जीवन में हास्य का महत्व

सितम्बर 7, 2018

दुनिया में बहुत तरह के लोग रहते हैं जिनका रहन-सहन, खानपान, पहनावा, विचार और जीवन को जीने का तरीका अलग-अलग होता है लेकिन इसके बावजूद हर इंसान एक दूसरे से मुस्कान के जरिए जुड़ा रहता है। ये मुस्कान और हंसने-हंसाने की प्रवृत्ति ही दो अनजान लोगों को करीब लाती है और दो परिचितों के बीच की दूरियों को मिटाती है। भले ही हर देश और प्रान्त के लोगों की भाषा और समझ अलग-अलग हो लेकिन हंसी और मुस्कुराहट की भाषा सब के लिए एक ही होती है जिसे इस देश का नागरिक भी समझ सकता है और दूसरे देश से आया कोई सैलानी भी। जीवन में हास्य का बहुत महत्व है। आज के तनावपूर्ण जीवन में हास्य का विशेष महत्व है।

हंसना अपने आप में एक गुण है जो सभी विपरीत परिस्थितियों को नजरअंदाज करने खुश रहने और आगे बढ़ने की प्रेरणा देता है। हर हाल में खुश रहने और हंसने-हंसाने वाले लोगों को सभी पसंद करते हैं और उनके नजदीक रहना चाहते हैं। हंसने की इसी कला के कारण इंसान स्वस्थ बना रहता है क्योंकि परेशानियों को कम समझना और जीवन की छोटी-छोटी खुशियों को जी भर के जीना ही अच्छी सेहत की निशानी है।

यूँ तो हंसना-मुस्कुराना किसी दौर का मोहताज नहीं होता है लेकिन पहले की तुलना में आज हंसने की प्रवृत्ति में बहुत गिरावट जरूर आयी है जिसका कारण कहीं ना कहीं अस्त-व्यस्त जीवनशैली, भागती दिनचर्या और तनाव से भरे दिन-रात हैं जो व्यक्ति को अच्छी नींद और सुकून भरे दिनों से दूर कर देते हैं जिसकी वजह से इंसान ने सहज रहना ही छोड़ दिया है और जो सहज नहीं है उसके लिए हंसना भी संभव नहीं है। ऐसे व्यक्ति का जीवन केवल तनाव से भरा हुआ और बोझिल होता है जिसमें खुश रहने और हंसने का कोई महत्त्व नहीं रह जाता।

उम्र भले ही कोई भी हो, हर किसी को हंसने की चाहत होती है और आजकल तो लाफ्टर थेरेपी के जरिये कई बीमारियों का इलाज भी किया जाता है।

सच ही है, लाफ्टर एक थेरेपी ही तो है जो आपकी सारी बीमारियों रूपी तकलीफों को छोटा कर देती है और जीवन को ख़ुशी से जीने की चाहत को बहुत बड़ा बना देती है इसलिए हंसने और हंसाने के लिए किसी हास्य कैंप में जाने का इंतजार मत करिये, बल्कि अपने अंदर छुपे हास्य रस को बाहर निकालिये और खुल कर हँसिये और फिर देखिये आपकी मौजूदा तकलीफें कैसे काफूर हो जाती हैं और आपकी लाइफ में खुशियां कितनी तेजी से दौड़ी चली आती हैं।

उम्मीद है कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपको हंसने-मुस्कुराने और खुश रहने के लिए प्रेरित भी कर सकेगी।

विक्रम संवत् का इतिहास

अगर आप हिन्दी भाषा से प्रेम करते हैं और ये जानकारी आपको ज्ञानवर्धक लगी तो जरूर शेयर करें।
शेयर करें