अंजीर के फायदे ही फायदे – तंदुरूस्त रहने के लिए अंजीर खाएँ

अंजीर का सेवन सबसे ज़्यादा सर्दियों में किया जाता है और इसका उत्पादन भी सबसे ज़्यादा सर्दियों में ही होता है। पूरे साल इसका उत्पादन नही होता इस कारण इसे सूखे रूप में ही ज़्यादातर उपयोग में लिया जाता है। इसलिए अंजीर को सूखे मेवे की श्रेणी में माना जाता है। अंजीर एक स्वास्थ्यवर्धक और स्वादिष्ट फल है। अंजीर के फायदे – पेट से संबंधित सभी परेशानियों में इसे रामबाण माना जाता है। इसके नित्य सेवन से मन प्रसन्न और स्वभाव कोमल रहता है। अंजीर में आयरन की मात्रा होती है जिस कारण एनीमिया के इलाज में यह बहुत मददगार है। इसके अलावा खाँसी, कफ, कमजोरी, डायबिटीज़, हार्ट-डिज़िज, दमा, अपच, स्तन कैंसर और मेनोपॉज आदि कई तकलीफ़ों में अंजीर औषधि का काम करता है। इसमे विटामिन्स- ए, बी और सी होता है. जिसमे विटामिन ए की मात्रा अधिक होती है। इसके अलावा अंजीर में कार्बोहाइड्रेट 63%, पानी 80%, कैल्शियम 0.06%, फाइबर 2.3%, प्रोटीन 3.5%, क्षार 0.7%, वसा 0.2%, सोडियम, पोटेशियम, तांबा, सल्फर और क्लोरिन पर्याप्त मात्रा में होते हैं. ताजे अंजीर की अपेक्षा सूखे अंजीर में शर्करा और क्षार तीन गुणा ज़्यादा पाया जाता है। सूखे अंजीर में ओमेगा-3 और फिनॉल के साथ-साथ ओमेगा-6 फैटी एसिड्स भी होते हैं, जो दिल की बिमारियों से बचाते हैं।

अंजीर सदियों पुराना फल है। इस छोटे से फल की अपनी कोई विशेष तेज़ सुगंध तो नहीं होती, पर यह ताज़ा रूप में रसीला और गूदेदार होता है जिस कारण सुखाने के बाद भी इसके स्वाद में कोई अंतर नही आता है। अंजीर को आप ताज़ा या सूखा हुआ किसी भी रूप में खा सकते हैं। जैसा की हम सब जानते हैं सर्दियों का मौसम सेहत बनाने के लिए होता है। माना जाता है की सर्दियों में अगर हम स्वास्थ्य का अच्छे से ख्याल रखें तो पुरे साल के लिए हमें ताक़त मिलती है। हम यह भी जानते हैं की सूखे मेवे हमारी सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद होते हैं। सर्दियों में हमारे स्वस्थ्य शरीर के लिए अंजीर का कोई सानी नही है। वैसे तो आप सीमित मात्रा में अंजीर का सेवन पूरे वर्ष कर सकते हैं।

