आप भी हैं कंप्यूटर की स्लो स्पीड से परेशान ? तो बिना फॉर्मेट करे इस तरह बढ़ाएं स्पीड

हमारे कंप्यूटर या लैपटॉप का स्लो हो जाना एक आम बात है और स्लो होने पर यूजर्स द्वारा फॉर्मेट का तरीका अपनाना भी आम बात है। लेकिन अगर आपका कंप्यूटर या लैपटॉप भी स्लो हो गया है और आप भी उसकी स्पीड बढ़ाना चाहते हैं तो कुछ टिप्स हैं जिनके जरिये आप बिना फॉर्मेट किये भी अपने कंप्यूटर या लैपटॉप की स्पीड बढ़ा सकते हैं।

1. स्टार्टअप प्रोग्राम्स को करें कम –

कुछ लोग G-Talk, Skype, Torrent जैसे प्रोग्राम्स को स्टार्टअप के तौर पर सेट कर के रखते हैं जिससे कंप्यूटर स्टार्ट होते ही ये प्रोग्राम भी लॉन्च होते हैं। ऐसे में कंप्यूटर की स्पीड स्लो होती है, इसके लिए बेहतर होगा इनकी जरुरत पड़ने पर ही काम में लें।

इस तरह हटाएं स्टार्टअप से ये प्रोग्राम्स –
Start Menu >> RUN में जाकर msconfig टाइप कर एंटर करें
यहाँ आपको टैब दिखाई देगा वहां से जिस प्रोग्राम को हटाना हो उसे लिस्ट से हटा दें।

2. C-Drive को ज्यादा ना भरें

आपकी C-ड्राइव में ऑपरेटिंग सिस्टम और सॉफ्टवेयर्स इनस्टॉल रहते हैं, C-Drive के ज्यादा भर जाने पर भी सिस्टम स्लो हो जाता है। ऐसे में जहाँ तक हो अपना डाटा दूसरी ड्राइव में सेव रखें।

3. करप्ट फाइल्स हटाएं

कई बार ऑपरेटिंग सिस्टम में अपडेट होने पर कुछ फाइल्स करप्ट हो जाती हैं ऐसे में इन फाइल्स की वजह से भी सिस्टम स्लो हो जाता है, इन्हे समय समय पर स्कैन कर हटाते रहें।
Control panel> programs> uninstall or change programs >> System File Checking के जरिये इन करप्ट फाइल को रिपेयर करें या हटा दें।

4. इस्तेमाल करें सिर्फ एक ही एंटीवायरस

एंटीवायरस प्रोग्राम बहुत पावर लेते हैं ऐसे में अपने कंप्यूटर पर सिर्फ एक ही एंटीवायरस इनस्टॉल रखें।

5. हार्डवेयर अपडेट रखें

समय के अनुसार जरूरतें भी बढ़ जाती हैं ऐसे में पुराने हार्डवेयर इतने सक्षम नहीं होते। इसलिए समय समय पर हार्डवेयर अपडेट करते रहें जैसे रैम, हार्डडिस्क, प्रोसेसर इत्यादि।

6. बेकार के सॉफ्टवर्स को करें रिमूव

ध्यान रखें जो सॉफ्टवेयर्स आपके काम नहीं आ रहे उन्हें अनइंस्टॉल कर दें क्योंकि वो भी मेमोरी खाते हैं और सिस्टम को स्लो करते हैं।

7. डेस्कटॉप रखें साफ

डेस्कटॉप में जो जरुरी फाइल्स हो उन्हें ही रखें बाकी फाइल्स को किसी दूसरी ड्राइव में सेव करके रखें क्योंकि डेस्कटॉप भरा होने पर भी सिस्टम स्लो हो जाता है।

आपको यह लेख कैसा लगा? अगर इस लेख से आपको कोई भी मदद मिलती है तो हमें बहुत खुशी होगी। अपनी प्रतिक्रिया जरूर दे। हमारी शुभकामनाएँ आपके साथ है, हमेशा स्वस्थ रहे और खुश रहे।

“कंप्यूटर में ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए सिर्फ C ड्राइव ही क्यों होती है”

अगर ये जानकारी आपको अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।