कब्ज के लिए अजवाइन सबसे अच्छी दवा है?

हमारी रसोई में मौजूद हर मसाले की अपनी अलग ही कहानी है। हर मसाले की तरह अजवाइन भी ऐसा जादुई मसाला है जो अपनी अलग खुशबू रखता है और इसका जायका भी थोड़ा हटके है। इसके स्वाद में थोड़ी कड़वाहट होने के बावजूद भी इसका महत्त्व कम नहीं होता। ढ़ेरों पोषक तत्वों से भरपूर इस मसाले की बहुत सी खासियतें हैं और इसे पेट से जुड़ी समस्याओं की रामबाण औषधि कहा जा सकता है। ऐसे में क्यों ना आज, कब्ज के लिए अजवाइन से मिलने वाले फायदों के बारे में जाने। तो चलिए, आज बात करते हैं कब्ज के लिए अजवाइन कितनी फायदेमंद है–

Visit Jagruk YouTube Channel

अजवाइन में कार्बोहाइड्रेट, शर्करा, आयोडीन, सोडियम, सेपोनिन, पोटैशियम, थायमिन, थाइमोल, टेनिन, फास्फोरस और रिबोफ्लेविन जैसे कई पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो हमारे शरीर से जुड़ी बहुत सी समस्याओं में राहत पहुंचाते हैं जैसे सिर दर्द, मुँह की दुर्गन्ध, गठिया, मासिक धर्म में अनियमितता, अनिद्रा, भूख में कमी। इतना ही नहीं, पेट से जुड़ी बहुत सी समस्याओं को दूर करने का बेहतरीन विकल्प है अजवाइन।

पेट में गैस बनना और कब्ज रहना एक आम समस्या मानी जाने लगी है लेकिन ये आम समस्या असल में शरीर के लिए बहुत नुकसानदेह साबित हो सकती है क्योंकि अस्वस्थ पेट बहुत सी बीमारियों को खुला निमंत्रण देता है इसलिए पेट का स्वस्थ होना सबसे पहली जरुरत होती है।

पेट अगर सही ना रहता हो तो गैस, एसिडिटी, जलन, खाने के बाद पेट भारी होना, डकारें आना, सीने में जलन होना, भूख कम लगना और पेट साफ ना होने जैसी मुश्किलें बनी रहती हैं।

ज्यादा मिर्च मसालों वाला खाना खाने, समय पर भोजन नहीं करने, ज्यादा कोल्ड ड्रिंक पीने और तला भुना, बिना फाइबर का खाना खाने से पेट कब्ज और एसिडिटी जैसे रोगों का शिकार होता जाता है।

ऐसे में कब्ज के लिए अजवाइन (कैरम सीड) का सेवन राहत पहुंचा सकता है। इसमें मौजूद थिम्बोल केमिकल पाचन क्रिया को सुचारु रूप से चलाने में सहयोग करता है और गैस की समस्या को भी दूर करता है।

कैसे करे अजवाइन का प्रयोग-

  • एसिडिटी होने पर अजवाइन को चबाकर खाएं और उसके बाद एक कप गर्म पानी पी लें।
  • इसके अलावा अजवाइन और जीरे को एकसाथ भूनकर, पानी में उबाल लें। इस पानी को छानकर, इसमें चीनी मिलाकर पीएं।
  • पेट में कीड़े हों तो काले नमक के साथ अजवाइन खाएं।
  • डाइजेस्टिव सिस्टम से जुड़ी किसी भी तरह की तकलीफ को दूर करने के लिए मट्ठे के साथ अजवाइन का सेवन करें।
  • गैस की समस्या को दूर करने के लिए 1-2 ग्राम खुरसानी अजवाइन में गुड़ मिलाकर, इसकी गोलियां बनाकर खाएं।
  • इसके अलावा गैस होने पर हल्दी, अजवाइन और एक चुटकी काला नमक लेने से तुरंत आराम मिलेगा।
  • कब्ज रहने पर रोजाना खाना खाने के बाद गुनगुने पानी के साथ आधा चम्मच अजवाइन का सेवन करें।

दोस्तों, अब आप जान चुके हैं कि पेट से जुड़ी ज्यादातर समस्याओं का हल अजवाइन में छुपा है इसलिए बिना देर किये अजवाइन को अपना लीजिये ताकि पेट की तकलीफें आपका पीछा छोड़ दें।

हमने आपसे सिर्फ ज्ञानवर्धक जानकारी साझा की है। कोई भी प्रयोग आजमाने से पहले अपनी सूझ-बुझ का इस्तेमाल जरूर करे और अपने डॉक्टर से परामर्श जरूर ले। सदैव खुश रहे और स्वस्थ रहे।

उम्मीद है कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद भी साबित होगी।

“एंटीबायोटिक क्या होती हैं और ये हमारे शरीर पर कैसे काम करती हैं?”