जानिये क्यों पूरी दुनिया इजरायल से डरती है

2015

इजराइल, मध्य पूर्व एशिया में स्थित एक छोटा सा देश है जो भूमध्य सागर और लाल सागर तथा अरब देशों से घिरा हुआ है। दुनिया मे क्षेत्रफल में 149वे पायदान तथा जनसंख्या में 98वे पायदान पर आता है। इसे हम इस तरह से समझ सकते हैं कि भारत का सबसे छोटा राज्य गोआ भी इजराइल से 17 गुना बड़ा है। जनसंख्या जो लगभग 87 लाख है और हमारे दो बड़े शहरों दिल्ली या मुम्बई की अलग अलग आबादी से भी कम है। यह अपने आस पास दुश्मन अरब और खाड़ी के देशों से घिरा है। इजराइल की 1948 में स्थापना से लेकर आज तक हुए छः संघर्षों में जीत हमेशा इजराइल की हुई यहां तक कि 1967 में जब छह खाड़ी और अरब के देशों ने एक साथ आक्रमण किया था तब भी इजराइल की ही जीत हुई थी।

इस आर्टिकल में हम आपको इजराइल की इसी ताकत के बारे में बता रहे हैं जो सीमित संसाधनों और विपरीत भौगोलिक तथा सामरिक परिस्थितयों के बावजूद दुनिया के सबसे ताकतवर, विकसित और खुशहाल देशों में गिना जाता है।

1- इजराइल की वायुसेना अमेरिका और रूस के बाद तीसरी सबसे बड़ी वायुसेना है। कुल सैन्य ताकत में भी ये दुनिया मे चौदहवें पायदान पर आता है।

2- मोसाद यानी “Institute for intelligence and operations” इजराइल की खुफिया संस्था(Intelligence Agency) है। यह दुनिया भर में खौफ का दूसरा नाम है जो अपने दुश्मन को दुनिया के किसी भी कोने से ढूंढ कर उसे खत्म करने की क्षमता रखती है। इसका सबसे बढ़िया उदाहरण मोसाद द्वारा चलाया गया ऑपरेशन “Wrath of God” है जिसमे उसने 1972 के म्यूनिख ओलंपिक में इजराइल की ओलिम्पिक टीम के 11 सदस्यों के कत्ल का बदला लिया जो एक आतंकी हमले में मारे गए थे। 1972 से 1988 तक चले इस आपरेशन में आतंकी हमले के कसूरवार हर आदमी को मोसाद ने दुनिया के हर कोने में जाकर ढूंढा और उसे मार गिराया। स्पीलबर्ग की 2005 में आई फ़िल्म “Munikh” इसी आपरेशन पर आधारित है। इजराइल की ताकत इस एजेंसी की कार्यकुशलता पर बहुत हद तक निर्भर है।

3- पूरा देश एन्टी बैलिस्टिक मिसाइल सिस्टम से लैस है अर्थात देश के किसी भी कोने पर कोई भी मिसाइल हमला नहीँ हो सकता है।

4- इजराइल के पास अपना सेटेलाइट सिस्टम है जो दुनिया के मात्र नौ चुनिंदा देशों के ही पास है। इजराइल इसे किसी से भी साझा नहीँ करता। इसकी मदद से इजराइल ड्रोन चलाता है जो बाहरी हमलों से सुरक्षा तथा हमले करने में सहायक है।

5- इजराइल के कमांडों दुनिया के बेहतरीन कमांडो में से गिने जाते हैं जो किसी भी ऑपेरशन को बिना किसी चूक के सफलतापूर्वक अंजाम देने में माहिर हैं। इनके गोरिल्ला युद्ध नीति का दुनिया मे कोई तोड़ नहीं है।

6- इजराइल के पास कई घातक टैंक हैं जिनकी मदद से उसने कई जंगे जीती हैं। इन्हीं टैंकों में से एक है “मर्केवा” टैंक जो दुनिया भर में अपनी मारक क्षमता के लिए प्रसिद्ध है।

7- आयरन डोम एक राडार आधारित मिसाइल डिफेंस सिस्टम है जो कम दूरी से होने वाले रॉकेट और मिसाइल हमले को नाकाम करने में सक्षम हैं। यह अपनी तरह का दुनिया मे बेहतरीन सिस्टम है क्योंकि ज्यादातर ऐसे सिस्टम कम दूरी से होने वाले मिसाइल या रॉकेट हमले को रोकने में नाकाम रहते हैं।

8- देलीलाह (Delilah) मिसाइल 250 किमी की सीमा के अंदर सबसे खतरनाक क्रूज मिसाइल है जो काफी हल्की तथा आकार में छोटी है।

9- एरो 3 एन्टी बैलिस्टिक मिसाइल सिस्टम एक आधुनिक सिस्टम है जो इजराइल की जरूरतों के अनुकूल है।

10- टैवर (Tavor) राइफल दुनिया की आधुनिकतम राइफलों में से है जो 550 मीटर की रेंज के अंदर 750-950 राउंड प्रति मिनट की मारक क्षमता रखती है।

“मेक्सिको देश से जुड़े कुछ रोचक तथ्य”
“ये हैं वो देश जहाँ महिलाऐं ज्यादा हैं पुरुष कम”
“इन देशों के पासपोर्ट हैं सबसे ताकतवर”

Add a comment