ऐसे जानलेवा रोग जो योग से ठीक हो सकते हैं

आप सभी की जानकारी के लिए हम यह बता दें की योग कोई धर्म नहीं है। योग एक विज्ञान है। योग आपके शरीर, मस्तिष्क और आत्मा में परस्पर सम्बन्ध स्थापित करता है। यह बात किसी से छुपी नहीं है की अगर आप योग करते हैं तो आपको रोग होने की बहुत कम सम्भावना है। योग सिर्फ शरीर के लिए नहीं है यह आपकी आत्मा को परमात्मा से मिलाता है। योग से कई ऐसे रोगों का इलाज़ किया जा सकता है जिनका इलाज और पद्धतियों में उतना कारगर नहीं है।

आज के इस युग में हर व्यक्ति अपने करियर को लेकर काफी सजग है जिसके लिए वो अपने शरीर का बहुत अधिक ध्यान रखता है। चलिए आज हम योग के कुछ ऐसे उपायों के बारे में जानते हैं जो विभिन्न रोगों में बहुत सहायक है।

1. अस्थमा – इस रोग का अभी तक कोई ऐसा इलाज नहीं बना है जिससे इस रोग को पूरी तरह से ठीक किया जा सके। मगर व्यक्ति अगर प्राणायाम और अनलोमविलोम को अपनी जीवन दिनचर्या में शामिल करता है तो इस रोग पर काबू रखा जा सकता है। इस पद्धति के कोई बुरे प्रभाव नहीं हैं जिस कारण इसको करने में कोई हर्ज़ नहीं है।

2. उच्चरक्तचाप – इस युग में यह रोग होना आम बात है क्योँकि तनाव का जो माहोल हमारे इर्दगिर्द इकट्ठा हो गया है वो कहीं ना कहीं हमें प्रभावित कर ही देता है। आप अपने भोजन पर भी संतुलन रख लें मगर इस रोग को पूर्ण रूप से काबू में नहीं किया जा सकता लेकिन अगर आप योग अभ्यास करते है जिसमे प्राणायाम भी शामिल है तो आप निश्चित ही उच्चरक्तचाप को काबू में कर पाएंगे।

3. अपचन – यह ऐसा रोग है जिसका आज के युग में होना कोई बड़ी बात नहीं है। इंसान का खान – पान पर संतुलन न होना इसका सबसे बड़ा कारण है। लेकिन यदि आप योग अभ्यास करते हैं तो आपको यह बीमारी नहीं होगी। योग से आपके मेटाबोलिज्म में सुधर होगा जो आपके पाचन तंत्र को अपने आप ही सुधर देगा।

4. माइग्रेन – यह एक ऐसी समस्या है जिसमे व्यक्ति को बेहद भयानक रूप का दर्द और असहजता महसूस होती है। लेकिन योग में इसका भी एक उत्तम इलाज़ है जिसके द्वारा माइग्रेन पर काबू पाया जा सकता है। इस प्रकार के रोग में शीर्षासन काफी लाभदायक है। यह योगाभ्यास आपके पेनकिलर लेने की आदत को दूर कर देगा और आप सहज महसूस करेंगे।

5. अर्थराइटिस – अभी तक वैज्ञानिक इस बात को नहीं मानते की योग से सीधेतौर पर इस बीमारी में आराम मिलता है या नहीं। मगर इस बात को नकारा नहीं जा सकता की योग से इस बीमारी से जूझ रहे लोगों को काफी आराम मिलता है।

6. एंग्जायटी – चिंता चिता के सामान है और आज के इस युग में चिंता होना एक आम बात हो गयी है। वैसे तो इसको कोई बीमारी नहीं माना जाता है मगर यह कई बिमारियों का कारक जरूर है। योगाभ्यास के द्वारा आप इन सभी बीमारियों पर काबू पा सकते हैं । योग करने से आपका मन शांत रहेगा और नींद भी अच्छी आएगी जिस कारण आपको इसके लिए कोई गोली नहीं खानी पड़ेगी।

ये सब सामान्य से दिखने वाले रोग असल में बहुत हानिकारक हैं और अगर समय रहते हम इनको काबू में कर लें तो भविष्य में होने वाली समस्या से बचा जा सकता है। योग अभ्यास को अपने जीवन का हिस्सा जरूर बनायें लेकिन इस अभ्यास को करने से पहले अपने चिकित्सक की सलाह जरूर लें।

शेयर करें

रोचक जानकारियों के लिए सब्सक्राइब करें

Add a comment