आइये जानते हैं हैकिंग किसे कहते है। इंटरनेट के बढ़ते उपयोग ने जहाँ सुविधाएँ बढ़ाई हैं वहीं मुश्किलें भी बहुत बढ़ा दी हैं और ऐसी ही एक मुसीबत है हैकिंग, जिसके जरिए आपकी पर्सनल डिटेल्स चोरी की जा सकती हैं।

ऐसे में हैकिंग के बारे में आपको भी जरूर जानना चाहिए। तो चलिए, आज जानते हैं हैकिंग किसे कहते है।

हैकिंग किसे कहते है? 1

हैकिंग किसे कहते है?

आपकी अनुमति के बिना आपका पर्सनल डेटा चुराने को हैकिंग कहा जाता है और ऐसे गैर-कानूनी काम को अंजाम देने वाले लोग हैकर्स कहलाते हैं जो दूर बैठे-बैठे ही आपके कंप्यूटर, वेबसाइट या सोशल मीडिया प्रोफाइल को हैक कर सकते हैं।

हैकिंग अच्छी भी हो सकती है और बुरी भी यानी जो हैकिंग आपकी सुरक्षा में घात लगा सकती है वही हैकिंग आपकी सुरक्षा को मजबूत करने में भी इस्तेमाल होती है। ऐसे में हैकर्स को भी तीन कैटेगरीज में बांटा जा सकता है- ब्लैक हैट हैकर्स, वाइट हैट हैकर्स और ग्रे हैट हैकर्स।

ब्लैक हैट हैकर्स – ऐसे हैकर्स ग़लत इरादों से किसी के कंप्यूटर, वेबसाइट या सोशल मीडिया प्रोफाइल को हैक करते हैं और उसका ग़लत इस्तेमाल करके सम्बंधित व्यक्ति को नुकसान पहुंचाते हैं और ऐसा करने से हैकर्स को फायदा होता है।

इस तरह की हैकिंग में हैकर डेटा को चोरी करके फिरौती मांगते हैं या फिर डेटा को कॉपी करके उसका ग़लत इस्तेमाल करते हैं।

ग्रे हैट हैकर्स – ऐसे हैकर्स जिनका इरादा भले ही ग़लत ना हो लेकिन ये आपकी अनुमति के बिना ही आपके कंप्यूटर या प्रोफाइल को हैक करते हैं इसलिए इन्हें ग्रे हैट हैकर्स कहा जाता है।

ऐसा करने के पीछे मकसद प्रैक्टिस करना होता है ताकि वो जान सके कि किसी सिस्टम को हैक करना उन्हें आ गया है या नहीं, लेकिन इस तरीके को लीगल नहीं माना जाता है इसलिए ग्रे हैट हैकिंग करना भी अवैध ही माना जाता है। ऐसे हैकर्स सिस्टम को कोई नुकसान नहीं पहुंचाते हैं।

वाइट हैट हैकर्स या एथिकल हैकर्स – वाइट हैट हैकर्स को एथिकल हैकर्स भी कहा जाता है क्योंकि ऐसे हैकर्स कोई भी हैकिंग करने के लिए परमिशन लेते हैं और बहुत से जरुरी विभागों में बतौर एथिकल हैकर नौकरी करते हैं।

ऐसे हैकर्स पुलिस, सीबीआई और आईबी में काम करने के अलावा आईटी कंपनियों में भी कार्यरत होते हैं जो सिक्योरिटी को बनाये रखने में उस संस्था की मदद करते हैं।

आजकल एथिकल हैकर्स की बहुत मांग बढ़ी है और इस स्किल को सीखने के लिए बहुत से कोर्सेज भी होने लगे हैं जिनके जरिये एक वाइट हैट हैकर बनने का करियर ऑप्शन भी चुना जा सकता है।

उम्मीद है जागरूक पर हैकिंग किसे कहते है कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद भी साबित होगी।

दिमाग में नकारात्मक विचार क्यों आते हैं?

जागरूक यूट्यूब चैनल