क्या आप असफलता के कारणों को जानते है?

557

असफलता और कठिनाइयां सभी के रास्ते में आती है लेकिन जो लोग इसे पार कर अपनी सोच, मेहनत और दृढ़ निश्चय के साथ आगे बढ़ जाते हैं वो सफल हो जाते हैं और जो लोग सिर्फ बहाने बनाते रहते हैं वो कभी सफल नहीं हो पाते। असफल व्यक्ति की सबसे बड़ी पहचान होती है बहाने बनाकर किसी भी काम से किनारा कर लेना। हम भी जाने अनजाने कई ऐसे बहाने बनाते हैं जो हमे असफलता की ओर ले जाते हैं, क्या आप अपने बहाव को पहचानते हैं ? तो आइये जानते हैं असफलता के कुछ कारणों के बारे में और किस तरह हम इस आदत से छुटकारा पाकर मौके की तलाश करते हुए आगे बढ़ सकते हैं जिससे हमारा भविष्य बेहतर हो।

1. पैसा
अक्सर लोग आगे बढ़ने में रुकावट के लिए पैसों को जिम्मेदार ठहराते हैं आपने अक्सर अपने दोस्तों से सुना होगा की अगर पैसा होता तो हम भी किसी मुकाम पर होते या पैसा होता तो मैं ये काम कर लेता लेकिन पैसा ही नहीं है। दरअसल ये एक आम बहाना है जो ना सिर्फ हमे कमजोर बनाता है बल्कि हमे कभी सफल नहीं होने देता। दुनिया भर में कई ऐसे उदाहरण हैं जिन्होंने अपना शुरआती जीवन गरीबी में बिताया लेकिन अपनी मेहनत और दृढ संकल्प के दम पर एक मुकाम हासिल किया। तो ये बहाना बना छोड़ दें की पैसा होता तो मैं कुछ कर लेता।

2. समय
अक्सर ये बहाना भी सभी लोग बनाते हैं की मैं बहुत व्यस्त हूँ और मेरे पास कुछ नया करने के लिए समय ही नहीं है लेकिन इसके पीछे की सच्चाई ये है की समय तो है लेकिन हम समय का सही इस्तेमाल नहीं करते जिसे टाइम मैनेजमेंट बोला जाता है। तो ये बहाना भी बनाना बंद करें की समय नहीं है बल्कि ये सोचें की समय का सही उपयोग कर हम कैसे नए काम के लिए समय निकालें।

3. पहली बार
अपने अंदर के डर को छुपाने का ये सबसे बड़ा बहाना होता है की ये काम मैंने पहले कभी नहीं किया तो ये काम मैं नहीं कर सकता। दरअसल हर काम कभी ना कभी पहली बार ही करना पड़ता है और जब तक हम किसी काम की शुरआत नहीं करेंगे उसमे सफल नहीं हो सकते। तो अपने मन में से ये डर निकाल दें की किसी नए काम को करने से हम असफल हो जायेंगे बल्कि सटीक प्लानिंग के साथ काम की शुरआत करें सफलता तभी मिलेंगी नहीं तो कम से कम अनुभव तो जरूर मिलेगा।

4. समाज
किसी काम को ना करने का ये बहाना भी एक आम बहाना है की समाज के लोग क्या कहेंगे लेकिन सच तो ये है की आलोचना करने वाले तो हर मोड़ पर मिलेंगे लेकिन जब आप सफल हो जायेंगे तो वही लोग आपकी तारीफ़ करते नहीं थकेंगे। इसलिए दूसरों की आलोचना की चिंता छोड़कर अपने काम को पूरी लगन के साथ करें और अपने आप को साबित करें।

6. सफलता की गारंटी
लोग अक्सर ये सोचकर किसी काम की शुरआत नहीं करते की इस काम में सफलता मिलेगी ही इसकी क्या गारंटी है लेकिन एक नजर से देखा जाये तो गारंटी तो हमारे जीवन की भी नहीं हैं फिर भी हम रोज कमाने के लिए जाते हैं और परिवार की जिम्मेदारियां उठाते हैं। बस इसी सोच के साथ आगे बढ़ें क्योंकि गारंटी तो इसकी भी नहीं है की आप असफल ही होंगे। तो इस सोच को अपने दिमाग से निकालें और अपनी मंजिल की ओर कदम बढ़ाएं तभी सफलता मिलेगी।

7. सही वक्त
किसी काम से बचने का ये बहाना भी सबसे आम है की अभी ये काम शुरू करने का सही समय नहीं है अभी समय ख़राब चल रहा है तो सही समय आने पर इस काम को करूँगा। लेकिन हकीकत ये है की किसी काम को जब शुरू किया जाये वही सही समय होता है। सही समय के इन्तजार में हम सिर्फ समय बर्बाद करते हैं इसलिए जब भी कोई काम शुरू करें की सोचें तो सही योजना के साथ शुरुआत कर दें क्योंकि याद रखें जितनी जल्दी काम को शुरू करेंगे सफलता भी उतनी जल्दी मिलेगी।

8. संतुष्टि
हम अक्सर अपनी परिस्थिति को अपनाकर संतुष्ट हो जाते हैं और सोचते हैं की ठीक है जैसा चल रहा है सही है लेकिन ये सोच हमे कभी आगे नहीं बढ़ने देती और फिर परिस्थतियाँ हमारे विपरीत हो जाती हैं।

9. अकेला हूँ
ये सोच कभी हमे आगे नहीं बढ़ने देती की मैं अकेला हूँ और मैं अकेला इस काम को कैसे पूरा कर सकता हूँ लेकिन ध्यान रखें आपकी पहचान तभी बनेगी जब आप किसी काम को अकेले पूरा करेंगे भीड़ तो सफल होने के बाद साथ होती है। दुनिया में कई ऐसे उदहारण हैं जिन्होंने अकेले अपनी सोच और मेहनत से बड़े बड़े मुकाम हासिल किये हैं और आज दुनिया के लिए आदर्श बने हैं। तो अपने अंदर विश्वास जगाएं और अपनी मंजिल की ओर कदम बढ़ाएं चाहे कोई साथ हो या ना हो।

“असफलता को सफलता में कैसे बदलें”
“सफल होना है तो छोड़ना होगा कम्फर्ट जोन, जानिये कैसे ?”
“आत्मविश्वास बढ़ाने के 8 असरदार तरीके”

Add a comment