कितना सोच-समझकर फैसला लेते हैँ आप?

जीवन मेँ हम हर दिन न जाने कितने ही फैसले लेते हैँ। सुबह उठते ही क्या बनाना है, ऑफिस के लिए क्या पहनना है, कौन-सा काम पहले करना है, ऐसे बहुत से छोटे-बडे फैसलोँ से हमारा दिन शुरू होता है। हालांकि कुछ फैसलोँ मेँ गलतियोँ की गुंजाइश होती है और उन्हेँ समय रहते ठीक भी किया जा सकता है। लेकिन कभी-कभी जल्दबाजी मेँ लिया हुआ फैसला हमारे जीवन को ऐसे मोड पर ले जाता है, जहाँ पछताने के सिवाय दूसरा कोई रास्ता नहीँ बचता। इसलिए यह बेहद आवश्यक है कि हम जीवन मेँ कोई भी फैसला लेने से हर पहलू पर पूरी सोच-विचार किया जाए-

समझेँ दूरगामी परिणाम

अक्सर ऐसा होता है कि किसी चीज मेँ हमेँ तात्कालिक फायदा नजर आता है और हम उस कार्य को करने के लिए तैयार हो जाते हैँ। लेकिन ऐसा जरूरी नहीँ है कि जिस कार्य मेँ अभी फायदा हो, वह आपको भविष्य मेँ भी खुशी दे। इसलिए जब भी आप कोई कार्य करने का फैसला लेँ तो उसके दूरगामी परिणाम को जरूर देंखे। साथ ही यह भी सोचेँ कि अगर कार्य वैसा नहीँ हुआ, जैसा आपने सोचा था तो क्या आप उसके दुष्परिणाम भुगतने के लिए तैयार हैँ?

न करेँ देखा-देखी

मनुष्य का यह स्वभाव होता है कि वह न सिर्फ स्वयँ की दूसरोँ से तुलना करता है, बल्कि वह दूसरोँ की देखा-देखी अपने जीवन के अहम फैसले ले लेता है। इस प्रकार के फैसले उसे सिर्फ क्षति व दुख ही पहुंचाते हैँ। इसलिए जब भी आप दूसरोँ की देखा-देखी कोई फैसला लेँ तो स्वयँ को उसके स्थान पर रखकर अपनी व उसकी स्थिति को अवश्य परखेँ। तभी आपको वास्तविक परिस्थिति का ज्ञान होगा।

पहचानेँ खुद को

जीवन मेँ कोई भी कार्य करने या फैसला लेने से पहलेँ आप अपनी क्षमताओँ को अवश्य पहचानेँ। जिस प्रकार हर मनुष्य अलग होता है, ठीक प्रकार उसके गुण व क्षमताएँ भी अलग होती हैँ। कोई पेंटिंग अच्छी करता है तो किसी को विज्ञान का ज्ञान है तो कोई एक अच्छा वक्ता है। इसलिए जब आप कोई बडा फैसला लेँ तो पहले एक बार खुद मेँ झांक कर अवश्य देखेँ।

करेँ ज्ञान का विस्तार

जीवन मेँ सिर्फ फैसला लेना ही काफी नहीँ है, बल्कि अपने फैसले को सही साबित करना भी आवश्यक है। इसके लिए आप अपने ज्ञान का विस्तार करेँ, तभी आप अपने गुणोँ को निखारकर अपने फैसलोँ पर खरे उतर पाएंगे। जब आपके ज्ञान का दायरा विस्तृत होगा तो न सिर्फ आप चीजोँ को बेहतर तरीके से कर पाएंगे, बल्कि इसका सकारात्मक प्रभाव आपके व्यक्तित्व व फैसले लेने की क्षमता पर भी पडेगा।

अगर आप किसी विषय के विशेषज्ञ हैं और उस विषय पर अच्छे से लिख सकते हैं तो जागरूक पर जरुर शेयर करें। आप अपने लिखे हुए लेख को info@jagruk.in पर भेज सकते हैं। आपके लेख को आपके नाम, विवरण और फोटो के साथ जागरूक पर प्रकाशित किया जाएगा।
शेयर करें

रोचक जानकारियों के लिए सब्सक्राइब करें

Add a comment