचर के चलते यह ई-कचरा वेंडिंग मशीन काफी चर्चित हो रही है।

इस तरह की ई-कचरा वेंडिंग मशीन न्यूयॉर्क में भी लगाई गई है और उसी की तर्ज पर भारत सरकार और नई दिल्ली नगरपालिका परिषद के सहयोग से भारत की एक स्टार्टअप कंपनी ने दिल्ली में इस प्रोजेक्ट की शुरआत की है ताकि ATM की तरह पैसा मिलने से आकर्षित होकर लोग प्लास्टिक कचरा इधर-उधर ना फेंक कर इस वेंडिंग मशीन में डालें जिससे सड़के साफ रहे।

e-trash-vending-machine-in-delhi1 भारत की पहली ई-कचरा मशीन, प्लास्टिक का कचरा डालो बदले में मिलेंगे पैसे

Image Source

फिलहाल यह मशीनें पूरी तरह से चालू नहीं है अभी इनमें कुछ सॉफ्टवेयर इंस्टॉल करने बाकी है जिसके बाद ही इन मशीनों को चालू किया जाएगा। फिलहाल अभी इस बात का भी खुलासा नहीं किया गया है कि एक प्लास्टिक का सामान डालने पर कितनी राशि मिलेगी।

माना जा रहा है कि जल्द ही इन मशीनों का काम पूरा कर इन्हें उपयोग में लाया जाएगा और इन मशीनों को चालू करने के बाद दिल्ली के दूसरे इलाकों में भी इस तरह की मशीनें लगाई जाएंगी। इस तरह की ई-कचरा वेंडिंग मशीन लगने के बाद उम्मीद की जा रही है कि लोग इस तरफ आकर्षित होंगे और इस पहल से दिल्ली की सड़कें साफ-सुथरी होगी।

Featured Image Source

Add a comment