घड़ी का आविष्कार किसने और कब किया?

फरवरी 26, 2018

घड़ी एक ऐसा यंत्र है जो हमे सही वर्तमान समय बताती है। आज के समय में घड़ी ना सिर्फ समय बताने वाला यंत्र बल्कि एक फैशन बन गया है। आज भले ही समय देखने के कई विकल्प मौजूद हैं लेकिन जब सबसे पहले घड़ी का आविष्कार हुआ था तो ये आविष्कार किसी चमत्कार से कम नहीं था क्योंकि पहले के समय लोग सूर्य के मुताबिक ही समय का अनुमान लगाते थे। घड़ी के आविष्कार के बाद समय का सही पता लगाना बेहद आसान हो गया। आज हम चर्चा करेंगे की घड़ी का आविष्कार कैसे हुआ और घड़ी के आविष्कार का श्रेय किसे जाता है।

दरअसल पहले के समय में सूर्य के मुताबिक समय का अनुमान लगाया जाता था लेकिन आसमान में बादल होने की स्थिति में समय का अनुमान नहीं लग पाता था इसके बाद जल घड़ी का आविष्कार हुआ जिसका श्रेय चीन को जाता है। इसके बाद इंग्लैंड के एलफ़्रेड महान ने मोमबत्ती की सहायता से समय का अनुमान लगाने की विधि बनाई जिसमे उन्होने एक मोमबत्ती पर समान दूरियो पर चिन्ह अंकित किये और मोमबत्ती के पिघलने से समय का अनुमान लगाया।

लेकिन घड़ी के आविष्कार का श्रेय जाता है पोप सिलवेस्टर द्वितीय को जिन्होंने सन् 996 में घड़ी का आविष्कार किया। यूरोप में घड़ियों का प्रयोग 13वीं शताब्दी के उत्तरार्ध में होने लगा था। इसके अलावा सन 1288 मे इंग्लैंड के वेस्टमिस्टर के घंटाघर मे और अलबान्स मे सन 1326 मे घड़ियाँ लगाई गई।

हालाँकि सबसे पहली आधुनिक घड़ी सन 996 मे बन गई थी लेकिन इसमें थोड़ा संदेह भी है क्योंकि इतिहासकारों के मुताबिक सन 1577 में घड़ी की मिनट वाली सुई का आविष्कार स्विट्ज़रलैंड के जॉस बर्गी द्वारा उनके एक खगोलशास्त्री मित्र के लिए किया गया था और इनसे भी पहले जर्मनी के न्यूरमबर्ग शहर मे पीटर हेनलेन ने ऐसी घड़ी का आविष्कार कर दिया था जो काफी छोटी थी और इसे आसानी से अपने साथ एक जगह से दूसरे जगह ले जाया जा सकता था जैसी की हमारी आज की हाथ में पहनने वाली घड़ी है।

सबसे पहली हाथ घड़ी पहनने वाले व्यक्ति थे फ़्राँसीसी गणितज्ञ और दार्शनिक ब्लेज़ पास्कल जो घड़ी को रस्सी के जरिये अपने हाथ पर बाँध लिया करते थे ताकि काम करते करते भी वो आसानी से समय देख सकें। इसके बाद समय के साथ साथ घड़ी में कई बदलाव आये और आज हमें बाजार में स्मार्टवॉच भी देखने को मिलने लगी है।

“कैलकुलेटर का आविष्कार किसने कब और कैसे किया?”

अगर आप हिन्दी भाषा से प्रेम करते हैं और ये जानकारी आपको ज्ञानवर्धक लगी तो जरूर शेयर करें।
शेयर करें