निवेशक अभी कहाँ निवेश करें

निवेशक दुविधा में है। मार्केट में काफी विचलन की स्थिती है। क्रूड व डॉलर नित्य प्रति ऊँचाई पर जा रहे हैं। Mid Cap Stocks काफी नीचे आ गये  हैं। निवेशकों में थोड़ी सी भ्रम की स्थिती है। मेरा बिल्कुल स्पष्ट मानना है कि Short Term Trader / Investors के लिए ये समय ठीक नहीं है।

इसी कारण हम शुरू से ही निवेशकों को राय देते आये हैं कि Equity के लिए कम से कम 5-7 वर्ष का समय होना चाहिए। निवेशकों को धैर्य के साथ अच्छे इंवेस्टमेंट्स पर SIT Tight होकर बैठ जाना चाहिए। निम्न उदाहरण से निवेशकों को समझाने की कोशिश की है कि वे अपना निवेश कैसे करें।

Time Horizon Expected Return Type of Investments
कम से कम 18 माह से 36 माह 9% to 11 % Equity Savings
कम से कम 36 माह से 60 माह 12% to 15% Balanced Fund
Above 5 Years 15% + Equity Large Cap – P/E Funds
Above 7 Years 18% + Contra Fund – Mid – Small Cap

उपरोक्त सारणी में मैंने समझाने की कोशिश की है कि निवशकों को अपने Time Horizon के हिसाब से ही निवेश करना चाहिए। अगर उनका Time Horizon 5-7 Years Period है तभी Equity में जाना चाहिए, वरना Conservative Approach रखें। Senior Citizen और वो व्यक्ति जो बिल्कुल भी Risk नहीं लेना चाहते हैं उनको Equity Savings में निवेश करना चाहिए। DSPBR Equity Savings और ICICI Prudential Balanced Advantage इसका Best उदाहरण हैः 9 – 11% Annualised Return आता रहेगा। सीधे सादे Passive Investors के लिए Balanced Fund Best Approach है।

हम साल के शुरू से ही निवेशकों को राय दे रहे हैं कि 2018 काफी चिनौतीपूर्ण वर्ष होगा। चुनाव से पहले के 1 साल व चुनाव के बाद के 1 साल में Consumer Theme हमेशा अच्छी रहती है। सरकार खूब पैसा खर्च करती है। सो निवेशकों को Consumer Theme में वर्तमान समय में पैसा लगाना चाहिए।

निवेशकों को Mentally 5 to 10% Correction के लिए हमेशा तैयार रहना चाहिए। लेकिन मेरा स्पष्ट मानना है कि अगले 5-7 वर्ष Indian Stock Market व Mutual Fund Industry के लिए बहुत ही सुनहरे पल साबित होंगे। निवेशकों ने जो पैसा पिछले 15-20 वर्षों में नहीं कमाया उससे ज्यादा पैसा आगामी 5-7 वर्षों में कमाएंगे। सो निवेशकों को बिल्कुल भी घबराना नहीं चाहिए। निवेशकों को चाहिए  कि वह अपना Time Horizon व Risk Capacity Decide करके अपने Financial Doctor के साथ हर 18 माह में एक Sitting करके अपना Investment जरूर Review कर लें। ऐसा करने से निश्चित ही 2 – 5% Extra Return आने की पूरी संभावना है।

sodhani-1 निवेशक अभी कहाँ निवेश करेंये लेख फाइनेंशियल एडवाइजर श्री राजेश कुमार सोढानी, सोढानी इंवेस्टमेंट्स, जयपुर द्वारा प्रस्तुत है। फाइनेंशियल प्लानिंग पर आधारित ये लेख आपको कैसा लगा? अगर इस लेख से आपको कोई भी मदद मिलती है तो हमें बहुत खुशी होगी। अपनी प्रतिक्रिया जरूर दे। हमारी शुभकामनाएँ आपके साथ है, हमेशा स्वस्थ रहे और खुश रहे।

“रिटायरमेंट प्लानिंग क्या है और क्यों जरूरी है?”