मिर्ज़ा ग़ालिब के जीवन से जुडी कुछ बातें जो शायद आप नहीं जानते होंगे

मिर्ज़ा ग़ालिब उर्दू शायरी का एक स्तम्भ हैं जिन्हे आज तक बहुत सरे लोग पसंद और अनुसरण करते है। मिर्ज़ा ग़ालिब को मिर्ज़ा असदुल्लाह बैग खान, मिर्ज़ा ग़ालिब, दबीर-उल-मुल्क और नज्म-उद-दौला के नाम से भी जाना जाता है। आज हम आपको उनके जीवन से जुडी कुछ एहम बाते बताने जा रहे है जो शायद आप नहीं जानते होंगे।

1. ये माना जाता है की मिर्ज़ा ग़ालिब के पूर्वज मिर्ज़ा कोकान बैग खान तुर्क थे जो भारत में प्रवासित हुए थे।

2. मात्र 13 साल की उम्र में उनकी शादी उमराव बेगम से हुई थी जो नवाब इलाही बख्श की पुत्री थी।

3. मिर्ज़ा ग़ालिब के 7 संताने हुई मगर कोई भी 15 महीनों से ज़्यादा जीवित नहीं रही।

4. मिर्ज़ा ग़ालिब को दबीर-उल-मुल्क के ख़िताब से 1850 में बहादुर शाह ज़फर II द्वारा नवाज़ा गया था।

5. ये बहादुर शाह ज़फर II ही थे जिन्होंने उन्हें मिर्ज़ा की उपाधि दी थी।

6. मिर्ज़ा ग़ालिब को अपने जीवन में उतनी ख्याति प्राप्त नहीं हुई जितनी उन्हें अपनी मृत्यु के बाद मिली जो की आज भी बदस्तूर जारी है।

7. जैसे ही मुग़ल सल्तनत का अंत हुआ तब से मिर्ज़ा ग़ालिब की पेंशन रोक दी गयी जो फिर कभी दोबारा शुरू नहीं हुई।

8. मिर्ज़ा ग़ालिब ने अपनी पहली कविता 11 साल की उम्र में लिखी थी।

9. अपने शुरुआती दिनों में उन्होंने पर्शियन साहित्य में भी काफी रूचि दिखाई थी।

10. वो ग़ालिब ही थे जिन्होंने ग़ज़लों के दौर को शुरू किया था जो आज तक जारी है।

“यो यो हनी सिंह के जीवन से जुडी कुछ अनसुनी रोचक बातें”
“डोनाल्ड ट्रम्प की पत्नी मेलानिया के जीवन से जुडी कुछ रोचक बातें”
“भगत सिह के जीवन से जुडी कुछ बातें”

शेयर करें

रोचक जानकारियों के लिए सब्सक्राइब करें

Add a comment