तो आइये आज हम आपको बताते हैं क्या है अंजीर के फायदे –

  1. कब्ज – प्रतिदिन रात को 5-6 अंजीर के टुकड़े करके 250 मि.ली. पानी में भिगो दें। सुबह उस पानी को उबालकर आधा कर दें और पी जायें। उसके बाद अंजीर को चबाकर खाने से थोड़े ही दिनों में कब्जियत की शिकायत दूर हो जाती है और पाचनशक्ति मजबूत होती है। छोटे बच्चों के लिए 1-3 अंजीर पर्याप्त है. रात को सोने से पहले 3-4 अंजीर को दूध में उबाल लें, पहले अंजीर खायें फिर उपर से उसी दूध को पी लें। इस उपाय से भी कब्ज की समस्या दूर होती है।
  2. गले की सुजन – सूखे अंजीर को उबाल कर बारीक पीस लें, फिर गले पर कपड़े की सहयता से बांधें। इससे गले की सुजन और गांठ दोनो की समस्या में लाभ होता है।
  3. अस्थमा – 2-4 सूखे अंजीर सुबह-शाम दूध में गर्म करके खाने से कफ की मात्रा घटती है। जिससे अस्थमा का रोग मिटता है और शरीर में स्फूर्ति भी बनी रहती है।
  4. खून में खराबी – दूध, मिश्री और सूखे अंजीर को मिक्स करके लगातार सात दिनों तक सेवन करने से खून से जुड़े रोग नष्ट हो जाते हैं।
  5. एनीमिया – अंजीर में लौह और कैल्शियम प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। जिस कारण यह एनीमिया में लाभदायक है। 10 मुनक्के, 8 अंजीर और 200 मी०ली० दूध में उबालकर पी लें। इससे रक्त में वृद्धि होती है और एनीमिया की समस्या भी समाप्त हो जाती है।
  6. जुकाम – एक गिलास पानी में 5 अंजीर को डालकर उबाल लें फिर इस पानी को छानकर गर्म-गर्म सुबह-शाम पीने से जुकाम में फ़ायदा होता है।
  7. सिर दर्द – अंजीर के पेड़ की छाल को सिरके या पानी के द्वारा भस्म बना लें फिर सिर पर इस भस्म का लेप करें। इससे सिर के दर्द में आराम आता है।
  8. हड्डियों को मजबूती – अंजीर में कैल्शियम प्रचुर मात्रा में होता है, जो हड्डियों को मजबूती प्रदान करने में सहायक है। बस प्रतिदिन नियम से 3-4 अंजीर का सेवन करें और लाभ देखें।
  9. कमर दर्द – आजकल लोगों की जीवनशैली ही ऐसी है कि काम के कारण कमर दर्द आम सी बात हो गई है। अधिक काम करने वालें लोगों को कमर दर्द की समस्या अक्सर बनी रहती है। अंजीर की छाल, सोंठ और धनियां सब चीज़ों को बराबर मात्र में लें और कूटकर रात के वक्त पानी में भिगो दें। सुबह इस पानी को छानकर पी लें। इससे कमर दर्द की परेशानी से जल्द छुटकारा मिलेगा।
  10. बवासीर – 3-4 सूखे अंजीर को रात के समय पानी में भिगोकर रख दें। प्रतिदिन सुबह खाली पेट अंजीरों को मसलकर खाने से बवासीर की समस्या दूर हो जाती है।
  11. शरीर की गर्मी दूर करे – 3-4 पके हुए अंजीर को छीलकर चीरा लगाकर उसमें मिश्री का चूर्ण भर दें और रात को खुले आसमान में ओस से तर होने के लिए रख दें। सुबह इसका सेवन । इस उपाय से शरीर की गर्मी दूर होती है और खून साफ होता है।
  12. कमज़ोरी दूर करें – सूखे अंजीर के टुकड़े और भीगे छिले हुए बादाम को गर्म पानी में उबाल लें। फिर इसे सुखाकर इसमें दानेदार चीनी, इलायची चूर्ण, केसर, चिरौंजी, पिस्ता बराबर मात्रा में मिलाकर एकसार करें और सात दिनों तक गाय के घी में भीगा हुआ रहने दें। प्रतिदिन सुबह 20 ग्राम तक इस मिश्रण का सेवन करें, इससे शरीर की कमजोरी दूर होगी और ताकत बढ़ेगी।

अंजीर के नियमित सेवन से शरीर की कैलोरी कम होती है, फाइबर होने के कारण वजन भी कम होता है। अंजीर अच्छे और बुरे कोलेस्ट्रॉल का संतुलन बनाए रखता है, जिससे दिल की बिमारी का खतरा कम हो जाता है। अंजीर में कम सोडियम और ज्यादा पोटैशियम होता है जिससे रक्तचाप नियंत्रण में रहता है। मधुमेह के रोगियों को अंजीर खाने के लिए विशेष तौर पर कहा जाता है। इतना ही नही अंजीर खाने की आदत से हाइपरटेंशन की समस्या दूर होती है और डाइजेस्टिव सिस्टम मजबूत बनता है।

सूखे अंजीर एन्टीऑक्सिडेंट का खजाना है। एक अध्ययन के अनुसार प्राकृतिक अंजीर में सूखे अंजीर की तुलना में कम एन्टीऑक्सिडेंट्स की मात्रा होती। दूसरे एन्टीऑक्सिडेंट्स प्रदान करने वाले खाद्द पदार्थों की तुलना में सूखे अंजीर में ज़्यादा एन्टीऑक्सिडेंट होता है। यह एक छोटा सा फल है लेकिन अंजीर के फायदे अनेक हैं। स्वस्थ रहने के लिए अंजीर को खाने में शामिल । अधिक मात्रा में अंजीर का सेवन करने से दस्त की शिकायत हो सकती है। एक स्वस्थ व्यक्ति के लिए पूरे दिन में 4 से 5 अंजीर भरपूर है। अगर आपके किसी तरह का परहेज या परेशानी हो तो अपने डॉक्टर से अंजीर के फायदे , अंजीर के सेवन के बारें में राय ज़रूर लें।

हमारा उद्देश्य आपका सामान्य ज्ञान बढ़ाना है। संपूर्ण अंजीर के फायदे के लिए आप अपने आहार चिकित्सक से सलाह ज़रूर लें।

“गर्म पानी पीने के फायदे”

अगर ये जानकारी आपको अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।

अगर आप किसी विषय के विशेषज्ञ हैं और उस विषय पर अच्छे से लिख सकते हैं तो जागरूक पर जरुर शेयर करें। आप अपने लिखे हुए लेख को info@jagruk.in पर भेज सकते हैं। आपके लेख को आपके नाम, विवरण और फोटो के साथ जागरूक पर प्रकाशित किया जाएगा।
शेयर करें

रोचक जानकारियों के लिए सब्सक्राइब करें

Add a comment