गाय और भैंस के दूध में से कौनसा है ज्यादा फायदेमंद

दूध पीना सेहत के लिए बहुत फायदेमंद भी होता है और जरुरी भी, ये तो आप जानते ही हैं लेकिन दूध का चुनाव करते समय ये कैसे तय किया जाए कि गाय का दूध अच्छा रहेगा या भैंस का, ये सोचने की बात है। दोनों ही दूध पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं, शक्ति बढ़ाते हैं और स्वाद में मीठे होते हैं। ऐसे में गाय और भैंस के दूध के बीच का अंतर जानकर ही अपने अनुसार सही दूध का चुनाव करना संभव हो सकेगा। तो चलिए, आज हम गाय और भैंस के दूध में अंतर जान ही लेते हैं–

प्रोटीन का स्रोत – आप इस बात से तो परिचित हैं कि दूध में प्रोटीन की प्रचुरता पायी जाती है लेकिन भैंस के दूध में गाय के दूध की तुलना में 11% ज़्यादा प्रोटीन मौजूद होता है। प्रोटीन की अधिकता के कारण भी भैंस के दूध का पाचन आसानी से नहीं हो पाता है इसलिए छोटे बच्चों और बुजुर्गों के लिए भैंस का दूध उपयुक्त नहीं होता जबकि ऐसे लोगों को भैंस के दूध का ही चुनाव करना चाहिए जिनके शरीर को ज़्यादा प्रोटीन की जरुरत होती है।

कैलोरी की मात्रा – गाय के दूध की बजाए भैंस के दूध में कैलोरी की मात्रा भी ज्यादा होती है इसलिए अगर आप कैलोरी रिस्ट्रिक्टेड डाइट को फॉलो कर रहे हों तो इस बात पर ध्यान दें कि भैंस के दूध में जहाँ 100 ml  में 100 कैलोरी है वहीँ गाय के दूध में 100 ml में 70 कैलोरी है।

शिशुओं के लिए – भैंस के दूध में फैट की मात्रा गाय के दूध की तुलना में 100% ज़्यादा होती है जिसके कारण भैंस का दूध पचाने में ज़्यादा भारी होता है इसलिए शिशुओं और बुजुर्गों को भैंस का दूध नहीं पीने की सलाह दी जाती है क्योंकि उनका पाचन तंत्र युवाओं की तरह मजबूत नहीं होता है।

बेहतरीन नींद के लिए – अगर आप चाहते हैं कि आपको बेहतरीन और अच्छी नींद आये तो इसके लिए भैंस का दूध ज़्यादा अच्छा विकल्प है क्योंकि इसमें नेचुरल नींद दिलाने की क्षमता गाय के दूध से ज़्यादा होती है।

न्यूट्रिशनल वैल्यू – यूँ तो गाय और भैंस दोनों के ही दूध में भरपूर मिनरल्स मौजूद होते हैं लेकिन इसके बावजूद भैंस के दूध में, गाय के दूध की तुलना में कैल्शियम, फास्फोरस, मैग्नेशियम, आयरन और पोटैशियम की अधिक मात्रा पायी जाती है।

कोलेस्ट्रॉल लेवल – भैंस के दूध में कोलेस्ट्रॉल लेवल कम होता है इसलिए डायबिटीज, हाई बीपी और किडनी सम्बन्धी समस्या होने की स्थिति में भैंस का दूध बेहतर हो सकता है।

आयुर्वेद में गाय के दूध का बहुत अधिक महत्व बताया गया है और इससे बना घी पाचन को बढ़ाता है और पित्त को शांत करता है जबकि भैंस के दूध से बना घी कफ बढ़ाता है। भैंस के दूध से बने डेयरी प्रोडक्ट्स को ज्यादा समय तक स्टोर करके रखा जा सकता है और ये तुलनात्मक रूप से गाढ़े और क्रीमयुक्त होते हैं।

दोस्तों, गाय और भैंस दोनों का दूध पोषण से भरपूर होता है और अब आप गाय और भैंस के दूध बीच के अंतर को भी जान चुके हैं। ऐसे में अपने शरीर की आवश्यकता के अनुसार सही दूध का चुनाव करना आपके लिए आसान हो गया होगा। उम्मीद है कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमन्द भी साबित होगी।

हमने आपसे सिर्फ ज्ञानवर्धक जानकारी साझा की है। अपनी सूझ-बुझ का इस्तेमाल जरूर करे। सदैव खुश रहे और स्वस्थ रहे।

“गाय का दूध पीला क्यों होता है?”

अगर ये जानकारी आपको अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।

शेयर करें

रोचक जानकारियों के लिए सब्सक्राइब करें

Add a comment