जानिए क्या होता है सर्जिकल स्ट्राइक ?

अभी हाल ही में हुए उरी हमलों के बाद से सर्जिकल स्ट्राइक के बारे में बहुत चर्चा की जा रही है और अभी दो दिन पहले ही भारतीय सेना ने पाकिस्तानी सीमा में घुसकर इस को अंजाम भी दिया। भारतीय सेना ने वहां पर मौजूद आतंकी ठिकानों को तबाह भी किया जिन को तबाह करने की मांग कई सालों से उठ रही थी।

यह माना जा रहा है कि इस सर्जिकल स्ट्राइक में भारतीय जवानों ने पाकिस्तान के कुल 38 आतंकी मार गिराए और यह आंकड़ा शायद ज्यादा भी हो सकता है। खबरों के अनुसार भारत के हिस्से वाले पाक ऑक्यूपाइड कश्मीर के 2 किलोमीटर अंदर घुसकर 7 आतंकी बेस को भारत ने तबाह कर दिया। इस कार्यवाही के दौरान 2 पाकिस्तानी सैनिक मारे गए। जैसे ही यह खबर भारतीय मीडिया और देशवासियों को मिली तो सब में उत्साह का प्रवाह हो गया। लेकिन सभी के मन में यह सवाल आ रहा है की सर्जिकल स्ट्राइक आखिर होता क्या है ? अगर एक वाक्य में तो वह होगा की इस हमला जिसमे दुश्मन को सँभालने का मौका ही न मिले।

चलिए सर्जिकल स्ट्राइक के बारे में विस्तारपूर्वक जानते है।

दुश्मन के छेत्र में किसी निश्चित स्थान पर एकदम सटीक हमला बोलना कहलाता है सर्जिकल स्ट्राइक।

इस प्रक्रिया के दौरान दुश्मन क्षेत्र में टारगेट को पहले से ही सूचीबद्ध कर लिया जाता है इसके बाद वहां पर रणनीति के तहत हुम्ला किया जाता है।

चुनिंदा सैनिकों को ही इसकी जिम्मेदारी दी जाती है इसके बाद सेना की एक टुकड़ी को सीधा उसी लक्ष्य पर उतारा जाता है जिस पर इस हमले की सारी जिम्मेदारी होती है।

जैसे ही हमला करने के आदेश मिलते हैं जवान लक्ष्य पर टूट पड़ते हैं और चंद मिनटों में ही उसे पूरी तरह नष्ट कर देते हैं।

इन हमलों के दौरान इस बात का ध्यान रखा जाता है कि नागरिकों के ठिकानों पर किसी भी प्रकार का नुकसान ना हो।

इस प्रकार के हमलों में कोई कोई भी गड़बड़ी आपको एक भयावह स्थिति में डाल सकती है इसीलिए सेना हर प्रकार के पहलुओं पर पहले से ही गौर करके अपने कमांडोस को वहां भेजती है।

यह माना जा रहा है कि भारतीय सेना ने पिछले वर्ष म्यांमार में किए गए सर्जिकल ऑपरेशन की तरह पाकिस्तान में भी सर्जिकल ऑपरेशन किया। आपको बता दें कि अमेरिका ने 2003 में इराक के ठिकानों पर हमला कर पूरी दुनिया को चौंका दिया था। इसमें भी सिर्फ सैन्य प्रतिष्ठानों को निशाना बनाया गया था।