ईयरफोन से सुनने की क्षमता पर असर

0

आइये जानते हैं ईयरफोन से सुनने की क्षमता पर असर के बारे में। हर दिन के साथ बढ़ते शोर-शराबे के बीच कुछ पल फुर्सत से बैठकर गाने सुनने, पीसी पर मूवी देखने या किसी अपने से फोन पर बात करने के लिए आप भी शायद ईयरफोन का इस्तेमाल करते होंगे।

इनका उपयोग आज इतना बढ़ गया है कि मार्केट में अलग-अलग रेंज और वैरायटी के ईयरफोन मिलने लगे हैं। इनका इस्तेमाल करना भी आसान होता है और इसे यूज करने से आवाज भी साफ समझ आती है इसलिए शायद आप भी दिन रात इसे अपने कानों में लगाए रहते होंगे।

लेकिन क्या आप जानते हैं कि ईयरफोन का ज्यादा इस्तेमाल आपको बीमार बना सकता है और आपके शरीर को बुरी तरह से प्रभावित कर सकता है। अगर आप नहीं जानते हैं तो आइये, आज आपको बताते हैं कि ईयरफोन किस तरह आपकी सेहत को प्रभावित कर सकता है।

ईयरफोन से सुनने की क्षमता पर असर 1

ईयरफोन से सुनने की क्षमता पर असर

सुनने की क्षमता कम हो सकती है – ईयरफोन का लगातार लम्बे समय तक इस्तेमाल करने से सुनने की क्षमता पर बुरा असर पड़ता है और इस वजह से सुनने की क्षमता 40 से 50 डेसीबल तक कम हो जाती है। दूर की आवाजें सुन पाने में मुश्किल होती है और कान के परदे में कम्पन होने लगता है। ऐसा होने पर बहरा होने की सम्भावना काफी बढ़ जाती है।

कान सुन्न हो जाना – लम्बे समय तक ईयरफोन लगाकर तेज आवाज़ में गानें सुनने जैसी आदतें कान के बाहरी हिस्से के साथ-साथ अंदरूनी हेयरसेल्स को भी डैमेज कर सकती है। ये आदत कान को सुन्न कर सकती है और सुनने की क्षमता को भी कम कर सकती है।

इन्फेक्शन हो सकता है – ईयरफोन में जमा होने वाली धूल-मिट्टी आपके कानों में इन्फेक्शन कर सकती है। इतना ही नहीं, किसी के ईयरफोन शेयर करने से भी कानों में इन्फेक्शन का ख़तरा बढ़ जाता है जिससे कानों में छन छन की आवाज, सनसनाहट हो सकती है और सिर और कान में दर्द भी हो सकता है।

दिमाग पर असर – ईयरफोन लगाकर लम्बे समय तक गाने सुनने की आदत ना केवल कान को ख़राब कर सकती है बल्कि दिमाग पर भी बुरा असर डाल सकती है।

कैंसर और हार्ट डिजीज – तेज आवाज में गाने सुनने से कान प्रभावित होते हैं, साथ ही कई मानसिक समस्याएं भी होने लगती है। इतना ही नहीं, कैंसर और हार्ट से जुड़ी गंभीर बीमारियां होने का ख़तरा भी बढ़ जाता है।

हर चीज़ का अपना महत्त्व होता है जैसे ईयरफोन का है लेकिन अति हर चीज़ की बुरी होती है जैसे ईयरफोन के इस्तेमाल की अति बुरी है इसलिए ज्यादा इस्तेमाल करने से बचें और अपने कान और शरीर की सेहत को सुरक्षित कर लें।

उम्मीद है जागरूक पर ईयरफोन से सुनने की क्षमता पर असर कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद भी साबित होगी।

नकारात्मक सोच से छुटकारा कैसे पाएं?

जागरूक यूट्यूब चैनल

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here