घबराहट को दूर करने के उपाय

269

वर्तमान जीवनशैली में जहाँ शरीर से जुड़े कई रोगों से सामना होता है, वहीं मन को प्रभावित करने वाले भी कई रोग मिलते है जिनमें से एक रोग है घबराहट होना… और मन के इस रोग से पीड़ित लोगों की संख्या दिन पर दिन बढ़ती जा रही है। घबराहट होने पर अचानक दिल की धड़कने बढ़ जाती है और कभी ब्लड प्रेशर एकदम से कम हो जाता है। सुनने में भले ही घबराहट एक छोटी सी समस्या लगती हो लेकिन इससे मिलने वाले परिणाम कई बार तन और मन की सेहत के लिए काफी घातक भी साबित होते है इसलिए घबराहट से निजात पाना बेहद जरुरी है। तो चलिए, आज आपको बताते हैं कि घबराहट की इस आदत बनाम रोग को दूर करने के लिए क्या किया जाना जरुरी है –

ग्रीन टी पीजिये –
ग्रीन टी में एंटी-ऑक्सीडेंट गुण पाए जाते है साथ ही इसमें पाए जाने वाले तत्व घबराहट दूर करने में कारगर साबित होते हैं इसलिए अगर आपको घबराहट की समस्या है तो रोज़ाना ग्रीन टी पीना शुरू कर दीजिये।

कैमोमाइल चाय का सेवन-
घबराहट की स्थिति नर्वस सिस्टम पर ज़्यादा दबाव पड़ने से आती है। कैमोमाइल की चाय दिमाग की नसों को शांत रखती है और इसमें मौजूद एंटी – इंफ्लेमेंटरी गुण घबराहट को दूर करते हैं। इसे बनाने के लिए आप एक कप पानी में सूखे कैमोमाइल के दो चम्मच मिलाकर अच्छे से उबाल लें। फिर इसमें शहद की एक चम्मच मिला लें। इस गर्म चाय को दिन में तीन बार लें।

बादाम खाएं –
अगर दिमाग को मजबूत बनाना हो और दिमाग से जुड़ी बीमारियों को दूर रखना हो तो नियमित बादाम का सेवन कीजिये। बादाम में मौजूद आयरन और ज़िंक दिमाग को दुरुस्त रखते हैं और घबराहट जैसी स्थिति आने से बचाते हैं।

लैवेंडर का तेल है फायदेमंद-
लैवेंडर अपने शांत प्रभाव के कारण जाना जाता है। इसकी खुशबू से घबराहट के कारण बढ़ी हुयी हार्ट बीट और ब्लड प्रेशर को कम किया जा सकता है और चिंता और घबराहट के लक्षणों को ये प्रभावी रूप से कम करता है।

ओमेगा-3 फैटी एसिड्स करेंगे मदद –
घबराहट और तनाव की स्थिति को कम करने में ओमेगा -3 फैटी एसिड्स काफी मददगार साबित होता है। अखरोट और अलसी के बीज ओमेगा -3 फैटी एसिड्स के अच्छे स्रोत है।

कद्दू के बीज –
कद्दू के बीजो में पाया जाने वाला एमिनो एसिड दिमाग में सेरोटोनिन का लेवल बदलने में सहायक होता है। सेरोटोनिन एक न्यूरोट्रांसमीटर है, जो मूड को बैलेंस रखता है।

चॉकलेट भी है मददगार-
ये तो आप जानते हैं कि चॉकलेट आपके मूड को अच्छा बनाती है और तनाव को आपसे दूर रखती है लेकिन चॉकलेट खाने से आपको हर बात पर घबराहट महसूस होने की परेशानी भी हल हो सकती है क्यूँकि चॉकलेट खाने से दिमाग में कोर्टिसोल हार्मोन कम होता है जिसके कारण घबराहट भी कम होती है।

विटामिन-सी की पर्याप्त मात्रा-
विटामिन-सी की कमी होने पर भी घबराहट जैसी समस्या हो सकती है इसलिए भोजन में संतरे, टमाटर, कीवी और ब्रोकली जैसे विटामिन-सी से भरपूर खाद्य पदार्थों को शामिल कीजिये।

मैग्नीशियम युक्त भोजन –
मैग्नीशियम दिमाग में कोर्टिसोल का स्तर नियंत्रित करने में सहायक है। कोर्टिसोल तनाव कम करता है जिससे आप अच्छा महसूस करते हैं। इसके लिए आप पालक, केला जैसे मैग्नीशियम युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन कीजिये।

अब आप जान चुके हैं कि नर्वस सिस्टम पर ज्यादा दबाव पड़ने के कारण घबराहट की समस्या उत्पन्न होती है और ये कोई सामान्य समस्या नहीं है बल्कि एक मानसिक रोग का रूप ले चुकी है। अगर आपको भी छोटी छोटी बातों से घबराहट महसूस होने लगती है या शरीर में असामान्य प्रतिक्रियाएँ अनुभव होती है जैसे ब्लड प्रेशर और हार्ट बीट का असामान्य होना तो अपनी घबराहट की इस स्थिति का आकलन कर लीजिये और इन उपायों को अपना कर अपने मन को इस रोग से मुक्त कर लीजिये।

“पढ़ाई में मन लगाने के कुछ सरल उपाय”
“कब्ज को दूर करने के असरदार घरेलू उपाय”
“डर को काबू करने के उपाय”

Add a comment