Financial Planning में Financial Advisor का रोल

मई 12, 2018

अभी तक यह तो आप सब के समझ में आ गया है कि Wealth Creation के लिये एक अच्छे Financial Plan की कितनी आवश्यकता है। Financial Planning के साथ-साथ एक अच्छे Financial Advisor का बहुत महत्वपूर्ण रोल होता है। जिस तरीके से एक अच्छा ड्राईवर आपको बिना किसी परेशानी के नियत सयम में सुरक्षित आपको अपनी मंजिल पर पहुँचा देता है उसी तरह से यदि अपने-अपने Financial Goal की Journey के लिये एक अच्छा Driver (Financial Advisor) का चयन कर लिया है तो आप बेफिक्र होकर, निश्चित समय पर सुरक्षित अपनी मंजिल पर पहुँच जायेंगें।

प्राचीन काल से अच्छे Advisor, सहायक या सखा का अभिन्न रोल रहा है। महाभारत के युद्ध में भी पांडवों की विजय हुई तो केवल एक अच्छे Advisor(श्री कृष्ण) की वजह से।

गाडी को चलाने के लिये जो पेट्रोल या डीज़ल का रोल है वैसा ही रोल एक अच्छे Advisor का होता है अपने Client को उसके Financial Goal तक ले जाने में।

आजकल Mutual Fund के Direct Plans भी आ गये हैं जो 0.25 से 0.50 Basic Price की बचत करते हैं लेकिन बिना Advisor के होते हैं। मेरा स्पष्ट मानना है कि Direct Plan एक ऐसी गाड़ी है जिसका स्पीड़ सब कुछ निवेशक के हाथ में है। ज़रा सा ध्यान बँटा तो भयंकर नुकसान। उसके विपरीत एक अच्छा Advisor हो तो अपने निवेशक का Risk Profiting करके, नियत समय में या समय से पहले निर्धारित गोल पर पहुँचा देता है। मैं दावे के साथ कह सकता हूँ कि एक अच्छा Advisor (Financial Doctor) वो डॉक्टर होता है जो मरीज़ की नाड़ी देखकर ही बीमारी बता देता है।

एक Advisor, वो भी अच्छा, अपने Client को Long-Term में 2% जव 4% ज्यादा Return दिला सकता है। 2% Extra Return Long Term में बहुत बड़ा Impact डालते हैं। उदाहरण निम्न प्रकार से है।

Without Advisor      With Good Financial Doctor
जमा समय             5000 per month     5000 per month
Time Duration    360 Months            360 Months
Return               15%                      17%
Maturity            3.46 Crore              5.55 Crore

Difference of 2.09 Crore

इस प्रकार आप उपयुक्त उदारहण से अच्छी तरह समझ सकते हैं कि एक अच्छा Advisor अपने Client के Investment को बराबर राशि व बराबर समय होते हुए बिना Advisor वाले निवेशक के मुकाबले 2% भी Extra कमाकर देता है तो यह राशि 30 साल यानि 360 महीने में 2.09 crore ज्यादा हो जाती है।

अच्छे Advisor के इतने फायदे हैं कि उसे Fees देकर भी Appoint करना चाहिये। अगर आपके पास एक Advisor मित्र या सखा है तो आप निश्चित होकर हर पल आराम से Enjoy कर सकते हैं। आपको केवल एक बात ध्यान रखनी है कि उसकी हर सलाह को मानें। हाँ उसे जाँचने के लिए एक निश्चित समयावधि (कम से कम 36 माह) अवश्य दें। वो उस समय में खरा उतरता है तो उसकी राय को अवश्य Follow करें।

निष्कर्ष यह है कि हर निवेशक को एक अच्छे Financial Advisor (Doctor) की राय से ही अपना निवेश Plan बनाना चाहिये।

ये लेख फाइनेंशियल एडवाइजर श्री राजेश कुमार सोढानी, सोढानी इंवेस्टमेंट्स, जयपुर द्वारा प्रस्तुत है। फाइनेंशियल प्लानिंग पर आधारित ये लेख आपको कैसा लगा? अगर इस लेख से आपको कोई भी मदद मिलती है तो हमें बहुत खुशी होगी। अपनी प्रतिक्रिया जरूर दे। हमारी शुभकामनाएँ आपके साथ है, हमेशा स्वस्थ रहे और खुश रहे।

“रिटायरमेंट प्लानिंग क्या है और क्यों जरूरी है?”

अगर ये जानकारी आपको अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।

शेयर करें