फिटकरी क्या है और कैसे बनती है?

मार्च 12, 2018

शायद आप भी अपनी रोज़मर्रा की जरूरतों को पूरा करने के लिए फिटकरी का इस्तेमाल किया करते होंगे क्योंकि रोज़मर्रा की बहुत सी मुश्किलों को दूर करने का आसान सा उपाय है फिटकरी, जो बहते खून को भी रोक सकती है और माउथवॉश की तरह इस्तेमाल करने पर मुँह की दुर्गन्ध को भी दूर कर देती है। इसके अलावा पसीने की बदबू और दांतों के दर्द जैसी कई मुश्किलों को फिटकरी चुटकियों में दूर कर देती है। ऐसे में आप भी जानना चाहते होंगे कि आखिर ये फिटकरी क्या है और ये कैसे बनायी जाती है। तो चलिए, आज आपको बताते हैं इस फिटकरी के बारे में-

फिटकरी एक रंगहीन क्रिस्टलीय पदार्थ होता है और साधारण फिटकरी का रासायनिक नाम “पोटैशियम एल्युमिनियम सल्फेट” है और इसे ‘पोटाश एलम’ या केवल ‘एलम’ भी कहा जाता है।

बहुत पहले फिटकरी, ऐलम शेल से बनायी जाती थी जो फिटकरी पत्थर के हवा में भंजन, निक्षालन और क्रिस्टलीकरण से प्राप्त होती है। एलुमिनो फेरिक के विलयन पर पोटैशियम सल्फेट की क्रिया से भी फिटकरी प्राप्त हो सकती है।

फिटकरी बनाने की प्रक्रिया इतनी आसान होती है कि इसे घर पर भी बनाया जा सकता है। इसके लिए आपको बाजार से केवल फिटकरी का पाउडर लाना होगा जिसका इस्तेमाल करके आप फिटकरी की ज़्यादा मात्रा बना सकेंगे।

घर पर फिटकरी बनाने की प्रक्रिया–

इसके लिए आपको ये प्रक्रिया अपनानी होगी-

दोस्तों, जैसे फिटकरी का इस्तेमाल करना बहुत ही आसान होता है, वैसे ही फिटकरी बनाना भी एकदम आसान प्रक्रिया होती है जिसे आप भी बड़ी आसानी से घर पर ही बना सकते हैं और इस्तेमाल कर सकते हैं।

हमने यह लेख प्रैक्टिकल अनुभव व जानकारी के आधार पर आपसे साझा किया है। अपनी सूझ-बुझ का इस्तेमाल करे। आपको यह लेख कैसा लगा? अगर इस लेख से आपको कोई भी मदद मिलती है तो हमें बहुत खुशी होगी। अपनी प्रतिक्रिया जरूर दे। हमारी शुभकामनाएँ आपके साथ है, हमेशा स्वस्थ रहे और खुश रहे।

“फिटकरी के फायदे – आपको यकीन नहीं होगा फिटकरी से होते हैं ऐसे चमत्कारी फायदे”

अगर ये जानकारी आपको अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।

शेयर करें