आदतें जो हमे बनाती है असफल

0

जीवन में सफल तो हर व्यक्ति होना चाहता है लेकिन हर कोई सफल नहीं हो पाता। कुछ ऐसी आदतें जो हमे बनाती है असफल, जो हमे कभी आगे नहीं बढ़ने देती और हमे लूजर बनाती हैं। बस हमे उन परेशानियों को दूर करना है और खुद में थोड़ा सा बदलाव लाना है ताकि हम भी अपने जीवन में लूजर नहीं बल्कि विनर बन सकें।

हमारी सफलता के पीछे हमारी अच्छाइयों और मेहनत का हाथ होता है और हम ये स्वीकारते भी हैं लेकिन असफलता मिलने पर हम परस्थितियों को दोष देते हैं, ऐसा क्यों? हम ये क्यों नहीं मानते की हमारी असफलता में हमारी कुछ बुराइयों और कमजोरियों का भी योगदान है। यही सोच हमे लूजर बनाती है और हम अपने लक्ष्य को पाने में पीछे छूट जाते हैं।

सफल लोगों की कुछ ख़ास बाते होती हैं जो उन्हें दूसरों से अलग बनाती है, दरअसल सफल लोग हमेशा अपनी मेहनत पर भरोसा रखते हुए आगे बढ़ते हैं और अपनी कमियों और बुराइयों पहचान कर उनसे सीख लेते हैं और उन्हें सही करते हैं। सफल वही होता है जो अपनी असफलताओं और रुकावटों से निराश ना होकर अपनी कमियों को पहचाने और उन्हें दूर करे।

आदतें जो हमे बनाती है असफल 1

आदतें जो हमे बनाती है असफल

सिर्फ जानकारी जुटाते रहना – कुछ लोग किसी काम को करने के लिए सिर्फ जानकारी ही हासिल करते रहते हैं और किताबें पढ़ते रहते हैं लेकिन कभी उस काम को करने के लिए आगे कदम नहीं बढ़ाते, ये आदत भी हमे लूजर बनाती है। अगर हम कोई फल सिर्फ देखते रहेंगे लेकिन खाएंगे नहीं तो हमे उसका लाभ नहीं मिलेगा उसी तरह जानकारी जुटाना एक अच्छी आदत है लेकिन उसके लिए जब तक आगे कदम नहीं बढ़ाएंगे तब तक सफलता नहीं मिलेगी।

नकारात्मक विचार – जब तक हम अपने जीवन से नकारात्मकता दूर नहीं करेंगे जब तक हम सफल नहीं हो पाएंगे। कुछ लोग हमेशा खुद ही को कोसते रहते हैं और यही मानते हैं की उनके जीवन में सबसे ज्यादा परेशानियां है और हमेशा अपने भाग्य को दोष देते हैं। ऐसी सोच हमे कभी सफल नहीं होने देती बल्कि जीवन में निराशा भर जाती है और हम अपना आत्मविश्वास भी खो देते हैं।

खुद से नाराजगी – हम जब भी असफल होते हैं या कोई परेशानी आती है तो हम खुद की कमियों को कोसते हैं बल्कि उन्हें दूर करने के बारे में नहीं सोचते और ये आदत हमे लूजर बनाती है।

अति आत्मविश्वास – अति आत्मविश्वास यानी ओवर-कॉन्फिडेंस भी हमे कभी सफल नहीं होने देता, खुद पर विश्वास रखना जरुरी है लेकिन कुछ लोगों को खुद पर जरुरत से ज्यादा ही विश्वास होता है और उनका ये मानना होता है ये काम सिर्फ मैं ही कर सकता हूँ या मेरे लिए ये काम कोई मुश्किल नहीं है।

ऐसे लोग सिर्फ बोलना जानते हैं दूसरों की सुनना नहीं जानते। लेकिन जरुरत से ज्यादा आत्मविश्वास रखना भी घातक हो सकता है क्योंकि इस सोच से हम अपनी कमियों को नहीं देख पाते और हमे उसका खामियाजा भुगतना पड़ता है और हम अपनी मंजिल के रास्ते से दूर हो जाते हैं।

शर्म – कुछ लोगों को हमेशा ये डर लगा रहता है की ये काम करने से लोग क्या कहेंगे या हंसी उड़ाएंगे और ऐसे में वो उस काम को ना करने के बहाने ढूँढ़ते हैं। लेकिन हमारी ये आदत हमे लूजन बनाती है।

सिर्फ दूसरों की गलतियाँ देखना – कुछ लोग खुद की सफलता ले लिए इतना नहीं सोचते जितना दूसरों की असफलता के बारे में सोचते हैं। लोग अक्सर खुद की कमियों को नजरअंदाज कर हमेशा दूसरों की गलतियों पर नजर रखते हैं और उपहास उड़ाते हैं। लेकिन ये आदत हमे दूसरों से पीछे छोड़ देती है और हम इस चक्कर में खुद के सुधार के बारे में नहीं सोच पाते और पिछड़ जाते हैं।

उम्मीद है जागरूक पर आदतें जो हमे बनाती है असफल कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद भी साबित होगी।

नकारात्मक सोच से छुटकारा कैसे पाएं?

जागरूक यूट्यूब चैनल

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here