जानिए किस प्रकार रखा गया विश्व के अलग अलग देशों की मुद्राओं का नाम

जैसा की हम सब जानते हैं दुनिया भर के अलग अलग देशों की मुद्राएं अलग अलग हैं लेकिन क्या आप ये जानते हैं की इन देशों की मुद्राओं का नाम कैसे पड़ा। आइये जानते हैं की तरह पड़ा अलग अलग देशों की मुद्रा का नाम।

Crown
Scandinavian देशों की मुद्राओं की उत्पत्ति के पीछे एक लैटिन शब्द है Corona जिसका अर्थ होता है Crown स्वीडन के क्रोना, डेनमार्क और नॉर्वे के क्रोन के पीछे भी यही लैटिन शब्द है।

Dinar
जॉर्डन, अल्जीरिया, सर्बिआ और कुवैत अपनी करेंसी को दीनार कहते हैं, दीनार शब्द प्राचीन रोम के शब्द Denarius से बना है। प्राचीन रोम में चांदी के सिक्कों को ही Denarius कहा जाता था।

Dollar
डॉलर विश्व की सबसे कॉमन करेंसी है। इसका इस्तेमाल अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, फिजी, नूज़ीलैण्ड, सिंगापुर और दूसरे देशों में किया जाता है।

Forint
हंगेरियन, फ़ोरिंट एक इटालियन शब्द से निर्मित है जिसका मतलब है फ्लोरेंस से आने वाला सोने का सिक्का, इसका मूल शब्द Fiorino है। इटली में इस नाम का एक फूल भी होता है।

Lira
इटालियन और टर्किश मुद्रा लिरा एक लैटिन शब्द लिब्रा है इसका मतलब होता है Pound।

Peso
स्पेनिश में Peso का मतलब होता है वजन, मुद्रा किसी भी देश की भारी इकाई मानी जाती है इसलिए Peso शब्द यहीं से आया है।

Pound
ब्रिटिश पाउंड एक लैटिन शब्द Poundus से लिया गया है इसका अर्थ होता है भार या वजन, इजिप्ट, साउथ सूडान और लेबनान में मुद्राओं को भी पाउंड कहा जाता है।

Rand
डॉलर की तरह ही इस साउथ अफ्रीकन करेंसी का नाम एक जगह से आया है ये जगह है Witwatersrand ये जगह पूरे विश्व में सोने की बहुलता के लिए प्रसिद्द है।

Rial
रियाल लैटिन शब्द Regalis से लिया गया है जिसका मतलब होता है रॉयल, इसकी उत्पत्ति ओमानी और ईरानियन शब्द रियाल से हुई है इसी तरह क़तर, सऊदी अरब और यमन में भी रियाल करेंसी इस्तेमाल होती है।

Ruble
रूस और बेर्लिया में चांदी के वजन को मापने वाले मात्रक के नाम पर उनकी करेंसी का नाम रूबल पड़ा।

Rupee
संस्कृत भाषा में गढ़ी हुई चांदी को रुपया कहते हैं, भारत, पाकिस्तान की मुद्रा को रूपया कहे जाने के पीछे यही कारण है। इंडोनेशिया की करेंसी भी रूपया से मिलती जुलती है।

Zloty
ज्लाटी एक पोलिश शब्द है जिसका मतलब होता है सोना।

“इन देशों के पासपोर्ट हैं सबसे ताकतवर”
“नॉर्वे है सबसे खुशहाल देश, जानिए कैसे”
“ऐसे देश जिनके पास आज भी नहीं है खुद की सेना”