ग्रीन टी से करें गरारे, मुंह से संबंधित कई समस्याएं से पाएं निजात

365

हल्के गरम पानी से गरारे करने के फायदे तो आप सबने सुने ही होंगे, सर्दी और बंद गले से निजात पाने के लिए हल्के गरम पानी के गरारे बहुत ही प्रभावी तरीका है! परन्तु क्या आपको पता है चाय से गरारे करने से मुँह से जुडी कई समस्यांओं का भी निवारण संभव है।

एक नामी अखबार में छपी खबर के मुताबिक मुँह की समस्या से जूझ रहे 45 लोगों पर ये टेस्ट किया जायेगा। इन लोगों को ग्रीन और ब्लैक टी से दिन में दो बार 30 सेकेंड के लिये गरारे करने होंगे। साथ ही साथ इन लोगों को माउथवॉश से भी गरारे करने होंगे फिर इन दोनों के क्या प्रभाव होते हैं उनकी तुलना होगी।

कुछ भी खाने पीने के बाद हमारे दांतों में प्लाक नामक गंदगी जमा हो जाती है, इसके मुँह में जमा होने से हमारे मसूड़े सड़ने लगते हैं। अगर नियमित रूप से ग्रीन टी का इस्तेमाल किया जाये तो ये प्लाक कम जमा होता है। शोधकर्ताओं के मुताबिक चाय में टैनिन पाया जाता है जिसमे एंटीबैक्टीरियल गुण पाये जाते हैं जो इस समस्या से निजात दिलाते हैं। अगर नियमित रूप से ग्रीन टी से गरारे किये जाएं तो ये हमारे दांतों में जमा मेल को भी दूर करता है!

शोधकर्ताओं के मुताबिक ग्रीन टी में कैटेचिन्स नामक कंपाउंड मौजूद होता है जो फ्लू का इन्फेक्शन कम करने में सहायक होता है। इसलिए फ्लू में भी इसके गरारे हमारे लिए लाभकारी हैं। दूसरी ओर ग्रीन टी पीने से मसूड़ों में खून आना और दांतों में सड़न जैसी समस्यांओं को दूर करने में भी सहायता मिलती है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि ग्रीन टी बैक्टीरिया पर अपना असर छोड़ती है।

Add a comment